Wednesday, September 22, 2021
Homeराजनीति'45 शिवसेना विधायकों का समर्थन है' - BJP सांसद का दावा, फडणवीस ने कहा-...

’45 शिवसेना विधायकों का समर्थन है’ – BJP सांसद का दावा, फडणवीस ने कहा- ’50-50 पर बात नहीं हुई’

"उद्धव ठाकरे और अमित शाह के बीच 50-50 फॉर्मूले की बात ही नहीं हुई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ख़ुद सार्वजनिक रूप से मेरे नाम का ऐलान कर चुके हैं, ऐसे में..."

महाराष्ट्र में शिवसेना लगातार भाजपा पर दबाव बनाने की कोशिश कर रही है। इसी कोशिश में पार्टी ने 5 विधायकों के समर्थन का दावा किया है। शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने कहा था कि लोकसभा चुनाव के दौरान ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से 50-50 फॉर्मूले पर बात हुई थी। शिवसेना का कहना है कि ये फॉर्मूला भाजपा की तरफ़ से ही आया था। अब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने चुप्पी तोड़ते हुए कहा है कि भाजपा-शिवसेना में किसी 50-50 फॉर्मूले को लेकर बात नहीं हुई थी। उन्होंने कहा कि शिवसेना को ढाई वर्ष के लिए मुख्यमंत्री का पद देने जैसी कोई बातचीत नहीं हुई थी।

देवेंद्र फडणवीस ने साफ़ कर दिया कि वो अगले 5 साल के लिए मुख्यमंत्री के पद पर बने रहेंगे। फडणवीस ने अपने निवास ‘वर्षा’ पर पत्रकारों को बताया कि उद्धव और शाह के बीच 50-50 फॉर्मूले की बात ही नहीं हुई थी। बुधवार को भाजपा विधायक दल की बैठक बुलाई गई है, जिसमें नेता चुनने की औपचारिक प्रक्रिया होगी। फडणवीस ने कहा कि चूँकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ख़ुद सार्वजनिक रूप से उनके नाम का ऐलान कर चुके हैं, ऐसे में ये बैठक बस औपचारिकता पूरी करने के लिए होगी।

बता दें कि जीत के बाद पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए फडणवीस का नाम लिया था। फडणवीस ने कहा कि शिवसेना को काबिलियत के हिसाब से ही सीटें दी जाएँगी। फडणवीस ने कहा कि अब तक 10 निर्दलीय विधायक भाजपा को समर्थन दे चुके हैं और 5 अन्य का समर्थन मिलने की उम्मीद है। इस तरह भाजपा के पास राज्य में 15 निर्दलीय विधायकों का समर्थन हासिल हो जाएगा।

उधर भाजपा सांसद संजय काकडे ने कहा कि 45 शिवसेना विधायक भाजपा के सम्पर्क में हैं और भाजपा के नेतृत्व में सरकार गठन को समर्थन देने के लिए तैयार हैं। राज्यसभा सांसद ने कहा कि 56 में से 45 शिवसेना विधायक भाजपा के संपर्क में हैं। बता दें कि हालिया विधानसभा चुनाव में भाजपा को 105 सीटें आई हैं और शिवसेना ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री का पद चाहती है। लेकिन सांसद काकडे ने कहा कि 45 शिवसेना विधायक भाजपा नेताओं को कॉल कर के सरकार में शामिल होने के इच्छुक हैं।

रियल स्टेट कारोबारी और भाजपा नेता संजय काकडे ने कहा कि शिवसेना के विधायक भाजपा नेताओं को फोन कर के कह रहे हैं कि कुछ भी कीजिए लेकिन हमें सरकार में शामिल होना है। हालिया चुनाव में भाजपा की सीटें पिछली बार से कम हुई हैं, जिसने शिवसेना को और ज्यादा मुखर होने का मौक़ा दे दिया है। पार्टी भाजपा पर हमलावर है और मोलभाव का कोई मौक़ा हाथ से जाने नहीं देना चाहती। हालाँकि, जहाँ पिछली बार भाजपा ने 250 से भी अधिक सीटों पर चुनाव लड़ा था, इस बार पार्टी ने उससे 100 कम सीटों पर चुनाव लड़ा। 14 सीटें भाजपा-शिवसेना से इतर अन्य गठबंधन पार्टियों को दी गई थीं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,647FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe