Wednesday, September 29, 2021
Homeदेश-समाजUP के 'ऑपरेशन' क्लीन में अतीक गैंग की ₹46 करोड़ की संपत्ति कुर्क, 1...

UP के ‘ऑपरेशन’ क्लीन में अतीक गैंग की ₹46 करोड़ की संपत्ति कुर्क, 1 साल में ₹2000 करोड़ की अवैध प्रॉपर्टी पर हुई कार्रवाई

यूपी पुलिस अतीक अहमद के अतिरिक्त विधायक विजय मिश्रा, पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्रा, मो जावेद उर्फ पप्पू गंजिया, पूर्व सपा विधायक विजमा यादव, रामलोचन यादव, गणेश यादव की कुंडली नए सिरे से खंगाल रही है।

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार लगातर राज्य के अपराधियों और उनके द्वारा अर्जित अवैध संपत्तियों के विरुद्ध कार्रवाई कर रही है। इसी क्रम में प्रयागराज पुलिस ने अपने ऑपरेशन क्लीन में बाहुबली पूर्व सांसद अतीक अहमद की गैंग को निशाने पर लिया हुआ है। पिछले 1 हफ्ते में अतीक गैंग के सदस्यों की 46 करोड़ रुपए की संपत्ति कुर्क की गई और अब आगे 22 सदस्य ऐसे हैं जिनकी कुंडली प्रयागराज पुलिस लगातार खंगाल रही है। 

बता दें कि कोरोना संकट के चलते कुछ समय से प्रशासन की ओर से गुंडों माफियाओं के ख़िलाफ़ कार्रवाई पर रोक लगी थी। हालाँकि 5 जून को इस पर दोबारा कार्रवाई शुरू हुई। अब अतीक अहमद के बाद विधायक विजय मिश्रा, पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्रा, रामलोचन यादव जैसे माफिया और इनकी गिरोह से जुड़े लोग भी पुलिस की रडार पर हैं।

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस अतीक अहमद के अतिरिक्त विधायक विजय मिश्रा, पूर्व ब्लाक प्रमुख दिलीप मिश्रा, मो जावेद उर्फ पप्पू गंजिया, पूर्व सपा विधायक विजमा यादव, रामलोचन यादव, गणेश यादव की कुंडली नए सिरे से खंगाल रही है।

1 हफ्ते में किस-किसकी संपत्ति हुई कुर्क

5 जून को पूर्व विधायक खालिद अजीम उर्फ मो अशरफ़ की धूमनगंज थाना क्षेत्र के कसारी मसारी में स्थित करीब 25 करोड़ रुपए की भूमि पर सरकारी बोर्ड लगाकर कुर्की की कार्रवाई की गई थी। 7 जून को मो अशरफ की ही 11 बिस्वा जमीन जिसकी कीमत 2.25 करोड़ रुपए है, उसकी कुर्की हुई थी

इसी क्रम में 8 जून को अतीक गैंग के खास शूटर आरोपित माजिद अनवारुल हक उर्फ बच्चा मुंशी व अकबर की करीब 5.41 करोड़ की 3 बीघा 3.5 बिस्वा जमीन पर पुलिस ने कुर्की के बाद सरकारी नोटिस बोर्ड लगाया था। 11 जून को अतीक के शूटर जुल्फिकार पर कार्रवाई करते हुए उसकी 14 करोड़ रुपए की 70 बिस्वा जमीन की कुर्की हुई थी।

उल्लेखनीय है कि, इन माफियाओं की अवैध संपत्तियों के विरुद्ध कार्रवाई पिछले साल सितंबर से शुरू हुई थी। इसके बाद अपराध और गुंडई के बल पर अर्जित की गई संपत्तियों पर या तो कुर्की की कार्रवाई हुई है या फिर इनके अवैध निर्माणों को ध्वस्त करवाया गया है। सब मिलाकर 2000 करोड़ रुपए की संपत्ति पर प्रशासन ने अपनी कार्रवाई की है।

एसपी सिटी दिनेश कुमार सिंह बताते हैं कि यह कार्रवाई गैंगस्टर एक्ट 14 (1) के तहत हुई है। धूमनगंज के इंस्पेक्टर अनुपम शर्मा ने कहा कि कुर्की की जाने वाली जमीन की किसी भी प्रकार की बिक्री और निर्माण पर पूर्णतया रोक रहती है और इसका उल्लघंन करने वालों पर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘उमर खालिद को मिली मुस्लिम होने की सजा’: कन्हैया के कॉन्ग्रेस ज्वाइन करने पर छलका जेल में बंद ‘दंगाई’ के लिए कट्टरपंथियों का दर्द

उमर खालिद को पिछले साल 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था, वो भी उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के मामले में। उसपे ट्रंप दौरे के दौरान साजिश रचने का आरोप है

कॉन्ग्रेस आलाकमान ने नहीं स्वीकारा सिद्धू का इस्तीफा- सुल्ताना, परगट और ढींगरा के मंत्री पदों से दिए इस्तीफे से बैकफुट पर पार्टी: रिपोर्ट्स

सुल्ताना ने कहा, ''सिद्धू साहब सिद्धांतों के आदमी हैं। वह पंजाब और पंजाबियत के लिए लड़ रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एकजुटता दिखाते हुए’ इस्तीफा दे रही हूँ।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
125,044FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe