Sunday, August 1, 2021
Homeदेश-समाजउस्मान ने किया रेप, उसकी अम्मी 2 महीने से दे रही थी धमकी, पीड़िता...

उस्मान ने किया रेप, उसकी अम्मी 2 महीने से दे रही थी धमकी, पीड़िता ने लगाई फाँसी

जून में उस्मान खान के खिलाफ पीड़िता ने दुष्कर्म की शिकायत की थी। उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। इसके बाद उस्मान के परिजन पीड़िता और उसके परिवार वालों पर राजीनामे के लिए लगातार दबाव बना रहे थे।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक दुष्कर्म पीड़िता ने फाँसी लगाकर अपनी जान दे दी। मृतका के परिजनों का आरोप है कि आरोपित युवक उस्मान खान के परिजन पिछले 2 महीने से पीड़िता को धमका रहे थे और लगातार उस पर समझौते के लिए दबाव बना रहे थे, जिससे पीड़िता काफी परेशान चल रही थी। शुक्रवार (अक्टूबर 11, 2019) की शाम को भी उस्मान की अम्मी पीड़िता के घर गई और उसे जान से मारने की धमकी दी। इससे परेशान युवती ने शनिवार (अक्टूबर 12, 2019) की दोपहर में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। 

घटना जनकगंज इलाके की है। मृतका के परिजनों ने आरोपित के परिजनों को मौत का जिम्मेदार ठहराया है। बता दें कि जनकगंज इलाके की रहने वाली एक युवती के साथ घोसीपुरा निवासी उस्मान खान ने दुष्कर्म किया था। युवती ने जून में जनकगंज थाने में FIR दर्ज कराई थी। इसके बाद जनकगंज थाना पुलिस ने आरोपित उस्मान को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। घटना के बाद से ही उस्मान के परिजन युवती व उसके परिजनों पर राजीनामा करने के लिए दबाव बना रहे थे। 

मृतका के पिता का कहना है कि 20 अगस्त को भी उस्मान की अम्मी मुन्नी ने यह कहकर धमकाया था कि अगर राजीनामा नहीं किया तो जान से मार देंगे। इस मामले में जनकगंज थाने में पीड़िता ने शिकायती आवेदन दिया। मृतका के पिता ने बताया कि 20 अगस्त को जनकगंज थाने में शिकायती आवेदन दिया था, लेकिन पुलिस ने गंभीरता से नहीं लिया। लगातार इस मामले में इन लोगों की तरफ से धमकी मिल रही थी, लेकिन पुलिस ने एक बार भी उनसे पूछताछ तक नहीं की।

आरोपित के परिजनों की तरफ से धमकियों का सिलसिला जारी रहा। बताया जा रहा है कि शुक्रवार (11 अक्टूबर) शाम को उस्मान की अम्मी फिर से युवती के घर पहुँची और उसे धमकाया। जिसके बाद परेशान युवती ने अगले दिन यानी शनिवार दोपहर को अपने कमरे में फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस का कहना है कि इस मामले में कोई शिकायत दर्ज नहीं की गई थी, लेकिन अब पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने यह भी कहा कि अगर आरोपित के परिजन मृतका और उसके परिजनों को परेशान कर रहे थे तो उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

रसगुल्ला के कारण राजदीप ने बंगाल हिंसा पर नहीं पूछा सवाल: TheLallantop के शो में कबूली बात, देखें वीडियो-समझें पत्रकारिता

राजदीप सरदेसाई ने कहा कि उन्होंने CM ममता बनर्जी से बंगाल हिंसा पर इसीलिए सवाल नहीं पूछे, क्योंकि ऐसा करने पर उन्हें रसगुल्ला नहीं मिलता।

जम्मू-कश्मीर में अब पत्थरबाजाें, देशद्रोहियों को नहीं मिलेगी सरकारी नौकरी और पासपोर्ट: सरकार का आदेश, सर्कुलर जारी

पत्थरबाजों और देश विरोधी गतिविधियों में शामिल रहने वाले लोगों को ना तो सरकारी नौकरी दी जाएगी और न ही उनके पासपोर्ट का वेरिफिकेशन किया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,434FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe