8 साल के आतंकी ने ईसाई का सिर उड़ाया, कहा- बदला पूरा होने तक नहीं रुकेंगे: रिपोर्ट्स

आस्था से समझौता नहीं करने पर इस्लामिक कट्टरपंथियों ने एक पादरी का सिरा कलम कर दिया। पहले आतंकियों ने उनकी रिहाई के लिए बदलने 2 मिलियन यूरो की माँग की थी। लेकिन चर्च इतना पैसा नहीं जुटा पाया।

पश्चिमी अफ्रीका के नाइजीरिया में इस्लामिक स्टेट और बोको हराम के आतंकियों की नई बर्बरता सामने आई है। आठ साल के एक आईएस आतंकी ने एक ईसाई की गोली मारकर हत्या कर दी। आतंकी संगठन की न्यूज एजेंसी अमाक ने इस घटना का वीडियो जारी किया है। एक अन्य घटना में एक पादरी का सिर कलम कर दिया गया। इससे एक महीने पहले भी आईएस आतंकियों ने 11 ईसाइयों का सिर कलम कर दिया था।

डेलीमेल की रिपोर्ट के अनुसार, अमाक द्वारा जारी की गई हालिया वीडियो में एक नाइजीरियन ईसाई व्यक्ति को ISIS से जुड़ा एक छोटा सा लड़का मारता दिख रहा है। उसकी उम्र महज 8 साल लग रही है। 8 साल का यह आतंकी वीडियो में ईसाई समुदाय के लोगों को धमकी भी दे रहा है कि वे तब तक नहीं रुकेंगे जब तक वह उन सभी खूनों का बदला नहीं ले लेते जो उनके लोगों का बहाया गया।

गौरतलब है कि अमाक एजेंसी द्वारा जारी इस हालिया वीडियो में से फुटेज काटकर आतंकी संगठन की गतिविधियों पर नजर रखने वाली एजेंसी एसआईटीई ने ऑनलाइन शेयर किया है। ये वही समूह है जो जिहादी आतंकी की गतिविधियों पर अपनी पैनी नजर बनाए रखता है। साथ ही दुनिया को इस्लामिक बर्बरता के बारे में भी बताता हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

इस घटना के अलावा बता दें बोको हरम में इस्लामिक आतंकियों द्वारा एक पादरी को मारे जाने की खबर भी आई है। जानकारी के मुताबिक अंदिमी नामक पादरी के अपहरण की सूचना आधिकारिक तौर पर 3 जनवरी को मिली थी। बाद में इस्लामिक कट्टरपंथी समूह मिशिका ने इस अपराध की जिम्मेदारी ली थी और साथ ही अंदिमी के अपहरण के कुछ दिन बाद उनकी फिरौती के लिए वीडियो शेयर की थी। जिसमें ईसाई नेताओं और राज्य सरकार से उनकी रिहाई पर अपनी कुछ शर्त रखी थी।

हालाँकि इस्लामिक कट्टंरपंथियों की बर्बरता को अच्छे से जानते-समझते हुए भी अंदिमी वीडियो में बिलकुल डरे नहीं थे। उन्होंने उस वीडियो में ईश्वर पर विश्वास जताते हुए कहा था कि अगर भगवान ने चाहा तो वो जल्द ही अपनी पत्नी, अपने बच्चों और अपने साथियों के साथ होंगें। अगर ऐसा नहीं होता तो शायद ये भी भगवान की मर्जी होगी। लेकिन, अफसोस क्रिश्चियन पोस्ट की खबर के अनुसार सोमवार को स्थानीय सूत्रों ने खुलासा किया कि अंदिमी की अब हत्या की जा चुकी हैं। संबिसी के जंगलों में उनका सर कलम कर दिया गया।

बताया जा रहा है कि इस्लामिक कट्टरपंथियों ने उन्हें इसलिए मारा क्योंकि उन्होंने अपनी आस्था के साथ समझौता करने से मना कर दिया था और दूसरा वह अपनी रिहाई के लिए पैसा नहीं जुटा पाए थे। एक रिपोर्ट के अनुसार अपहरणकर्ताओं ने अंदिमी को छोड़ने के लिए 2 मिलियन यूरो की माँग की थी। लेकिन चर्च के लोग इतना पैसा जुटा पाने में असफल रहे। नाइजीरिया के पत्रकार अहमद सलकीदा के अनुसार अंदिमी का सिर सोमवार की दोपहर कलम किया गया। इसकी सूचना मिलते ही उन्होंने प्रशासन को पत्र लिखा और बताया कि उन्हें इस घटना का एक वीडियो मिला है।

ISIS से मुक्त हुई यज़ीदी लड़कियाँ, जलाए बुरखे; ISIS लक्षण है, बीमारी नहीं

बिन बुर्क़े बाहर जाओगी तो हल्ला मच जाएगा: आईसिस ने यज़ीदी सेक्स स्लेव से यही कहा

शरिया का जानकार ISIS का सरगना: यजीदी बच्चियों से रेप, उन्हें सेक्स स्लेव बनाने का दिया था हुक्म

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,901फैंसलाइक करें
42,179फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: