Tuesday, September 28, 2021
Homeदेश-समाजराजस्थान: अस्पताल में लड़की का नग्न शव, कॉन्ग्रेस MLA बोले- प्रेम प्रसंग का मामला;...

राजस्थान: अस्पताल में लड़की का नग्न शव, कॉन्ग्रेस MLA बोले- प्रेम प्रसंग का मामला; परिजनों का रेप का आरोप

इससे पहले जब दो नाबालिग लड़कियों की खबर बारां से सामने आई थी, तब भी प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्विटर पर यह दावा किया था कि नाबालिगों के साथ जबरदस्ती नहीं हुई और वह अपनी मर्जी से लड़कों के पास गई थी।

कॉन्ग्रेस शासित राजस्थान से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। प्रदेश के बांसवाड़ा जिले के खमेरा थानांतर्गत एक अस्पताल में नग्न अवस्था में एक लड़की का शव मिला है। इसकी जानकारी टाइम्स नाउ की रिपोर्ट में दी गई है।

पुलिस ने इस मामले में आईपीसी की धारा 302(हत्या), 366 (अपहरण) और 372 (वेश्यावृत्ति के लिए नाबालिग बच्चों को बेचना) में मामला दर्ज किया है। परिवार के बार-बार अपील करने के बावजूद कथित तौर पर अभी तक मृतका का पोस्टमॉर्टम नहीं हुआ है। टाइम्स नाऊ के अनुसार, घटनास्थल से फरार होने से पहले आरोपित ने पीड़िता को अस्पताल में छोड़ा था।

परिवार का दावा है कि उनकी लड़की का बलात्कार किया गया और जहर देकर मारा गया। लेकिन, तब भी पुलिस ने इस मामले में आरोपित के ख़िलाफ़ रेप की धारा नहीं लगाई। इसी बीच घटोल के कॉन्ग्रेस एमएलए हरेंद्र निनामा ने लड़की पर हुए अत्याचारों को तुच्छ बताने के प्रयास में पूरे घटनाक्रम को प्रेम-प्रसंग से जोड़ दिया।

गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है कि किसी कॉन्ग्रेस नेता ने रेप के मामले को ‘छोटा’ बताने का प्रयास किया हो। इससे पहले जब दो नाबालिग लड़कियों की खबर बारां से सामने आई थी, जिन्हें कोटा,जयपुर, अजमेर ले जाकर 3 दिनों तक रेप किया गया, तब भी प्रदेश के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने ट्विटर पर यह दावा कर दिया था कि नाबालिगों के साथ जबरदस्ती नहीं हुई और वह अपनी मर्जी से लड़कों के पास गई थी।

राजस्थान के सीएम ने ट्वीट कर बताया था कि लड़कियों ने सीआरपीसी सेक्शन 164 के बयान में मजिस्ट्रेट के सामने खुद स्वीकार किया है कि उन्हें लड़कों द्वारा मजबूर नहीं किया गया था। इसके अलावा सीएम ने उन लड़कों के भी नाबालिग होने का दावा अपने ट्वीट में किया।

बता दें कि प्रदेश सीएम का बयान ऐसे मामले में सामने आया था, जहाँ दोनों पीड़ित बहनों ने कथित तौर पर कैमरे पर स्वीकार किया था कि दोनों लड़कों ने उनका अपहरण कर लिया था और उन्हें नशीली दवा देकर उनका कई दिनों तक बलात्कार किया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘उमर खालिद को मिली मुस्लिम होने की सजा’: कन्हैया के कॉन्ग्रेस ज्वाइन करने पर छलका जेल में बंद ‘दंगाई’ के लिए कट्टरपंथियों का दर्द

उमर खालिद को पिछले साल 14 सितंबर को गिरफ्तार किया गया था, वो भी उत्तर पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा के मामले में। उसपे ट्रंप दौरे के दौरान साजिश रचने का आरोप है

कॉन्ग्रेस आलाकमान ने नहीं स्वीकारा सिद्धू का इस्तीफा- सुल्ताना, परगट और ढींगरा के मंत्री पदों से दिए इस्तीफे से बैकफुट पर पार्टी: रिपोर्ट्स

सुल्ताना ने कहा, ''सिद्धू साहब सिद्धांतों के आदमी हैं। वह पंजाब और पंजाबियत के लिए लड़ रहे हैं। नवजोत सिंह सिद्धू के साथ एकजुटता दिखाते हुए’ इस्तीफा दे रही हूँ।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
125,014FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe