Thursday, July 29, 2021
Homeराजनीति75 जिले पूरी तरह से लॉकडाउन, सरकार का सख्त फैसला: रोड ट्रांसपोर्ट सेवा भी...

75 जिले पूरी तरह से लॉकडाउन, सरकार का सख्त फैसला: रोड ट्रांसपोर्ट सेवा भी 31 मार्च तक रद्द

कैबिनेट सेक्रेटरी और प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव ने उच्च स्तरीय बैठक की। इस बैठक में तमाम राज्यों के मुख्य सचिवों ने हिस्सा लिया। इसी बैठक में सहमति बनी कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए अनावश्यक यात्री परिवहन को तुरंत रोकना आवश्यक है।

कोरोना के बढ़ते हुए संक्रमण के कारण केंद्र सरकार ने देश के 75 जिलों को 31 मार्च तक पूरी तरह से बंद (लॉकडाउन) करने का फैसला लिया है। देश के जिन राज्यों में कोरोना के पॉजिटिव मरीज मिल रहे हैं, उनके 75 जिलों को पूरी तरह से लॉकडाउन किया गया है। इसके साथ ही सभी शहरों की मेट्रो 31 मार्च तक बंद रहेंगे। इसमें फैसला लिया गया कि सभी राज्यों के बीच रोड ट्रांसपोर्ट सेवा को भी 31 मार्च तक रद्द कर दिया जाए।

कैबिनेट सेक्रेटरी और प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव ने उच्च स्तरीय बैठक की। इस बैठक में तमाम राज्यों के मुख्य सचिवों ने हिस्सा लिया। इसी बैठक में सहमति बनी कि कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए अनावश्यक यात्री परिवहन को तुरंत रोकना आवश्यक है।

प्रेस नोट –

इसके साथ ही राजस्थान और पंजाब के बाद ओडिशा ने भी लॉक डाउन की घोषणा कर दी है। इन राज्यों ने 29 मार्च, 9 बजे तक के लिए लॉकडाउन का एलान किया है। खुर्दा, कटक, गंजम, केंद्रपाड़ा, अंगुल, पुरी, राउरकेला, संबलपुर, झारसुगुडा, बालासोर, जजपुर और भद्रक शहर भी लॉकडाउन रहेगा। वहीं, नोएडा में जनता कर्फ्यू को सुबह 6 बजे तक के लिए बढ़ा दिया गया है। सुबह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस बात के संकेत दिए थे।

गौरतलब है कि पीएम मोदी की अपील पर आज देश में सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू जारी है। पीएम मोदी ने शाम 5 बजे थाली और ताली बजाकर स्वास्थ्य और सफाई कर्मियों का हौसला बढ़ाने की अपील की है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कोरोना से अनाथ हुई लड़कियों के विवाह का खर्च उठाएगी योगी सरकार: शादी से 90 दिन पहले/बाद ऐसे करें आवेदन

योजना का लाभ पाने के लिए लड़कियाँ खुद या उनके माता/पिता या फिर अभिभावक ऑफलाइन आवेदन करेंगे। इसके साथ ही कुछ जरूरी दस्तावेज लगाने आवश्यक होंगे।

बंगाल की गद्दी किसे सौंपेंगी? गाँधी-पवार की राजनीति को साधने के लिए कौन सा खेला खेलेंगी सुश्री ममता बनर्जी?

ममता बनर्जी का यह दौरा पानी नापने की एक कोशिश से अधिक नहीं। इसका राजनीतिक परिणाम विपक्ष को एकजुट करेगा, इसे लेकर संदेह बना रहेगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,802FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe