भारत विरोधी नारे लगा रहे लोगों से सियोल में अकेले भिड़ गईं BJP नेता शाजिया इल्मी

जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर चीन और पाकिस्तान को छोड़कर पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी नजर आ रही है, लेकिन यह बात पाकिस्तान समर्थकों के गले नहीं उतर रही है। यही कारण है कि दुनिया के विभिन्न हिस्सों में छिट-पुट विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

भाजपा नेता शाजिया इल्मी सोशल मीडिया पर एक वीडियो को लेकर सबकी तारीफें बटोर रही हैं। दक्षिण कोरिया की राजधानी सियोल में कुछ पाकिस्तानी नागरिक भारत विरोधी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ नारे लगा रहे थे। इस दौरान वहाँ से गुजर रही बीजेपी नेता शाजिया इल्मी और आरएसएस के कुछ लोगों ने उन्हें समझाने की कोशिश की।

वीडियो में आप देख सकते है कि शाजिया इल्मी नारे लगा रहे लोगों से कहती हैं कि वे भारत से हैं। फिर भी जब वे लोग नहीं शांत होते तो शाजिया इल्मी अकेले ही इंडिया जिंदाबाद के नारे लगाने लगती हैं और वहाँ से आगे बढ़ जाती हैं।

जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर चीन और पाकिस्तान को छोड़कर पूरी दुनिया भारत के साथ खड़ी नजर आ रही है, लेकिन यह बात पाकिस्तान समर्थकों के गले नहीं उतर रही है। यही कारण है कि दुनिया के विभिन्न हिस्सों में छिट-पुट विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

दक्षिण कोरिया के सिओल में भी ऐसा ही दृश्य सामने आया, लेकिन वहाँ बड़ी संख्या में मौजूद प्रदर्शनकारियों के बीच पहुँचकर भाजपा नेता शाजिया इल्मी ने हिंदुस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए। प्रदर्शनकारी मोदी विरोधी और भारत विरोधी नारेबाजी भी कर रहे थे। उसी समय शाजिया इल्मी और उनके साथ वहाँ गए आरएसएस के लोग भी गुजर रहे थे।

शाजिया इल्मी को भारत विरोधी नारों से आपत्ति हुई तो वह प्रदर्शनकारियों के बीच पहुँच गईं और उन्हें समझाने की कोशिश की। जब प्रदर्शनकारी नहीं माने, तो वे भी इंडिया जिंदाबाद के नारे लगाने लगीं।

ऐसी ही एक घटना लंदन में देखने को मिली जब 15 अगस्त, 2019 को लंदन में रहने वाले भारतीय स्वतंत्रता दिवस मना रहे थे। इस दौरान कुछ पाकिस्तानी और पाकस्तानी मूल के ब्रिटिश ने उनके ऊपर हमला कर दिया। दरअसल, लंदन में भारतीय उच्चायोग के सामने भारतीय मूल के लोग शांति से स्वतंत्रता दिवस मना रहे थे, तभी लगभग 1000 की संख्या में प्रदर्शनकारियों ने उन पर हमला कर दिया।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by paying for content

बड़ी ख़बर

नरेंद्र मोदी, डोनाल्ड ट्रम्प
"भारतीय मूल के लोग अमेरिका के हर सेक्टर में काम कर रहे हैं, यहाँ तक कि सेना में भी। भारत एक असाधारण देश है और वहाँ की जनता भी बहुत अच्छी है। हम दोनों का संविधान 'We The People' से शुरू होता है और दोनों को ही ब्रिटिश से आज़ादी मिली।"

ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

92,258फैंसलाइक करें
15,609फॉलोवर्सफॉलो करें
98,700सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: