Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजरुनुमा को धोखा दे मोहिदुल ने दूसरी लड़की से की निकाह, चाकू घोंप लिया...

रुनुमा को धोखा दे मोहिदुल ने दूसरी लड़की से की निकाह, चाकू घोंप लिया बेवफाई का बदला

रुनुमा और मोहिदुल के बीच 7 साल से प्रेम संबंध था। लेकिन तीन दिन पहले 27 वर्षीय मोहिदुल ने किसी और लड़की से शादी कर ली।

असम के नगाँव में सोमवार (अगस्त 20, 2019) को एक प्रेमिका ने अपने प्रेमी की चाकू घोंपकर हत्या कर दी। घटना दिन दहाड़े बारपेटा जिले के नगाँव स्थित बाउसी बनिकांता ककाती (बीबीके) कॉलेज के सामने घटी। लड़की की पहचान 19 वर्षीय रुनुमा अहमद के रूप में हुई। वह BBK कॉलेज में प्रथम वर्ष की छात्रा है। लड़के का नाम मोहिदुल था और वह अपनी स्नातक पूरी कर चुका था।

जानकारी के मुताबिक रुनुमा और मोहिदुल के बीच 7 साल से प्रेम संबंध था। लेकिन तीन दिन पहले 27 वर्षीय मोहिदुल ने किसी और लड़की से शादी कर ली। मोहिदुल की शादी की बात सुन रुनुमा सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाई और पूरी वारदात को अंजाम देने का मन बनाया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार लड़की ने जिस समय हत्या की उस वक्त वो कॉलेज की यूनिफॉर्म में थी। उसने लड़के को घटनास्थल पर बुलाया। जहाँ लड़का अपने दोस्त के साथ पहुँचा। दोनों कोने में खड़े होकर बात करने लगे। लेकिन थोड़ी ही देर में लड़की ने अपने बैग से चाकू निकालकर वार कर दिया। लड़का चिल्लाया तो दोस्त उसके पास भागा। उसने देखा कि लड़का खून से लथपथ नीचे पड़ा हुआ था। दोस्त ने उसे अस्पताल ले जाने का प्रयास किया, लेकिन बारपेटा के अस्पताल में डॉक्टरों ने उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया घटना के बाद से रुनुमा फरार है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,042FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe