NDTV ने मुसलमान बलात्कारी को ‘बाबा’ कह कर छुपाया, ट्वीट में लिखा तांत्रिक

यदि अपराधी का नाम पता चल गया तो उसके मजहब का भी पता लग जाएगा। जैसे आज तक आतंकवाद का कोई धर्म ऐसे न्यूज़ चैनल नहीं ढूँढ पाए हैं जब आतंकी मुस्लिम होता है। लेकिन ऐसों के हिसाब से 'हिन्दू बलात्कारी' और 'भगवा आतंकवाद' से लेकर 'हिन्दू टेरर' होता है।

NDTV की मुस्लिमपरस्ती ऐसी खबरों में दिख ही जाती है जिसमें आरोपित समुदाय विशेष से हो। मुस्लिम अपराधियों को इस तरह पेश किया जाता है जैसे वह गुमनाम हो या फिर उसे हिन्दू प्रतीक के पीछे छिपाने की कोशिश करता है।

ताजा मामला भोपाल का है। आरोपित 55 वर्षीय अनवर खान है। वह ‘निकाई अब्बा’ है, अर्थात वह व्यक्ति जो निकाह के वक़्त औरत का हाथ उसके शौहर के हाथ में देता है। आरोपित अनवर खान निकाह हलाला के नाम पर एक युवती का बलात्कार करता है। पुलिस के सामने उसने अपना गुनाह भी कबूला है। महिला उसके खिलाफ नामजद FIR करती है। लेकिन NDTV जैसे न्यूज़ चैनल चूँकि अपराधी मुस्लिम है तो उसे ‘तांत्रिक’, ‘बाबा’, ‘धर्मगुरु’ जैसे शब्दों का प्रयोग करते हुए मामले को स्पिन देकर तथाकथित सामाजिक सौहार्द बनाए रखने की कोशिश करता है।

यदि अपराधी का नाम पता चल गया तो उसके मजहब का भी पता लग जाएगा। जैसे आज तक आतंकवाद का कोई धर्म ऐसे न्यूज़ चैनल नहीं ढूँढ पाए हैं जब आतंकी मुस्लिम होता है। लेकिन ऐसों के हिसाब से ‘हिन्दू बलात्कारी’ और ‘भगवा आतंकवाद’ से लेकर ‘हिन्दू टेरर’ होता है। क्योंकि इससे उनके हिसाब से मुस्लिमों के अपराध को मास्क करने या बाद में ऐसे फर्जी नैरेटिव बनाने में बल मिलता है कि देखिए ज़्यादातर बलात्कारी या अपराधी तो ‘हिन्दू बाबा’ या ‘तांत्रिक’ ही हैं, आतंकी भी वही हैं, मुस्लिम तो शांति के दूत हैं। यही वे दूत हैं जो गंगा-जमुनी तहजीब को बचाए हुए हैं। ऐसे में NDTV जैसे चैनलों की ज़िम्मेदारी बढ़ जाती है कि गलती से भी ऐसे शब्दों का प्रयोग न हो जाए जिससे डरा हुआ मुसलमान और डर जाए। जबकि सच्चाई यही है कि NDTV और वामपंथी विचारधारा के पोर्टल और चैनल ही सबसे अधिक डर फैलाते हैं। बात-बे-बात में आपातकाल लागू हो जाता है, लेकिन जब सही में लगा था उस पर मौन रहते हैं। इन्हे जर्मनी का हिटलर तो हर समय भारत में साकार होता दिखता है लेकिन स्टालिन, लेनिन, माओ जैसे नरपिचाश मसीहा नजर नहीं आते हैं। डर अगर मुस्लिमों या फिर देश में कोई बोता आया है तो यही मीडिया गिरोह के लोग हैं।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

गौरतलब है, NDTV अपने रिपोर्ट में लिखता है, “भोपाल में एक 22 वर्षीय महिला को कथित तौर पर पति ने तीन तलाक दे दिया और फिर उसे एक बाबा के पास भेज दिया। उस बाबा ने हलाला के बहाने उससे कथित रूप से बलात्कार किया।”

NDTV

NDTV आगे लिखता है, “भोपाल में मुस्लिम महिला (विवाह अधिकार संरक्षण एक्ट 2019 ) के तहत एक बाबा और पीड़ित महिला के पति के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। एसएचओ अजय नायर ने बताया कि महिला की शिकायत मिली है कि उसके पति ने उसे तीन तलाक दिया। इसके बाद उसने बाबा को बुलाया और कहा कि वह पत्नी को अपनाना चाहता है और हलाला चाहता है। महिला का आरोप है कि उसके ससुराल के लोग बाबा के प्रति घोर अंधविश्वास से घिरे हैं। आरोपी 51 साल के अनवर खान ने स्वीकार किया कि उसने महिला से लगातार तीन दिन तक रेप किया।”

लेकिन ट्विटर पर NDTV ‘तांत्रिक’ लिखकर इसे बेचता है ताकि कोई पढ़े तो लगे कि अपराधी हिन्दू होगा। ऐसा NDTV ने पहली बार नहीं किया है। अपने दर्शकों को झूठे और ट्विस्टेड सूचनाओं से बरगला कर एक मजहब को बचाने और हिन्दुओं और इसके प्रतीकों को बदनाम कर, वामपंथी और देश विरोधी विचारधारा से पोषित ऐसे न्यूज़ चैनल जो समाज में केवल मुस्लिम समुदाय चहेता बनने के लिए हिन्दुओं को हर संभव बदनाम करने का खेल खुलेआम खेलते रहे हैं।

पूरा मामला क्या है:

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के ऐशबाग इलाके से तीन तलाक और हलाला से जुड़ा मामला सामने आया है। जहाँ 22 वर्षीय मुस्लिम महिला को पहले उसके शौहर ने तलाक देकर घर से बाहर कर दिया और फिर एक निकाई अब्बा ने उसके साथ संबंध बनाने के लिए उस पर ज्यादती की, उसका बलात्कार किया। पूरे मामले में पुलिस मे महिला की शिकायत पर उसके शौहर और निकाई अब्बा पर दहेज प्रताड़ना, दुष्कर्म और मुस्लिम महिला संरक्षण कानून के तहत के दर्ज कर लिया है। 

दैनिक भास्कर की रिपोर्ट के अनुसार सीएसपी जहाँगीराबाद अलीम खान ने इस मामले पर बताया कि 22 वर्षीय महिला बिस्मिल्लाह कॉलोनी में रहती थी और कुछ समय पहले ही उसका निकाह हुआ था। लेकिन निकाह के कुछ दिन बाद ही उसका शौहर उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगा। हद तब हो गई जब 23 नवंबर को उसने महिला को तीन तलाक कहकर घर से बाहर कर दिया। पीड़िता के घरवालों ने कई बार उसे समझाने की कोशिश भी की। मगर समझौता न हो सका।

महिला के अनुसार, शादी के बाद से ही निकाई अब्बा उर्फ अनवर खान, जिसका आना-जाना उसके ससुराल में होता था, उसने महिला पर गंदी निगाह रखनी शुरू कर दी थी। जब भी उसके ससुराल के लोग घर पर मौजूद नहीं होते थे, तो वह उसके पास पहुँच जाता था और उसके सामने अश्लील हरकतें करता था। महिला का कहना है कि अनवर की हरकतों के बारे में उसने अपने शौहर को बताया हुआ था। लेकिन वो अपनी बीवी की बातों पर विश्वास नहीं करता था।

महिला के मुताबिक, उसके निकाह के एक माह बाद ही वो अपने शौहर के साथ ससुराल से अलग रहने लगी थी, लेकिन तब भी अनवर का उसके घर पर आना-जाना होता था। बीते 23 नवंबर को महिला का जब अपने शौहर से विवाद हुआ तो शौहर के जोर देने पर अनवर खान को बुलवाया गया। जहाँ उसने पीड़िता से कहा, “तुम्हारे शौहर ने तुम्हें तलाक दे दिया है, अब हलाला करने के लिए तुम्हें मेरे साथ संबंध बनाने होंगे।”

जब महिला ने इस बारे में अपने शौहर से पूछा तो उसने जवाब दिया कि उसने शरीयत के हिसाब से उसे तीन तलाक दिया है। इसलिए उसे वैसा ही करना होगा, जैसा निकाई अब्बा कहता है। इसके बाद उसे मारपीट कर अनवर के पास भेज दिया गया और बिस्मिल्लाह कॉलोनी स्थित अपने घर में उसने महिला के साथ बलात्कार किया। रात में जब उसने शौहर को फोन करके बुलाया तो सब जानने के बाद भी उसने घटना का विरोध नहीं किया।

महिला की मानें तो 26 नवंबर को निकाई अब्बा ने उसे अपने साथ रखा, उसके साथ अश्लील हरकतें की और बाद में उसे उसके मायके भेज दिया। इसके साथ ही उसे धमकी दी कि अगर वह पुलिस के पास गई तो वे उसे जान से मार देंगे। बहुत दिनों तक महिला ने आपबीती किसी को नहीं बताई। लेकिन मंगलवार को हिम्मत करके वह अपने परिजनों को लेकर पुलिस के पास पहुँची और अपने शौहर समेत निकाई अब्बा के घिनौने कारनामों से पर्दा उठाया। जिसके बाद पुलिस ने दोनों आरोपितों पर मामला दर्ज करके उन्हें हिरासत में लिया।

ये भी पढ़ें:


शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

शाहीन बाग़, शरजील इमाम
वे जितने ज्यादा जोर से 'इंकलाब ज़िंदाबाद' बोलेंगे, वामपंथी मीडिया उतना ही ज्यादा द्रवित होगा। कोई रवीश कुमार टीवी स्टूडियो में बैठ कर कहेगा- "क्या तिरंगा हाथ में लेकर राष्ट्रगान गाने वाले और संविधान का पाठ करने वाले देश के टुकड़े-टुकड़े गैंग के सदस्य हो सकते हैं? नहीं न।"

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

144,546फैंसलाइक करें
36,423फॉलोवर्सफॉलो करें
164,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: