Saturday, July 31, 2021
Homeदेश-समाजED ने दिल्ली दंगो में मुख्य आरोपित AAP के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन के...

ED ने दिल्ली दंगो में मुख्य आरोपित AAP के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन के 6 ठिकानों पर मारे छापे

तकरीबन डेढ़ माह पहले ही प्रवर्तन निदेशालय ने ताहिर हुसैन पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत केस रजिस्टर किया था। ताहिर हुसैन पर आरोप था कि फर्जी कंपनियों का इस्तेमाल कर करीब 1 करोड़ 16 लाख रुपए नागरिकता संशोधन कानून के विरोध प्रदर्शनों (CAA Protest) और दिल्ली में दंगों के लिए कैश में फाइनेंस किया गया था।

दिल्ली में हुए हिन्दू विरोधी दंगों में मुख्य आरोपित आम आदमी पार्टी (AAP) के पूर्व पार्षद ताहिर हुसैन (Tahir Hussain) के दिल्ली और नोएडा स्थित घर पर प्रवर्तन निदेशालय (ED) की टीम ने 6 ठिकानों पर छापेमारी की है। ताहिर हुसैन के खिलाफ खिलाफ इसको लेकर चार्जशीट भी दाखिल की जा चुकी है।

तकरीबन डेढ़ माह पहले ही प्रवर्तन निदेशालय ने ताहिर हुसैन पर मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (PMLA) के तहत केस रजिस्टर किया था। ताहिर हुसैन पर आरोप था कि फर्जी कंपनियों का इस्तेमाल कर करीब 1 करोड़ 16 लाख रुपए नागरिकता संशोधन कानून के विरोध प्रदर्शनों (CAA Protest) और दिल्ली में दंगों के लिए कैश में फाइनेंस किया गया था।

प्रवर्तन निदेशालय ने ताहिर हुसैन के दिल्ली के कुछ ठिकानों पर इसी छानबीन को लेकर छापा मारा है, जिसमें से नार्थ ईस्ट दिल्ली में 4 लोकेशन्स पर रेड चल रही है। ED के मुताबिक दिल्ली के अलावा नोएडा के ठिकानों पर भी छापेमारी की कार्रवाई चल रही है।

उल्लेखनीय है कि ताहिर हुसैन फिलहाल आईबी स्टाफ अंकित शर्मा की हत्या और दिल्ली हिंसा में संलिप्तता के चलते गिरफ्तार है। आईबी में कार्यरत अंकित शर्मा की हत्या करने के बाद उनकी लाश को नाले में फेंक दिया गया था। मामले में गिरफ्तार अन्य आरोपित सलमान ने बताया था कि दंगाइयों ने अंकित का मजहब जानने के लिए उनके कपड़े उतारे थे। धर्म पुख्ता कर उन्हें चाकुओं से गोद डाला। सलमान ने बताया कि उसने खुद अंकित पर 14 बार चाकू से वार किए। अंकित के चेहरे पर काला कपड़ा डाल उन्हें आप के निलंबित पार्षद ताहिर हुसैन के घर में ले जाया गया था। अंकित का शव 26 फरवरी को चॉंदबाग के नाले से मिला था।

उल्लेखनीय है कि सीएए, एनआरसी विरोध के नाम पर 23-24 फरवरी को दिल्ली में शुरू हुई हिंदू विरोधी हिंसा में 53 लोगों ने अपनी जान गँवा दी थी। 200 से अधिक लोग घायल हुए थे। इस दौरान दंगाइयों ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद, मौजपुर, बाबरपुर, घोंडा, चाँदबाग, शिव विहार, भजनपुरा, यमुना विहार इलाकों में सरकारी और निजी संपत्ति को काफी नुकसान पहुँचाया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

माँ का किडनी ट्रांसप्लांट, खुद की कोरोना से लड़ाई: संघर्ष से भरा लवलीना का जीवन, ₹2500/माह में पिता चलाते थे 3 बेटियों का परिवार

टोक्यो ओलंपिक में मेडल पक्का करने वाली लवलीना बोरगोहेन के पिता गाँव के ही एक चाय बागान में काम करते थे। वो मात्र 2500 रुपए प्रति महीने ही कमा पाते थे।

फ्लाईओवर के ऊपर ‘पैदा’ हो गया मज़ार, अवैध अतिक्रमण से घंटों लगता है ट्रैफिक जाम: देश की राजधानी की घटना

ताज़ा घटना दिल्ली के आज़ादपुर की है। बड़ी सब्जी मंडी होने की वजह से ये इलाका जाना जाता है। यहाँ के एक फ्लाईओवर पर अवैध मजार बना दिया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,163FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe