‘भारत के पंजाबी सैनिको, कश्मीर में हो रहे जुल्म का हिस्सा ना बनो, ड्यूटी से इनकार कर दो’

"भारत के आंतरिक मामले में दखल देना बंद कर दो। मैं साफ कर दूँ कि भारतीय सेना एक अनुशासित और राष्ट्रवादी फोर्स है, यह तुम्हारी पाकिस्तानी सेना की तरह नहीं है। तुम्हारा भड़काऊ बयान काम नहीं करेगा और ना ही भारतीय सेना के जवान इस विभाजनकारी सलाह को कोई भाव देंगे।"

पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पाकिस्तान के मंत्री फवाद हुसैन के ट्वीट को लेकर कड़ी प्रतिक्रिया जताते हुए फटकार लगाई। साथ ही, उन्होंने पाकिस्तान को भारत के आंतरिक मामलों से दूर रहने की सलाह दी है। पाकिस्तान के मंत्री ने पंजाबी में ट्वीट कर भारतीय सेना के पंजाबी जवानों को बगावत करने के लिए उकसाया था।

पाकिस्तान के मंत्री फवाद ने भारतीय सेना के सिख सैनिकों से अपील की थी कि वे कश्मीर में ड्यूटी से इनकार कर दें। इस पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने फवाद को टैग करते हुए ट्वीट किया, “भारत के आंतरिक मामले में दखल देना बंद कर दो। मैं साफ कर दूँ कि भारतीय सेना एक अनुशासित और राष्ट्रवादी फोर्स है, यह तुम्हारी पाकिस्तानी सेना की तरह नहीं है। तुम्हारा भड़काऊ बयान काम नहीं करेगा और ना ही भारतीय सेना के जवान इस विभाजनकारी सलाह को कोई भाव देंगे।”

जम्मू कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 पर मोदी सरकार द्वारा लिए गए फैसले पर पाकिस्तान लगातार अपनी प्रतिक्रिया दे रहा है। इसी क्रम में आज उन्होंने भारतीय सेना में भी फुट डालने का प्रयास किया। इसी बात पर कैप्टन अमरिंदर सिंह ने उन्हें सबक सिखाया है। मंगलवार को फवाद ने ट्वीट किया कि मैं भारतीय सेना में मौजूद पंजाबियों से अपील करता हूँ कि वे कश्मीर में हो रहे जुल्म का हिस्सा ना बनें और कश्मीर में ड्यूटी से इनकार कर दें।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

कमलेश तिवारी, राम मंदिर
हाल ही में ख़बर आई थी कि पाकिस्तान ने हिज़्बुल, लश्कर और जमात को अलग-अलग टास्क सौंपे हैं। एक टास्क कुछ ख़ास नेताओं को निशाना बनाना भी था? ऐसे में इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता कि कमलेश तिवारी के हत्यारे किसी आतंकी समूह से प्रेरित हों।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

100,990फैंसलाइक करें
18,955फॉलोवर्सफॉलो करें
106,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: