Thursday, September 16, 2021
Homeदेश-समाजअनुराग कश्यप मामले में ऋचा चड्ढा ने पायल घोष के खिलाफ किया ₹1.1 करोड़...

अनुराग कश्यप मामले में ऋचा चड्ढा ने पायल घोष के खिलाफ किया ₹1.1 करोड़ की मानहानि का केस, सुनवाई 7 अक्टूबर को

पायल के मुताबिक कश्यप ने घोष से यह भी कहा था कि बॉलीवुड की कई एक्ट्रेस उनके साथ बहुत सहज हैं। इस बातचीत को उजागर करते हुए पायल घोष ने ऋचा चड्ढा का नाम भी शामिल किया था और उसके बाद ही ऋचा चड्ढा ने एक्ट्रेस को कानूनी तरीकों से जवाब देने के लिए मानहानि की याचिका दायर की।

अनुराग कश्यप पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाने वाली अभिनेत्री पायल घोष के ख़िलाफ़ बॉलीवुड एक्ट्रेस ऋचा चड्ढा ने कानूनी कार्रवाई करते हुए 1.1 करोड़ रुपए का मानहानि का दावा किया है।

ऋचा ने बॉम्बे हाईकोर्ट में इस संबंध में कल याचिका दायर करवाई। हालाँकि, कोर्ट ने आज इस याचिका को 7 अक्टूबर तक के लिए खारिज कर दिया। कोर्ट की तरफ से ऐसा उत्तरदाताओं (respondents) को नोटिस नहीं दिए जाने को लेकर किया गया है। 

गौरतलब है कि पिछले दिनों मीटू अभियान के तहत पायल घोष ने अनुराग कश्यप के ख़िलाफ़ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए कई एक्ट्रेस का नाम इस मामले में उजागर किया था। उस समय उन्होंने अनुराग पर आरोप लगाते हुए कहा था कि जब उन्होंने अनुराग की हरकतों का विरोध किया था तो उन्होंने उनसे कहा कि ये सब तो नॉर्मल बात है।

इसके अलावा पायल के मुताबिक कश्यप ने घोष से यह भी कहा था कि बॉलीवुड की कई एक्ट्रेस उनके साथ बहुत सहज हैं। इस बातचीत को उजागर करते हुए पायल घोष ने ऋचा चड्ढा का नाम भी शामिल किया था और उसके बाद ही ऋचा चड्ढा ने एक्ट्रेस को कानूनी तरीकों से जवाब देने के लिए मानहानि की याचिका दायर की।

बताया जा रहा है सबसे पहले एक्ट्रेस ने 21 सितंबर को ही अपनी लीगल टीम की ओर से नोटिस जारी कर दिया था और लीगल कार्रवाई करने की बात कही थी। इसके बाद एक्ट्रेस ने महिला आयोग में भी इस मामले की शिकायत की थी। ऋचा ने पायल को लीगल नोटिस भेजा था, मगर उनके स्टाफ ने उसे स्वीकार नहीं किया था, जिसके बाद ऋचा ने नोटिस की सॉफ्ट कॉपी एक्ट्रेस को मेल की थी।

अपने लीगल नोटिस में ऋचा ने लिखा था, “मैं हर महिला के लिए न्याय चाहती हूँ। लेकिन किसी भी महिला द्वारा उसकी आजादी का दुरुपयोग दूसरी महिलाओं के खिलाफ निराधार, बिना किसी वजूद के, झूठे और आधारहीन आरोप लगाने के लिए नहीं किया जा सकता।”

बता दें कि ऋचा ने पायल के अलावा कमाल आर खान और एक न्यूज चैनल पर भी मानहानि केस किया है। एक्ट्रेस का दावा है कि इन सभी ने कई आपत्तिजनक बयान दिए हैं, जिससे उनकी छवि को ठेस पहुँची है। ऋचा ने माँग की है कि सोशल मीडिया पर इस केस संबंधित उनके खिलाफ डाले गए वीडियो और बयानों को भी डिलीट करवाया जाए।

इस मामले पर सोमवार को बॉम्बे हाइकोर्ट के जज अनिल मेनन के समक्ष सुनवाई की गई थी। इस दौरान ऋचा चड्ढा के आरोपों पर एक्ट्रेस घोष की ओर से कोई भी कोर्ट में पेश नहीं हुआ। अब इस मामले पर 7 अक्टूबर को फिर से कोर्ट के समक्ष पेश किया जाएगा और सभी दस्तावेज फिर से पेश करने होंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

प्राचीन महादेवम्मा मंदिर विध्वंस मामले में मैसूर SP को विहिप नेता ने लिखा पत्र, DC और तहसीलदार के खिलाफ कार्रवाई की माँग

विहिप के नेता गिरीश भारद्वाज ने मैसूर के उपायुक्त और नंजनगुडु के तहसीलदार पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए SP के पास शिकायत दर्ज कराई है।

कोहाट दंगे: खिलाफ़त आंदोलन के लिए हुई ‘डील’ ने कैसे करवाया था हिंदुओं का सफाया? 3000 का हुआ था पलायन

10 सितंबर 1924 को करीबन 4000 की मुस्लिम भीड़ ने 3000 हिंदुओं को इतना मजबूर कर दिया कि उन्हें भाग कर मंदिर में शरण लेनी पड़ी। जो पीछे छूटे उन्हें मार डाला गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,733FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe