Wednesday, July 28, 2021
Homeफ़ैक्ट चेकसोशल मीडिया फ़ैक्ट चेकसावधान: हुर्रियत नेता की पत्नी को महाराजा हरि सिंह की पोती बताकर फैलाया जा...

सावधान: हुर्रियत नेता की पत्नी को महाराजा हरि सिंह की पोती बताकर फैलाया जा रहा है 370 पर फर्जी वीडियो

वीडियो में दिख रही महिला, भारत में तत्कालीन रियासत जम्मू-कश्मीर द्वारा दिए गए इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ एक्सेसन के बारे में बात करते हुए दिख रही है। यह वीडियो ऐसे समय पर शेयर किया जा रहा है जब...

सोशल मीडिया पर आजकल एक विडियो पोस्ट शेयर किया जा रहा है। इस वीडियो का शीर्षक है- “जम्मू और कश्मीर के अंतिम डोगरा शासक, महाराजा हरि सिंह की पोती।”

फेसबुक के साथ ही यह वीडियो ट्विटर पर भी शेयर किया जा रहा है। ट्विटर पर दावा किया जा रहा है कि आर्टिकल-370 पर बात करने वाली यह महिला जम्मू और कश्मीर के अंतिम डोगरा शासक, महाराजा हरि सिंह की पोती है।

इस विडियो में एक महिला को कश्मीर पर बात करते हुए देखा जा रहा है। ट्विटर और फेसबुक पर इस विडियो को सोशल मीडिया पर साझा करते हुए दावा किया जा रहा है कि यह महिला महाराजा हरि सिंह की पोती है, जो जम्मू-कश्मीर राज्य के अंतिम शासक थे।

वीडियो में दिख रही महिला, जिसे सोशल मीडिया यूजर ने हरि सिंह की पोती बताया है, भारत में तत्कालीन रियासत जम्मू-कश्मीर द्वारा दिए गए इंस्ट्रूमेंट ऑफ़ एक्सेसन के बारे में बात करते हुए दिख रही है। यह वीडियो ऐसे समय पर शेयर किया जा रहा है जब केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 के प्रावधानों में बदलाव करते हुए कुछ महत्वपूर्ण फैसले लिए हैं।

क्या है वीडियो की सच्चाई:

दरअसल, यह वीडियो गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। इस पर महाराजा हरि सिंह के पोते और भारतीय राष्ट्रीय कॉन्ग्रेस के नेता विक्रमादित्य सिंह ने खुद भी ट्विटर पर स्पष्टीकरण दे दिया है। विक्रमादित्य सिंह ने इस वीडियो को ट्वीट करते हुए लिखा है- “जम्मू-कश्मीर के महाराजा हरि सिंह जी की पोती, मेरी बहन डॉ. ज्योत्सना सिंह हैं। यह वह नहीं है। कृपया इस नकली/दुर्भावनापूर्ण वीडियो को अनदेखा करें।”

वास्तव में, वीडियो में भाषण दे रही महिला महाराजा हरि सिंह की पोती नहीं बल्कि हुर्रियत नेता नईम अहमद खान की पत्नी प्रोफ़ेसर हमीदा नईम है। हमीदा नईम कश्मीर के विश्वविद्यालय में प्रोफेसर हैं। इस विडियो को जुलाई 11, 2018 को यूट्यूब पर अपलोड किया गया था और इसका शीर्षक है- “कश्मीर मुद्दा: अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में प्रोफेसर हमीदा नईम भाषण देते हुए।”

इस विडियो को आप यूट्यूब पर भी देख सकते हैं-

इस इवेंट से सम्बन्धित तस्वीर और पोस्ट तत्कालीन एएमयूएसयू के अध्यक्ष मसकूर अहमद उस्मानी ने भी अपने फेसबुक पेज पर शेयर किया था।

निष्कर्ष:

यह वीडियो महाराजा हरि सिंह की पोती डॉक्टर ज्योत्सना का नहीं बल्कि हुर्रियत नेता की पत्नी का है, जो कि कश्मीर के विश्वविद्यालय में प्रोफ़ेसर हैं। यह भ्रामक जानकारी और तथ्यों के साथ सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है, जिस पर स्वयं महाराजा हरि सिंह के पोते ने भी स्पष्टीकरण दे दिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उत्तर-पूर्वी राज्यों में संघर्ष पुराना, आंतरिक सीमा विवाद सुलझाने में यहाँ अड़ी हैं पेंच: हिंसा रोकने के हों ठोस उपाय  

असम के मुख्यमंत्री नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस के सबसे महत्वपूर्ण नेता हैं। उनके और साथ ही अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों के लिए यह अवसर है कि दशकों से चल रहे आंतरिक सीमा विवाद का हल निकालने की दिशा में तेज़ी से कदम उठाएँ।

बकरीद की ढील का दिखने लगा असर? केरल में 1 दिन में कोरोना संक्रमण के 22129 केस, 156 मौतें भी

पूरे देश भर में रिपोर्ट हुए कोविड केसों में 53 % मामले अकेले केरल से आए हैं। भारत में कुल मामले जहाँ 42, 917 रिपोर्ट हुए। वहीं राज्य में 1 दिन में 22129 केस आए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,634FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe