Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाज'मेरे पिता की मेडिकली हत्या हुई': दिल्ली के जयपुर अस्पताल पर संभावना सेठ ने...

‘मेरे पिता की मेडिकली हत्या हुई’: दिल्ली के जयपुर अस्पताल पर संभावना सेठ ने लगाए गंभीर लापरवाही के इल्जाम, देखें वीडियो

“पिता को खोना मेरे जीवन का सबसे बड़ा भय था जिसका मैंने सामना कर लिया। अब मैं पूरी जिंदगी बिना डरे सच्चाई के लिए लड़ूँगी जैसा कि मेरे पिता ने मुझे आजीवन सिखाया। हो सकता है मैं इन बड़ी मछलियों को हरा पाऊँ या न भी हरा पाऊँ लेकिन मैं इन्हें पानी से बाहर निकालकर इनका असली चेहरा उजागर करूँगी।”

टीवी एक्ट्रेस संभावना सेठ ने 22 मई को सोशल मीडिया पर अपने पिता के निधन को मेडिकली तौर पर हुई एक हत्या करार देते हुए दिल्ली के जयपुर गोल्डन अस्पताल की एक वीडियो शेयर की थी। अपने पोस्ट में उन्होंने अपने कोविड संक्रमित पिता की मौत पर बात करते हुए अस्पताल की लापरवाहियों को उजागर किया था।

अपने इंस्टाग्राम पर पोस्ट की गई वीडियो पर उन्होंने अस्पताल को लेकर कहा था, “इन्होंने मेरे पिता को मार डाला।” सेठ ने पोस्ट में बताया कि उनके पिता इस वीडियो को रिकॉर्ड करने के 2 घंटे बाद खत्म हो गए। वह लिखती हैं, “पिता को खोना मेरे जीवन का सबसे बड़ा भय था जिसका मैंने सामना कर लिया। अब मैं पूरी जिंदगी बिना डरे सच्चाई के लिए लड़ूँगी जैसा कि मेरे पिता ने मुझे आजीवन सिखाया। हो सकता है मैं इन बड़ी मछलियों को हरा पाऊँ या न भी हरा पाऊँ लेकिन मैं इन्हें पानी से बाहर निकालकर इनका असली चेहरा उजागर करूँगी।”

अपने पोस्ट में उन्होंने यह भी लिखा कि जैसे पूरा जहान सिर्फ अंधकार या उजाले से भरा नहीं हो सकता, वैसे ही डॉक्टर को भगवान की संज्ञा नहीं दी जानी चाहिए।

अपने समर्थकों से साथ माँगते हुए वह लिखती हैं, “मैं जानती हूँ कि आप में से हर कोई जो इन कठिन समय में अस्पतालों में गया है, उसे इसी तरह की चिकित्सा लापरवाही का सामना करना पड़ा है। लेकिन वह विभिन्न कारणों से इसके लिए संघर्ष नहीं कर सका लेकिन अब हम सभी इस वीडियो को साझा करके एक साथ लड़ सकते हैं।”

संभावना सेठ ने बताया कि उनके वकील ने इस संबंध में अस्पताल के ख़िलाफ़ लीगल कार्रवाई शुरू कर दी है। वह बोलीं, “मेरे वकील एडवोकेट रोहित अरोड़ा और लेक्स लॉरिएट के सीनियर एसोसिएट्स एडवोकेट कोशिमा जयपुर गोल्डन हॉस्पिटल को लीगल नोटिस भेजकर कानूनी लड़ाई शुरू करने की प्रक्रिया में हैं।”

संभावना ने वीडियो में लगाया अस्पताल पर लापरवाही का आरोप

7 मिनट की वीडियो में संभावना ने कहा कि अस्पताल के स्टाफ सदस्य उनके पिता की केयर नहीं कर रहे। एक नर्स पर दुर्व्यवहार का इल्जाम लगाते हुए वह बोलीं कि नर्स ने उन्हें ही उनके पिता का ध्यान रखने को कहा है क्योंकि वह खुद बिजी है। वह पूछती हैं, ” मैं जानना चाहती हूँ कि आखिर वह किसका इलाज कर रही है।”

इसके बाद संभावना ने बताया कि जब उन्होंने इस बात को उठाया कि उनके पिता का ऑक्सीजन सैचुरेशन 55 पहुँच गया है, तो नर्स ने इस पर कहा कि ये तो बढ़िया ऑक्सीजन स्तर है।

अपने ट्वीट में एक्ट्रेस ने आरोप लगाया है कि अस्पताल नर्स को बचाने की कोशिशों में जुटा है। ऑडियो में सुना जा सकता है कि दूसरी नर्स पीछे से बता रही है कि (संभावना सेठ के) पिता बार बार अपना ऑक्सीजन मास्क हटा रहे थे, लेकिन वह लोग वहीं है तभी तो बार बार उन्हें मास्क लग पा रहा है। संभावना कहती हैं, “मैंने सोचा था कि ये अस्पताल घर से नजदीक है तो ठीक रहेगा, लेकिन मैं गलत थी।”

दूसरी वीडियो में क्या कहा

24 मई को संभावना ने एक और वीडियो अपलोड की। इस वीडियो में उन्होंने कहा, “आपको लगता है कि यह उस नर्स के बारे में था जिसने दुर्व्यवहार किया था। बात सिर्फ उसकी नहीं थी। मैंने उन्हें अन्य मरीजों के साथ भी दुर्व्यवहार करते देखा। जब मैंने अपने पिता का ऑक्सीजन लेवल 55 पर देखा तो जाहिर सी बात थी कि बेटी होने के नाते मैं बर्दाश्त नहीं कर सकती।”

वह कहती हैं कि लोग पूछ रहे हैं कि आखिर वह कोविड वार्ड में गईं कैसे । इस पर सेठ कहती हैं, “भगवान का शुक्र है कि मैं कोविड वार्ड के अंदर चली गई। अगर नहीं जाती तो सच्चाई भी नहीं पता चल पाती।” उन्होंने कहा, “मेरे पिता का नाश्ता साइड में था। उन्होंने सुबह से एक कौर तक नहीं खाया था न पानी पिया था।”

वह बोलती हैं कि वह हर डॉक्टर या नर्स को गलत नहीं कह रहीं, लेकिन वहाँ (उस अस्पताल में) राक्षस थे। सेठ के वकील अविनाश वीडियो में कहते हैं, “हमारे पास हर सवाल का जवाब है। लेकिन ये कानूनी मामला है और हम हर चीज नहीं बता सकते। इससे केस पर फर्क पड़ेगा।”

‘मेरे पिता ठीक हो रहे थे’

संभावना ने अपनी वीडियो में बताया कि उनके पिता ठीक हो रहे थे और उन्होंने इस पर वीडियो भी बनाई थी। लेकिन अस्पताल ने न जाने ऐसा क्या किया जिससे पिता की सेहत बिगड़ी। केवल असिस्टेंट डॉक्टर उनसे बात करने आया और उन्हें कहा कि वह अंदर नहीं जा सकतीं क्योंकि अंदर उनके पिता को बचाने का प्रयास हो रहा है और इलाज का तरीका बदला गया है। लेकिन 2 मिनट बाद वही डॉक्टर आकर कहता है कि आपके पिता को दिल का दौरा पड़ा। संभवना का मानना है कि डॉक्टरों को पता था उनके पिता जा चुके हैं लेकिन उन्होंने फिर भी झूठ बोला।

‘पिता को नहीं मिला ICU बेड’

एक्ट्रेस के मुताबिक, अस्पताल का दावा था कि उनके पिता को आईसीयू बेड मिला, लेकिन हकीकत में वह कोविड मरीजों का कमरा था। उनके भाई ने उन्हें अस्पताल के वार्ड की वीडियो भेजी था जहाँ उन्हें पहले एडमिट किया गया था। वहाँ 12 बेड थे उनमें से 11 खाली थे। अस्पताल सिर्फ लोगों को बेवकूफ बना रहा था कि उनके पास जगह नहीं है।

संभावना ने अपने पिता के लिए लड़ने की ठानी है। उनका ये भी आरोप है कि अस्पताल ने बॉडी देने में उन्हें घंटे लगाए। वहीं एबुलेंस ड्राइवर ने 30,000 रुपए माँगे और बाद में कहा कि 27 हजार रुपए में शव को ले चलेगा क्योंकि श्मशान बहुत दूर है। वहीं अविनाश कहते हैं, “कोई नहीं जानता कि जो शव उन्हें मिला है वो उनके परिजन का है या नहीं। उन्हें बस भगवान का नाम लेकर उनका दाह संस्कार करना है।” बता दें कि अपनी वीडियोज के जरिए संभावना ने लोगों से समर्थन माँगा है और वीडियोज को शेयर करने की अपील की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

ईसाई बने तो नहीं ले सकते SC वर्ग के लिए चलाई जा रही केंद्र की योजनाओं का फायदा: संसद में मोदी सरकार

रिपोर्ट्स बताती हैं कि आंध्र प्रदेश में ईसाई धर्म में कन्वर्ट होने वाले 80 प्रतिशत लोग SC वर्ग से आते हैं, जो सभी तरह की योजनाओं का लाभ उठाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe