मानवाधिकार कार्यकर्ता ने खोली इमरान खान और आर्मी की पोल, 90% जाहिल, कहा- Pak वफादार नौकर

भारत में जो अल्‍पसंख्‍यक हैं उन्‍हें वहाँ पर बराबरी का हक मिला हुआ है, जबकि पाकिस्‍तान में गैर-मुस्लिमों को कोई हक नहीं है। उन्‍होंने यहाँ तक कहा कि पाकिस्‍तान में 90 फीसद लोग जाहिल हैं जो बिना सोचे-समझे ही मौलवियों की बातों पर वाह-वाह करते हैं।

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के मानवाधिकार कार्यकर्ता और कराची के पूर्व मेयर आरिफ अजाकिया ने दशहरे की शुभकामना देते हुए पाकिस्तान को आईना दिखाया है। उन्होंने कहा कि किसी भी पर्व को मनाने में कोई बुराई नहीं है। त्योहार को मनाते समय धर्म को बीच में नहीं लाना चाहिए। आरिफ ने कहा कि बड़े ही अजीब हैं मुफ्ती लोग, पश्चिम बंगाल की टीएमसी सांसद नुसरत जहां मुस्लिम होकर दुर्गा पूजा करे तो गलत है, लेकिन उसी पंडाल में अगर अजान हो तो वाह-वाह। पाकिस्तान में रहने वाले हिन्दू अगर रोजा रखकर रमजान करें तो वह अच्छा।

आगे उन्होंने पाकिस्तानी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि देश के प्रधानमंत्री को बार-बार पैसे की जरूरत है। अमेरिका अकेले इन्हें नहीं पाल सकता है। अमेरिका के अलावा सऊदी अरब, कतर, दुबई जैसे कई देशों से आर्थिक मदद की अपेक्षा करता है और भीख माँगकर गुजारा कर रहा है। साथ ही आईएमएफ, वर्ल्ड बैंक, एशियन डेवलपमेंट बैंक से पैसे माँग कर ला रहा है इमरान खान।

इसके अलावा उन्होंने इमरान खान के हुकूमत पर बात करते हुए कहा कि उनकी हुकूमत जाने वाली है। उन्होंने कहा कि पाक सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा ने और फौज जबरन पीटीआई को लेकर शासन में आई है। उन्हें इमरान खान की काबिलियत के बारे में पता है। इमरान की टीम आज भी वही है जो चुनाव से पहले थी। उनके नंगे-पुंगे दोस्त, स्मगलर, चोर, चोरबाजारी वाले दोस्त की टीम है। ये सबकुछ बाजवा या फौज को पता था। ये लाना ही ऐसे लोगों को चाह रहे हैं। उन्‍होंने आर्मी के उस शख्‍स के नाम का भी खुलासा किया, जिसकी वजह से आज इमरान खान प्रधानमंत्री पद है। यह नाम जनरल फैज हामिद का है।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इमरान ने सत्ता में आने के लिए अपनी पूरी साख को दांव पर लगा दी। बाजवा इससे जो कहता है, ये करता है और जब ये बाजवा के कहने चुपचाप पर चल रहा है तो फिर ये इसको क्यूँ हटाएँगे? उन्होंने कहा कि बाजवा जब इसे भीख माँगने के लिए भेजता है तो ये कभी सऊदी चला जाता है, तो कभी कहीं और। बाजवा ने कश्मीर पर हल्ला मचाने के लिए कहा तो कर दिया। खुद बाजवा, जिसने 70 साल तक इस कौम को कश्मीर के नाम पर लूटा, वो चुप है। इसके साथ ही उन्होंने FATF पर बात करते हुए कहा कि उन्हें नहीं लगता कि अमेरिका पाकिस्तान को ब्लैकलिस्ट करेगा, क्योंकि अमेरिका के पार्टनर तो बहुत सारे हैं, लेकिन वफादार नौकर एक ही है और वो है पाकिस्तान।

उन्‍होंने अपने वीडियो में भारत के धर्मनिरपेक्ष राष्‍ट्र होने का सराहा है जबकि पाकिस्‍तान को कट्टरपंथी इस्‍लामी राष्‍ट्र की छवि को लेकर कोसा भी है। उनका कहना है कि भारत में जो अल्‍पसंख्‍यक हैं उन्‍हें वहाँ पर बराबरी का हक मिला हुआ है, जबकि पाकिस्‍तान में गैर-मुस्लिमों को कोई हक नहीं है। उन्‍होंने यहाँ तक कहा कि पाकिस्‍तान में 90 फीसद लोग जाहिल हैं जो बिना सोचे-समझे ही मौलवियों की बातों पर वाह-वाह करते हैं। 

इस दौरान उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यशैली की प्रशंसा करते हुए कहा कि जो पीएम मोदी को गलत ठहराने की कोशिश में लगे हैं उन्‍हें एक बार अपने गिरेबान में झाँक लेना चाहिए। भारत में जितने हक वहाँ के अल्‍पसंख्‍यकों को दिए गए हैं इतने तो पाकिस्‍तान में सोचे भी नहीं जा सकते हैं। इसके साथ ही उन्होंने पाकिस्‍तान की पोल खोलते हुए कहा कि कराची जैसे शहर में पानी माफिया जबरदस्‍त फल-फूल रहा है। उनका कहना है कि पाकिस्‍तान में सिर्फ कराची ही नहीं हर छोटी और बड़ी जगहों का यही हाल है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

पीएम मोदी
"कॉन्ग्रेस के एक नेता ने कहा कि यह फैसला देश को बर्बाद कर देगा। 3 महीने हो गए हैं, क्या देश बर्बाद हो गया? एक और कॉन्ग्रेस नेता ने कहा कि 370 हटाकर हमने कश्मीर को खो दिया है। क्या हमने कश्मीर खो दिया है?"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

97,842फैंसलाइक करें
18,519फॉलोवर्सफॉलो करें
103,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: