Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजमुस्लिम लड़की, हिन्दू बॉयफ्रेंड की प्रेम कहानी: प्रेमी को घर-गाँव वालों से पिटता देख...

मुस्लिम लड़की, हिन्दू बॉयफ्रेंड की प्रेम कहानी: प्रेमी को घर-गाँव वालों से पिटता देख प्रेमिका ने काट ली नस

जेबा परवीन और शिवराम एक दूसरे से प्यार करते थे और दोनों में लगभग एक साल से प्रेम सम्बन्ध था। कुछ दिनों पहले इन्होंने एक मंदिर में शादी भी रचाई थी। लेकिन लड़की के मौसा मोहम्मद ज़ुबैर ने...

बिहार के पूर्णिया में अपने बॉयफ्रेंड को पिटते देख कर प्रेमिका ने नस काट ली। केनगर थाना क्षेत्र के बेगमपुर गाँव में आक्रोशित प्रेमिका ने ख़ुद की ही जान लेने की कोशिश की क्योंकि लोग उसके प्रेमी की पिटाई कर रहे थे। सूचना पर पहुँची पुलिस ने युवक शिवराम कुमार को हिरासत में ले लिया है। जबकि जेबा परवीन को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है। युवक मधेपुरा के मुरलीगंज का निवासी है।

ख़बर के अनुसार, जेबा परवीन और शिवराम एक दूसरे से प्यार करते थे और दोनों में लगभग एक साल से प्रेम सम्बन्ध था। कुछ दिनों पहले इन्होंने एक मंदिर में शादी भी रचाई थी। जेबा अपने नाना मोहम्मद अब्दुल समद के यहाँ रहती थी और पूर्णिया पढ़ने के लिए जाया करती थी। वह गाँव से शहर साइकल से जाती थी। वहीं कोचिंग सेंटर में उसकी जान-पहचान शिवराम से हुई थी। उक्त घटना बुधवार (सितम्बर 11, 2019) की है, जब शिवराम अपनी प्रेमिका के गाँव पहुँचा था और जेबा भी घर से निकल चुकी थी।

लेकिन, भागने के क्रम में ग्रामीणों ने युवक शिवराम को धर दबोचा और उसकी पिटाई करने लगे। प्रेमिका जेबा ने इसका विरोध किया। पिटाई नहीं रोके जाने से क्षुब्ध होकर अंततः उसने अपनी नस काट ली। घटना के बाद स्थानीय लोगों व जन प्रतिनिधियों ने सुलह का भी प्रयास किया लेकिन लड़की के मौसा मोहम्मद ज़ुबैर ने किसी की भी बात मानने से साफ़ इनकार कर दिया।

जेबा 10वीं की छात्रा है जबकि शिवराम 12वीं में पढ़ता है। फिलहाल जेबा पूर्णिया महिला हेल्प लाइन में है जबकि उसके प्रेमी शिवराम केनगर थाना में बंद है। दोनों घर से भाग कर कहीं और जाने की तैयारी में थे। इसी क्रम में उन्होंने भागने की योजना बनाई थी और शिवराम जेबा को लेने के लिए उसके गाँव आया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ये नंगे, इनके हाथ अपराध में सने, फिर भी शर्म इन्हें आती नहीं… क्योंकि ये है बॉलीवुड

राज कुंद्रा या गहना वशिष्ठ तो बस नाम हैं। यहाँ किसिम किसिम के अपराध हैं। हिंदूफोबिया है। खुद के गुनाहों पर अजीब चुप्पी है।

‘द प्रिंट’ ने डाला वामपंथी सरकार की नाकामी पर पर्दा: यूपी-बिहार की तुलना में केरल-महाराष्ट्र को साबित किया कोविड प्रबंधन का ‘सुपर हीरो’

जॉन का दावा है कि केरल और महाराष्ट्र पर इसलिए सवाल उठाए जाते हैं, क्योंकि वे कोविड-19 मामलों का बेहतर तरीके से पता लगा रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,277FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe