Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजबेटी को जमीन पर पटक शौहर ने दिया तीन तलाक, पीड़िता ने की आत्महत्या...

बेटी को जमीन पर पटक शौहर ने दिया तीन तलाक, पीड़िता ने की आत्महत्या की कोशिश

पीड़िता फ़िलहाल अस्पताल में मौत से जूझ रही है। दो बच्चों की माँ की तहरीर पर पुलिस ने शौहर और ससुराल के अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फ़िलहाल पुलिस ने महिला की पहचान सार्वजनिक नहीं की है।

अहमदाबाद में तीन तलाक से पीड़ित मुस्लिम महिला ने बुधवार को आत्महत्या करने की कोशिश की है। हालाँकि, समय रहते मेडिकल सहायता मिल जाने से पीड़िता की जान बच गई है, लेकिन पुलिस ने उसके शौहर और ससुराल वालों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। यह विडंबना है कि यह मसला राज्यसभा में तीन तलाक को जुर्म करार दिए जाने के एक दिन से कम समय में प्रकाश में आया है। उसने आत्महत्या का प्रयास किस प्रकार से किया, खबर लिखे जाने तक इसकी जानकारी हमें नहीं मिल पाई है।

पीड़िता के अनुसार शौहर ने उनसे पैसे की माँग की। जब पीड़िता पैसे का इंतजाम नहीं कर पाई तो कथित तौर पर शौहर ने दम्पत्ति की बेटी को ज़मीन पर पटक दिया, और पीड़िता को तीन तलाक दे दिया। पीड़िता के अनुसार इस्लामी कानून उन्हें यह तलाक-ए-बिद्दत मंज़ूर करने के लिए मजबूर करता है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक पीड़िता फ़िलहाल अस्पताल में मौत से जूझ रही है। दो बच्चों की माँ की तहरीर पर पुलिस ने शौहर और ससुराल के अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। फ़िलहाल पुलिस ने महिला की पहचान सार्वजनिक नहीं की है

मंगलवार को ही राज्यसभा में तीन तलाक को अपराध बनाने वाले बिल को चर्चा के बाद वोटिंग के जरिए पास कर दिया गया है। लोकसभा से बीती 26 जुलाई को ही इसे मंजूरी मिल चुकी थी। इस बिल में तीन तलाक को गैर कानूनी बनाते हुए 3 साल की सजा और जुर्माने का प्रावधान शामिल है। यह बिल 21 फरवरी को पास किए गए अध्यादेश का स्थान लेगा। इसके बाद भी इस मामले का सामने आना मुस्लिम समाज में तलाक-ए-बिद्दत किस हद तक जड़ें जमाया हुआ है, इसका उदाहरण है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राहुल गाँधी ने POCSO एक्ट का किया उल्लंघन, NCPCR ने ट्वीट हटाने के दिए निर्देश: दिल्ली की पीड़िता के माता-पिता की फोटो शेयर की...

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (NCPCR) ने राहुल गाँधी के ट्वीट पर संज्ञान लिया है और ट्विटर से इसके खिलाफ कार्रवाई करने की माँग की है।

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,975FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe