अलीगढ़: CAA की आड़ में उपद्रवियों ने दुर्गा मंदिर पर किया पथराव, पुलिस से झड़प के बाद हालात तनावपूर्ण

अलीगढ़ में उपद्रवियों ने दुर्गा मंदिर पर किया पथराव

दिल्ली में शाहीन बाग़ कब्जाने के बाद CAA के विरोध में अलीगढ़ में माहौल एक बार फिर तनावपूर्ण हो गया है। अलीगढ़ के ऊपरकोट में विरोध प्रदर्शन जारी है जबकि शाहजमाल में हालात अभी भी बेकाबू हो रहे हैं। बताया जा रहा है कि जुलूस निकाल रहे सैकड़ों लोग सड़कों पर मौजूद हैं। रिपोर्ट्स के अनुसार, नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन करने के क्रम में कुछ युवकों ने तुर्कमान गेट पर प्राचीन नवदुर्गा पथवारी मंदिर पर पथराव कर दिया। जिससे बाद से हालात बेहद तनावपूर्ण हो गए हैं।

अलीगढ़ में रविवार (फरवरी 23, 2020) दोपहर के बाद हालात तनावपूर्ण हुए हैं। ऊपरकोट पर हालात सामान्य करने में जुटी पुलिस पर भी पथराव किया गया। पुलिस द्वारा प्रदर्शन और पथराव कर रहे कुछ लोगों को पकड़ने की कोशिश की गई, जिससे वहाँ मौजूद महिलाओं में गुस्सा बढ़ गया।

भीड़ ने जब पुलिस पर ज्यादा पथराव किया तो बदले में पुलिस ने पत्थरबाजों पर आँसू गैस के गोले छोड़े। इसके बाद वहाँ मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई और धरना दे रहीं महिलाएँ भी भाग गईं। देहलीगेट और ऊपरकोट इलाके में सुबह से जारी जुलूस प्रदर्शनों में भीम आर्मी के कार्यकर्ता भी शामिल रहे। नागरिकता कानून का विरोध कर रहे कुछ लोगों ने ज्वलनशील चीजें भी फेंकी, जिससे कुछ दुकानों के पर्दों में आग लग गई। हालाँकि बाद में इस पर काबू पा लिया गया।

सीएए के विरोध में शाहजमाल ईदगाह के सामने हजारों की संख्या में महिलाएँ और पुरुष जमा हुए थे। प्रदर्शनकारी लगातार नारेबाजी कर रहे थे। ऊपरकोट कोतवाली के सामने भी प्रदर्शनकारियों ने जोरदार प्रदर्शन किया। पुलिस प्रदर्शनकारियों को समझाने की कोशिश कर रही है। बताया जा रहा है कि पुलिस-प्रशासनिक अफसरों के समझाने के बावजूद टकराव के हालात बन रहे हैं।

देहलीगेट और ऊपरकोट थाना क्षेत्र के मुस्लिम इलाकों के सभी बाजार बंद हो गए हैं। करीब 12:30 बजे सब्जी मंडी इलाके के दुकानदारों को भी धरना प्रदर्शन में शामिल होने का आह्वान करते हुए बाजार बंद करा दिया गया था। खासकर मुस्लिम बाहुल्य इलाके की दुकानें पूरी तरह से बंद हैं। फिलहाल इलाके में बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई है। इलाके में हालात तनावपूर्ण हैं।

ऑपइंडिया स्टाफ़: कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया
Disqus Comments Loading...