इजरायल से पहुँची Spice 2000 बमों की नई खेप, बालाकोट एयर स्ट्राइक में हुआ था इस्तेमाल

ग्वालियर एयरबेस पर स्पाइस 2000 बमों की खेप मिली है, क्योंकि यह भारतीय वायु सेना के मिराज 2000 लड़ाकू विमान बेड़े का बेस है और वे एकमात्र बेड़े हैं जो इजरायल के इन बमों को ले जाने में सक्षम हैं।

इजरायल की एक कम्पनी से स्पाइस 2000 बम की नई खेप भारत पहुँची है। इससे भारतीय वायुसेना के फायरपावर को और मजबूती मिलेगी। स्पाइस 2000 बम भारत के लिए काफ़ी महत्वपूर्ण है। बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान भी इसका इस्तेमाल किया गया था। इस बम के नए संस्करण की पहली खेप इजरायली कंपनी ने भारत को उपलब्ध करा दी है।

ग्वालियर एयरबेस पर स्पाइस 2000 बमों की खेप मिली है, क्योंकि यह भारतीय वायु सेना के मिराज 2000 लड़ाकू विमान बेड़े का बेस है और वे एकमात्र बेड़े हैं जो इजरायल के इन बमों को ले जाने में सक्षम हैं। मार्क 84 वॉरहेड्स के साथ पहुँची बम की खेप के पहले बैच को भारतीय वायुसेना ने रिसीव किया। बता दें कि इजरायल से स्पाइस 2000 का जो नया बैच आया है, यह इसका ताज़ा वर्जन है। इसकी मारक क्षमता की बात करें तो यह एक बड़े बिल्डिंग को पूरी तरह ध्वस्त करने में सक्षम है।

वर्तमान करार के पूरा होने के बाद भारतीय वायुसेना भारी मात्रा में स्पाइस 2000 बम ख़रीदेगी। इस साल जून में भारत ने इजरायल के साथ 250 करोड़ रुपए के एक कॉन्ट्रैक्ट पर हस्ताक्षर किए थे, जिसमें इजरायल द्वारा भारत को 100 स्पाइस 2000 बम की सप्लाई का निर्णय लिया गया था। बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान जब भारत ने जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी कैम्पों को तबाह किया था, तब स्पाइस 2000 बम का इस्तेमाल किया गया था।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

उस दौरान भारतीय वायुसेना ने मिराज 2000 फाइटर एयरक्राफ्ट्स का प्रयोग किया था। ग्वालियर में मिराज 2000 फाइटर एयरक्राफ्ट्स का घरेलू बेस है और बमों की खेप यहाँ इसीलिए पहुँची है क्योंकि यही एयरक्राफ्ट इन इजराइली बमों को फायर करने में सक्षम है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

पीएम मोदी
"कॉन्ग्रेस के एक नेता ने कहा कि यह फैसला देश को बर्बाद कर देगा। 3 महीने हो गए हैं, क्या देश बर्बाद हो गया? एक और कॉन्ग्रेस नेता ने कहा कि 370 हटाकर हमने कश्मीर को खो दिया है। क्या हमने कश्मीर खो दिया है?"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

97,842फैंसलाइक करें
18,519फॉलोवर्सफॉलो करें
103,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: