Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजहाथरस केस: पीड़िता और माँ के सबसे पहले बयानों का स्पष्ट वीडियो सामने आया,...

हाथरस केस: पीड़िता और माँ के सबसे पहले बयानों का स्पष्ट वीडियो सामने आया, गला दबाने की बात

उत्तर प्रदेश के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार का कहना है कि फ़ोरेंसिक रिपोर्ट में ये साफ़ कहा गया है कि महिला के साथ बलात्कार नहीं हुआ, बल्कि मौत का कारण गर्दन में आई गंभीर चोटें हैं।

उत्तर प्रदेश के हाथरस स्थित बुलगढ़ी ग्राम में हुई घटना को लेकर सोशल मीडिया से लेकर मुख्पयधारा की मीडिया में कई प्रकार की बातें चल रही हैं। एक ओर जहाँ राजनीतिक दल इस घटना का राजनीतिकरण करने की हर संभव कोशिश कर रहे हैं तो वहीं इस सब उठा-पटक के बीच शायद तथ्य बहुत पीछे छूटते भी नजर आ रहे हैं।

घटना के वक्त मौके पर मौजूद लोगों से लेकर, अस्पताल में पीड़िता के पहले बयान, लड़की के भाई द्वारा स्वयं लिखित पहली तहरीर के बाद अब घटना के फौरन बाद मृतका की माँ का दिया गया सबसे पहला बयान सामने आया है। इन वीडियो को शेयर करने वालों का दावा है कि मृतका की माँ ने घटना के बाद जो सबसे पहले बयान दिए थे, उनमें कहीं भी बलात्कार का जिक्र नहीं था।

ट्विटर पर मृतका की माँ का एक वीडियो शेयर करते हुए ऋषि बागरी ने लिखा है – “यूपी को बदनाम करने की साज़िश रचने वालों को एक्सपोज़ करने वाला वीडियो, घटना के तत्काल बाद माँ का असली बयान।”

इस वीडियो में मृतका की माँ कहते सुनी जा सकती हैं – “आज तो कुछ बात ही नहीं थी, हम घास काट रहे थे। अब पीछे से कोई आ जाएगा तो हमें कैसे पता चलेगा? यही बात है, और कोई बात नहीं है। छोरा… पीछे से ही आ गया और बाजरे में खींच कर ले गया। संदीप नाम था उसका। गाँव का ही लड़का है, ठाकुरों का। रस्सी से उसने गर्दन ‘काट’ दी। मैं तो देख भी नहीं पाई, मारा-मारी हो रही थी।”

इस वीडियो में पीछे पीड़िता लेटी हुई नजर आ रही हैं। वीडियो में लड़की ने जो कहा वो भी पूर्ण रूप से स्पष्ट नहीं है लेकिन लड़की ने भी संदीप का नाम स्पष्ट रूप से लिया है और किसी का नाम वह नहीं बोल रही, न ही माँ ने किसी और का नाम लिया। घटना के समय पीड़िता की माँ कुछ ही दूर पर थी।

बताया जा रहा है किये वीडियो इस घटना के फ़ौरन बाद के हैं जब तक कि यह मुद्दा सनसनी नहीं बना था। वहीं, शुरुआत के ही एक अन्य वीडियो में, पीड़िता की माँ का बयान था, “अकेला लड़का था संदीप जिसने मारा, पुरानी रंजिश चल रही थी!”

एक अन्य वीडियो में पीड़िता की माँ का कहना है कि हम तो (पीड़िता भी साथ में ) घास लेने गए थे, वहीं मारपीट हो गई, मैं कुछ दूर पे थी। पीड़िता की माँ आगे कहती हैं, “अकेला लड़का था संदीप जिसने मारा, पुरानी रंजिश चल रही थी!”

इस ट्वीट में पीड़िता की माँ का बयान सुन सकते हैं –

पीड़िता का वीडियो उनकी माँ के बयान के बाद बनाया गया था, जिसमें वह अपनी पूरी जीभ भी दिखा रही हैं और गला दबाने की बात कह रही हैं।

घटना के कुछ देर बाद रिकॉर्ड किए गए वीडियो में पीड़िता और उनकी माँ ने बलात्कार की बात नहीं कही है। इसमें उन्होंने मुख्य अभियुक्त का नाम लिया है और हत्या के प्रयास की बात की है। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के एडीजी (लॉ एंड ऑर्डर) प्रशांत कुमार का कहना है कि फ़ोरेंसिक रिपोर्ट में ये साफ़ कहा गया है कि महिला के साथ बलात्कार नहीं हुआ, बल्कि मौत का कारण गर्दन में आई गंभीर चोटें हैं।

घटना के फ़ौरन बाद पीड़िता और उनकी माँ के बयान को आप इन वीडियो में देख सकते हैं –

हाथरस कांड

मंगलवार (सितम्बर 29, 2020) की सुबह दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में पीड़िता की मौत के बाद से हाथरस मामले को लेकर काफी बहस और राजनीतिक उथल-पुथल देखी जा सकती हैं। हाथरस पुलिस ने बृहस्पतिवार को कहा कि ‘जबरन यौन क्रिया’ की अभी तक भी पोस्टमार्टम रिपोर्ट में पुष्टि नहीं हो पाई है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में गला घोंटने से मौत को मौत का कारण बताया गया था।

मंगलवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एक कथित सामूहिक बलात्कार पीड़िता की मौत हो गई। उसके साथ दो सप्ताह पहले कथित तौर पर बलात्कार किया गया था। इस मामले ने देशव्यापी आक्रोश देखा जा रहा है। कुछ रिपोर्ट्स में दावा किया गया कि हाथरस पुलिस ने परिवार के सदस्यों की सहमति के बिना मंगलवार रात लड़की का जबरन अंतिम संस्कार कर दिया। हालाँकि, पुलिस ने बाद में कहा था कि दाह संस्कार के दौरान पीड़िता के पिता मौजूद थे

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

पीवी सिंधु ने ओलम्पिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता: वेटलिफ्टिंग और बॉक्सिंग के बाद बैडमिंटन ने दिलाया देश को तीसरा मेडल

भारत की बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु ने टोक्यो ओलंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता। चीनी खिलाड़ी को 21-13, 21-15 से हराया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,477FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe