होली खेल रहे BJP विधायक को दिन-दहाड़े गोली मारकर हमलावर हुए फरार

लखीमपुर की एसपी पूनम का कहना है कि भाजपा विधायक योगेश वर्मा उस समय अपनी पार्टी के दफ्तर में कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ होली खेल रहे थे, जब उन्हें गोली मारी गई।

उत्तर प्रदेश में गुरुवार (मार्च 21, 2019) दोपहर 3 बजे लखीमपुर के विधायक योगेश वर्मा को होली मिलन के दौरान कुछ बदमाशों ने गोली मार दी, जिससे वो घायल हो गए। उन्हें पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ अब उन्हें खतरे से बाहर बताया जा रहा है।

इस घटना में संतोषजनक बात यह रही कि गोली योगेश के पैर में घुटने के नीचे लगी जिससे उनकी जान बच गई। मामला दर्ज होने के बाद इसकी जाँच शुरू हो चुकी है। पुलिस का कहना है कि हमलावार मौके पर ही फरार हो गए थे।

लखीमपुर की एसपी पूनम का कहना है कि भाजपा विधायक योगेश वर्मा उस समय अपनी पार्टी के दफ्तर में कार्यकर्ताओं और समर्थकों के साथ होली खेल रहे थे, जब उन्हें गोली मारी गई। अस्पताल में अभी उनका इलाज चल रहा है और हालत खतरे से बाहर बताई जा रही है। पूनम ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है और जाँच जारी है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इसके अलावा एएनआई द्वारा ट्वीट में लखीमपुर खीरी के जिलाधिकारी एस सिंह ने बताया कि योगेश वर्मा लोगों से मिल रहे थे, उसी दौरान उनकी बहसबाजी शुरू हो गई और उन्हें गोली मार दी गई।

उन्होंने बताया कि योगेश अभी खतरे से बाहर हैं और कुछ भी बता नहीं पा रहे हैं, लेकिन जाँच जारी है। खबरों की मानें तो अंदाजा लगाया जा रहा है कि हमला करने वाले बदमाश खनन माफिया गिरोह के हो सकते हैं।

बता दें कि पिछले साल नवंबर में राजस्थान के प्रतापगढ़ से भी लगभग इसी तरह का मामला का सामने आया था, जहाँ भाजपा के नेता समरथ कुमावत की बाइक सवार बदमाशों ने क्रूरता से हत्या कर दी थी। यह हमला भी दिन दहाड़े हुआ था जहाँ पहले 4 बदमाशों ने उन्हें गोली मारी थी और फिर तलवार से उनकी गर्दन को अलग कर दिया था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू छात्र विरोध प्रदर्शन
गरीबों के बच्चों की बात करने वाले ये भी बताएँ कि वहाँ दो बार MA, फिर एम फिल, फिर PhD के नाम पर बेकार के शोध करने वालों ने क्या दूसरे बच्चों का रास्ता नहीं रोक रखा है? हॉस्टल को ससुराल समझने वाले बताएँ कि JNU CD कांड के बाद भी एक-दूसरे के हॉस्टल में लड़के-लड़कियों को क्यों जाना है?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,491फैंसलाइक करें
22,363फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: