Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजदीन मोहम्मद अपने ही दोस्त की बच्ची का अपहरण कर 1 महीने तक मँगवाता...

दीन मोहम्मद अपने ही दोस्त की बच्ची का अपहरण कर 1 महीने तक मँगवाता रहा भीख: UP पुलिस ने किया गिरफ्तार

उसने कबूल किया है कि उसने भीख मँगवाने के लिए ही बच्ची का अपहरण किया था। पुलिस ने जानकारी दी है कि उस बच्ची की तलाश में पुलिस टीमों ने हरिद्वार, रुड़की स्थित कलियर शरीफ की दरगाह, मुजफ्फरनगर, मेरठ, देहरादून, ऋषिकेश, दिल्ली की जामा मस्जिद और अक्षरधाम सहित कई पर्यटन स्थलों को छान मारा था।

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के विजयनगर थाना क्षेत्र में एक व्यक्ति को अपने ही दोस्त की बच्ची से भीख मँगवाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। आरोपित दीन मोहम्मद ने अपने मित्र की बेटी का न सिर्फ अपहरण किया, बल्कि प्रताड़ित कर के उससे भीख भी मँगवाई। पुलिस ने लगभग एक महीने बाद बच्ची को सकुशल बरमाद करते हुए मुरादनगर थाना क्षेत्र स्थित नेकपुर के निवासी दीन मोहम्मद को गिरफ्तार कर लिया है।

आरोपित खुद दिव्यांग है और भीख माँगता है। विभिन्न स्थानों पर भीख माँगने के क्रम में ही उसकी नजर रोजी कॉलोनी निवासी अपने दोस्त छोटू खान की मासूम बेटी पर पड़ गई। इसके बाद नवंबर 28, 2020 को वो उसे ट्राइसाइकिल पर घुमाने के बहाने बहला-फुसला कर ले गया और उसका अपहरण कर लिया। सीओ अभय कुमार मिश्र ने बताया कि छोटू ने उसी दिन अपनी बेटी के गायब होने की सूचना भी पुलिस को दे दी थी।

तभी पुलिस ने बच्ची की बरामदगी के लिए 4 टीमों का गठन कर के तलाशी अभियान शुरू कर दिया था। जब पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज खँगाला तो पाया कि एक दिव्यांग व्यक्ति ट्राइसाइकिल से बच्ची को लेकर जा रहा है। एक महीने की मशक्कत के बाद पुलिस ने आरोपित की पहचान करने में कामयाबी पाई। इसके बाद पुलिस ने तिगरी गोलचक्कर से उसे धर-दबोचा। पकड़े जाने के दौरान भी वो बच्ची से भीख मँगवा रहा था।

उसने कबूल किया है कि उसने भीख मँगवाने के लिए ही बच्ची का अपहरण किया था। पुलिस ने जानकारी दी है कि उस बच्ची की तलाश में पुलिस टीमों ने हरिद्वार, रुड़की स्थित कलियर शरीफ की दरगाह, मुजफ्फरनगर, मेरठ, देहरादून, ऋषिकेश, दिल्ली की जामा मस्जिद और अक्षरधाम सहित कई पर्यटन स्थलों को छान मारा था। हरिद्वार और कलियर शरीफ में बच्ची की फोटो दिखाने पर उसके बारे में सूचना मिली।

‘अमर उजाला’ की खबर के अनुसार, भीड़भाड़ वाले इलाकों, बाजारों, रेलवे स्टेशन और बस अड्डों सहित कई स्थानों पर बच्ची की तस्वीर चस्पा कर जानकारी माँगी गई। एक स्थानीय व्यक्ति की सूचना के बाद बच्ची की बरामदगी हुई। दीन मोहम्मद उसे लेकर नोएडा जाने की फिराक में था। बच्ची ने रोते हुए पुलिस को बताया कि जब भी वो अपने पिता के पास जाने की बात करती थी तो आरोपित उसकी पिटाई करता था।

पुलिस को आरोपित की तलाश में इसीलिए इतना समय लग गया, क्योंकि वो मोबाइल फोन का इस्तेमाल नहीं करता था और जगह बदल-बदल कर भीख माँगा करता था। वो छोटू खान का दोस्त था और बच्ची की माँ के निधन के बाद अक्सर वहाँ आता-जाता रहता था। बच्ची अपने पिता और दादी के साथ रहती थी। जब छोटू घर पर नहीं था, तभी आरोपित वहाँ पहुँचा और बच्ची को बहला-फुसला कर ले गया।

अगस्त 2019 में इसी तरह की एक खबर आई थी, जब मुंबई के अँधेरी में पुलिस ने 50 वर्षीय यूसुफ़ शेख़ को एक सात साल की बच्ची का अपहरण करने और उससे भीख मँगवाने के आरोप में गिरफ़्तार किया था। बच्ची ने तीन महींने में 5,000 रुपए की भीख माँगी थी। बेघर परिवार की बच्ची का अपहरण उस समय हुआ जब वो रेलवे स्टेशन के पास सड़क किनारे खेल रही थी। गुप्त सूचना मिलने पर पुलिस ने उसे बरमाद किया था।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरि के मौत के दिन बंद थे कमरे के सामने लगे 15 CCTV कैमरे, सुबूत मिटाने की आशंका: रिपोर्ट्स

पूरा मठ सीसीटीवी की निगरानी में है। यहाँ 43 कैमरे लगाए गए हैं। इनमें से 15 सीसीटीवी कैमरे पहली मंजिल पर महंत नरेंद्र गिरि के कमरे के सामने लगाए गए हैं।

अवैध कब्जे हटाने के लिए नैतिक बल जुटाना सरकारों और उनके नेतृत्व के लिए चुनौती: CM योगी और हिमंता ने पेश की मिसाल

तुष्टिकरण का परिणाम यह है कि देश के बहुत बड़े हिस्से पर अवैध कब्जा हो गया है और उसे हटाना केवल सरकारों के लिए कानून व्यवस्था की चुनौती नहीं बल्कि राष्ट्रीय सभ्यता के लिए भी चुनौती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,827FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe