Thursday, July 29, 2021
Homeदेश-समाजपंजाब: गुरुद्वारे से दबोचे गए 7 निहंग, कर्फ्यू पास मॉंगने पर ASI का काट...

पंजाब: गुरुद्वारे से दबोचे गए 7 निहंग, कर्फ्यू पास मॉंगने पर ASI का काट दिया था हाथ

निहंग सिखों का एक समूह गाड़ी में सवार होकर सब्जी मंडी पहुँचा। कर्फ्यू पास मॉंगा गया तो बैरिकेड तोड़ गाड़ी भगाने की कोशिश की। इसके बाद बाद पुलिस ने उनकी गाड़ी को घेर लिया। इससे गुस्साए निहंग ने तलवार लेकर पुलिस पर हमला कर उन्हें जख्मी कर दिया और फरार हो गए।

पंजाब के पटियाला में रविवार की सुबह पुलिस पर हमला किया गया था। हमले में एक एएसआई का हाथ कट कर अलग हो गया तो कई अन्य जख्मी हो गए। इस मामले में सात निहंग सिख (परंपरागत हथियार रखने वाले और नीली लंबी कमीज पहनने वाले सिख) गिरफ्तार किए गए हैं। इन्हें बलबेरा गाँव के गुरुद्वारे से दबोचा गया।

इनमें से एक पुलिस फायरिंग में घायल हो गया और उसे अस्पताल ले जाया गया है। यह पूरा ऑपरेशन पटियाला जोन के आईजी जतिंदर सिंह औलख की देखरेख में चला। पुलिस पर हमले के बाद ये लोग गुरुद्वारे में छिप गए थे। अंदर से गोलीबारी भी की। बाद में कमांडो टीम ने गुरुद्वारे से 7 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

पंजाब के स्पेशल चीफ सेक्रेटरी केबीएस सिद्धू ने बताया कि घायल एएसआई हरजीत सिंह की प्लास्टिक सर्जरी शुरू कर दी गई है।

बता दें कि रविवार (12 अप्रैल, 2020) सुबह निहंग सिखों की एक भीड़ ने पुलिस की टीम पर हमला बोल दिया था। हमले में एक एएसआई का हाथ कलाई से कट गया। वहीं कई अन्य पुलिसकर्मी भी घायल हो गए। घायल पुलिसकर्मियों को पटियाला के अस्पताल में ले जाया गया, जबकि जिस एएसआई का हाथ कटा है उनके इलाज पीजीआई चंडीगढ़ में चल रहा है।

पटियाला के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मनदीप सिंह सिद्धू ने बताया था कि निहंग सिखों का एक समूह गाड़ी में सवार होकर सब्जी मंडी पहुँचा। जब उनसे कर्फ्यू पास दिखाने के लिए कहा गया तो उन्होंने सब्जी मंडी स्टाफ के साथ झगड़ा करते हुए बैरिकेड तोड़ गाड़ी भगाने की कोशिश की। इसके बाद बाद पुलिस ने इनकी गाड़ी को घेर लिया। इससे गुस्साए निहंग ने तलवार लेकर पुलिस पर हमला कर उन्हें जख्मी कर दिया और मौके से फरार हो गए।

पटियाला एसएसपी मनदीप सिंह सिद्धू के मुताबिक हमले के बाद ये लोग वहाँ से भाग गए। पुलिस टीम ने जब इन लोगों का पीछा किया तो ये लोग बलबेरा के पास एक गुरुद्वारे में छिप गए। गुरुद्वारे से आरोपितों ने कथित तौर पर फायरिंग भी की और पुलिसवालों को वहाँ से चले जाने के लिए कहा। इस दौरान आरोपितों ने पुलिस वालों को गालियाँ और धमकी भी दी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कर्ज में डूबा, 4 साल से एडमिशन नहीं: दामाद के परिवार का मेडिकल कॉलेज, दरियादिल हुई भूपेश बघेल सरकार

दामाद के परिवार से जुड़े मेडिकल कॉलेज पर सरकारी दरियादिली को लेकर छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सवालों के घेरे में हैं।

‘मेरी रगों में मुस्लिम खून है’ – सुनील दत्त को संजय दत्त का जवाब… और वो किताब, जिसे भेजा गया लीगल नोटिस

किताब के लेखक के मुताबिक संजय दत्त ने कहा था, “क्योंकि मेरी रगों में मुस्लिम खून है और शहर में जो रहा है, उसे मैं सहन नहीं कर सका।”

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,802FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe