ऑस्ट्रेलिया में दौड़ेगी भारत में बनी मेट्रो, मेक इन इंडिया की एक और सफलता

सिडनी में पहली बार ड्राइवर लेस मेट्रो लाइन खुली है, जिसमें 6 कोच वाली 22 एल्सटॉम ट्रेनों के द्वारा सेवा दी जाएगी। यह मेट्रो नॉर्थ वेस्ट रेल लिंक में तल्लावांग स्टेशन से चैट्सवुड स्टेशन के बीच कुल 13 स्टेशनों में चलेगी।

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया कि केंद्र सरकार का ड्रीम प्रोजेक्ट ‘मेक इन इंडिया’ लगातार सफलता के नए आयाम छूता जा रहा है। पीयूष गोयल ने मंगलवार को एक वीडियो ट्वीट कर लिखा, “मेक इन इंडिया की एक और सफलता। गोयल ट्वीट में लिखा है कि अब ऑस्ट्रेलिया के सिडनी में भारत में बनी अत्याधुनिक मेट्रो दौड़ेगी। मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए शुरू किए गए ‘मेक इन इंडिया’ अभियान से देश तकनीक की दुनिया में उभरता हुआ सितारा बन रहा है।

बता दें कि देशी और विदेशी कंपनियों द्वारा निर्माण को बढ़ावा देने के लिए ‘मेक इन इंडिया’ अभियान की शुरुआत की गई। वीडियो में बताया गया है कि भारत में बने मेट्रो रेलवे कोच ऑस्ट्रेलिया के सिडनी मेट्रो लाइन पर चलेंगे। सिडनी में पहली बार ड्राइवर लेस मेट्रो लाइन खुली है, जिसमें 6 कोच वाली 22 एल्सटॉम ट्रेनों के द्वारा सेवा दी जाएगी। यह मेट्रो नॉर्थ वेस्ट रेल लिंक में तल्लावांग स्टेशन से चैट्सवुड स्टेशन के बीच कुल 13 स्टेशनों में चलेगी।

इन ट्रेनों के आंध्र प्रदेश के श्री सिटी में असेंबल किया गया है। ये ट्रेनें पूरी तरह से स्वचालित हैं और इसमें एलईडी लाइट, आपातकालीन इंटरकॉम, सीसीटीवी कैमरे जैसी सभी अत्याधुनिक सुविधाएँ हैं। कंपनी ने 15 सालों के लिए डिपो चलाने और सिग्नलिंग सिस्टम की देख-रेख के लिए सिडनी मेट्रो के साथ संधि की है। भारत में निर्मित ये मेट्रो दुनिया भर में ‘मेक इन इंडिया’ की सफलता का प्रमाण हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू विरोध प्रदर्शन
छात्रों की संख्या लगभग 8,000 है। कुल ख़र्च 556 करोड़ है। कैलकुलेट करने पर पता चलता है कि जेएनयू हर एक छात्र पर सालाना 6.95 लाख रुपए ख़र्च करता है। क्या इसके कुछ सार्थक परिणाम निकल कर आते हैं? ये जानने के लिए रिसर्च और प्लेसमेंट के आँकड़ों पर गौर कीजिए।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,921फैंसलाइक करें
23,424फॉलोवर्सफॉलो करें
122,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: