Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाजNITI आयोग के अधिकारी में कोरोना वायरस की पुष्टि के बाद 48 घंटे के...

NITI आयोग के अधिकारी में कोरोना वायरस की पुष्टि के बाद 48 घंटे के लिए बंद की गई बिल्डिंग

इस सूचना मिलने के बाद बिल्डिंग को 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। वहाँ डिसइन्‍फेक्‍शन और सेनिटाइजेशन का काम किया जा रहा है और कोविड पॉ‍जिटिव पाए गए अधिकारी के संपर्क में आए सभी लोगों को सेल्‍फ क्‍वारंटाइन में रहने को कहा गया है।

देश में कोरोना के फैलते संक्रमण ने नीति आयोग (NITI Aayog) को भी अब अपनी चपेट में ले लिया है। मंगलवार (अप्रैल 28, 2020) को नीति आयोग में काम करने वाला एक अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। यह सूचना आज सुबह 9 बजे मिली। इसके बाद पूरी बिल्डिंग को 48 घंटों के लिए सील कर दिया गया है। इसकी जानकारी नीति आयोग ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से दी है।

ट्वीट में नीति आयोग की ओर से कहा गया, “नीति भवन में काम करने वाले एक कर्मचारी को कोविड-19 (COVID-19) पॉजिटिव पाया गया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की ओर से जारी सभी दिशानिर्देशों का नीति आयोग पालन कर रहा है। बिल्डिंग को सील कर दिया गया है।”

नीति आयोग में सलाहकार आलोक कुमार ने इस संबंध में कहा, “NITI भवन में एक निदेशक स्तर का अधिकारी कोरोना पॉजिटिव पाया गया है। आज सुबह 9 बजे, उन्हें अपनी रिपोर्ट मिली और फिर उन्होंने अधिकारियों को सूचित किया।”

उन्होंने ये भी बताया कि इस सूचना मिलने के बाद बिल्डिंग को 48 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। वहाँ डिसइन्‍फेक्‍शन और सेनिटाइजेशन का काम किया जा रहा है और कोविड पॉ‍जिटिव पाए गए अधिकारी के संपर्क में आए सभी लोगों को सेल्‍फ क्‍वारंटाइन में रहने को कहा गया है।

सोमवार को सुप्रीम कोर्ट का एक कर्मचारी भी कोरोना संक्रमित पाया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक वो 16 अप्रैल को 2 रजिस्ट्रार के कॉन्टैक्ट में आया था। इसके बाद दोनों को सुरक्षा लिहाज से सेल्फ क्वारंटाइन करने की सलाह दी गई। इसके अलावा, संक्रमित पाए गए कर्मचारी का इलाज फिलहाल दिल्ली के सरकारी अस्पताल में चल रहा है। प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए कुछ अन्य लोगों को भी ढूँढा जा रहा है, जो उसके संपर्क में थे।

उल्लेखनीय है कि हाल ही में इससे पहले नागर विमानन मंत्रालय के मुख्यालय को भी सील किया गया था। वहाँ भी एक कर्मचारी कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया था जो 15 अप्रैल को दफ्तर गया था।

बता दें कि देशव्यापी लॉकडाउन और सख्ती के बाद भी देशभर में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 1543 नए मामले सामने आए हैं और 62 लोगों की मौत हो गई है, जो अब तक सर्वाधिक है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,645FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe