भारत से बात का फायदा नहीं, जब दो परमाणु संपन्न देश आमने-सामने होंगे तो कुछ भी हो सकता हैं: इमरान खान

"वे कहते हैं कि जब दो परमाणु शक्ति संपन्न आमने-सामने होंगी तो कुछ भी हो सकता हैं। उन्होंने दोनों देशों के परमाणु शक्ति से संपन्न होने का हवाला देते हुए कहा कि दुनिया को इस पर ध्यान देना चाहिए कि हम किन हालातों का सामना कर रहे हैं।"

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने बुधवार (अगस्त 22,2019) को एक विदेशी अखबार से बातचीत के दौरान भारत को लेकर बड़ा बयान दिया। उन्होंने अखबार को बताया कि अब वह भारत से बातचीत की अपील नहीं करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने सार्वजनिक रूप से परमाणु युद्ध की धमकी दी।

विदेशी अखबार से बात करते हुए पाक पीएम ने भारत के कड़े रुख पर शिकायत करते हुए कहा कि उन्होंने भारत से बार-बार बातचीत के लिए अनुरोध किया लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उसे नजरअंदाज कर दिया। उनके मुताबिक अब उनका भारतीय अधिकारियों से बात करने का कोई औचित्य नहीं रह गया। क्योंकि अब तक उनके सभी प्रयास असफल साबित हुए हैं।

उन्होंने न्यूयॉर्क टाइम्स से बातचीत के दौरान कहा, “अब उनसे (भारत) बात करने का कोई फायदा नहीं है। मैंने बातचीत करने की सारी कोशिशें कर लीं। दुर्भाग्य है कि अब जब मैं पीछे मुड़कर देखता हूँ तो लगता है कि मेरी शांति और बातचीत की सारी कोशिशों को उन्होंने तुष्टीकरण के तौर पर लिया।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

गौरतलब है कि पठानकोट पर हुए हमले के बाद भारत अपना पक्ष साफ कर चुका है कि जब तक पाकिस्तान आतंकवाद के ख़िलाफ़ कार्रवाई नहीं करता तब तक भारत की उससे कोई बातचीत नहीं होगी। हालाँकि, इस हमले के बाद पाक पीएम इमरान अलग-अलग समयों पर बातचीत की अपील कर चुके हैं।

लेकिन, प्रधानमंत्री मोदी का आतंकवाद के खिलाफ़ सख्त रुख देखते हुए पाक पीएम ने उन्हें फासीवादी और हिंदूवादी करार दिया है। साथ ही उनपर आरोप लगाया है कि वह कश्मीर में मुस्लिम बहुल आबादी का सफाया करके उसे हिंदू बहुल इलाके में बदलना चाहते हैं।

इमरान खान का मानना है कि भारत कश्मीर में प्रोपेगेंडा फैलाते हुए फर्जी ऑपरेशन भी चला सकता है, जिससे कि पाकिस्तान के ख़िलाफ़ सैन्य कार्रवाई करने के लिए आधार मिल सके।

अपनी बात में आगे जोड़ते हुए इमरान कहते हैं कि अगर युद्ध की ऐसी स्थिति आती है तो पाकिस्तान जवाब देने के मजबूर होगा। वे कहते हैं कि जब दो परमाणु शक्ति संपन्न आमने-सामने होंगी तो कुछ भी हो सकता हैं। उन्होंने दोनों देशों के परमाणु शक्ति से संपन्न होने का हवाला देते हुए कहा कि दुनिया को इस पर ध्यान देना चाहिए कि हम किन हालातों का सामना कर रहे हैं।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

राहुल गाँधी, महिला सेना
राहुल गाँधी ने बेशर्मी से दावा कर दिया कि एक-एक महिलाओं ने सुप्रीम कोर्ट में खड़े होकर मोदी सरकार को ग़लत साबित कर दिया। वे भूल गए कि इस मामले को सुप्रीम कोर्ट में मोदी सरकार नहीं, मनमोहन सरकार लेकर गई थी।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,155फैंसलाइक करें
41,428फॉलोवर्सफॉलो करें
178,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: