TCS करेगी पटना में निवेश, बिहार में किसी बहुराष्ट्रीय IT कंपनी द्वारा यह पहला बड़ा निवेश होगा

रोजगार के लिए बिहार से बढ़ते पलायन को रोकने लिए केंद्र सरकार ने बड़ी पहल की है। TCS के पटना में निवेश करने से वहाँ रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।

केंद्रीय कानून व न्याय, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि देश की सबसे बड़ी आईटी कंपनी टाटा कंसल्टेन्सी सर्विसेज (TCS) जल्दी ही पटना में अपना एक बड़ा केंद्र शुरू करने जा रही है। इसकी जानकारी रविशंकर प्रसाद ने खुद अपने ट्विटर एकाउंट द्वारा दी है।

रोजगार के लिए बिहार से बढ़ते पलायन को रोकने लिए केंद्र सरकार ने बड़ी पहल की है। TCS के पटना में निवेश करने से वहाँ रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। टाटा संस के चेयरमैन एन. चंद्रशेखरन ने शनिवार (जून 22, 2019) को केंद्रीय कानून व न्याय, संचार और इलेक्ट्रॉनिक्स व सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद से दिल्ली में मुलाकात की। इस दौरान रविशंकर प्रसाद और चंद्रशेखरन ने भारत के डिजिटल सेक्टर से जुड़े विषयों के साथ ही डिजिटल भविष्य के निर्माण के लिए नई पहलों पर भी चर्चा की।

बिहार में किसी बहुराष्ट्रीय आईटी कंपनी द्वारा यह पहला बड़ा निवेश होगा

बिहार में किसी बहुराष्ट्रीय आईटी कंपनी द्वारा यह पहला बड़ा निवेश होगा। केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि TCS जैसी बड़ी कंपनी का बिहार में निवेश एक अच्छी शुरुआत है। इससे प्रेरित हो कर अन्य आईटी कंपनियाँ भी राज्य में निवेश करने के लिए आगे आएँगी। इससे राज्य में रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे। संभावना है कि जल्द ही टीसीएस के केंद्र का उद्घाटन होगा।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शी जिनपिंग
शी जिनपिंग का मानना है कि इस्लामिक कट्टरता के आगोश में आते ही व्यक्ति होश खो बैठता है। चाहे वह स्त्री हो या पुरुष। ऐसे लोग पालक झपकते किसी की हत्या कर सकते हैं। शी के अनुसार विकास इस समस्या का समाधान नहीं है।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,322फैंसलाइक करें
22,932फॉलोवर्सफॉलो करें
120,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: