कपिल सिब्बल और ‘पत्रकारों को Bitch कहने वाली’ उनकी पत्नी से बरखा दत्त ने मॉंगे सूद समेत ₹74 लाख

बरखा ने कहा था कि बिना कर्मचारियों को वेतन दिए सिब्बल दम्पति का लंदन में ऐश करना विजय माल्या जैसा कृत्य है। इसके लिए उन्होंने खुद को सिब्बल द्वारा मानहानि के मुकदमे से धमकाए जाने की बात भी ट्विटर पर कही थी।

लोक सभा चुनाव हारने के 6 महीने के भीतर ही पत्रकारिता के समुदाय विशेष में दरारें पड़नी शुरू हो गईं हैं। हालिया मामले में एनडीटीवी की एंकर रहीं बरखा दत्त ने अपने पिछले चैनल के प्रमोटर और कॉन्ग्रेस नेता कपिल सिब्बल और उनकी पत्नी प्रमिला सिब्बल से ₹74 लाख सूद समेत लेने के लिए अदालत में मुकदमा दायर किया है। मामले के लिए 9 जनवरी को सुनवाई की तारीख मिली है।

NDTV के अपने कार्यकाल में राडिया कांड और उसके बाद वाशिंगटन पोस्ट में भारत और हिन्दुओं को कोसने के लिए जानी जाने वालीं बरखा दत्त ने लोक सभा चुनावों में कॉन्ग्रेस व वामपंथी मीडिया की शिकस्त के कुछ ही समय बाद ट्वीट किया था कि तिरंगा टीवी के कर्मचारियों को बिना किसी पूर्व सूचना तथा मुआवजे के निकाला जा रहा है। उन्होंने प्रमिला सिब्बल पर चैनल की महिला कर्मचारियों को “कुतिया” कह कर अपमानित करने का आरोप भी लगाया था

बरखा के आरोपों में इसके अतिरिक्त खुद को और चैनल के अन्य वरिष्ठ कर्मचारियों को एक साल से अधिक समय से वेतन न दिए जाने का भी आरोप था। इसके अलावा उन्होंने कहा था कि बिना कर्मचारियों को वेतन दिए सिब्बल दम्पति का लंदन में ऐश करना विजय माल्या जैसा कृत्य है। इसके लिए उन्होंने खुद को सिब्बल द्वारा मानहानि के मुकदमे से धमकाए जाने की बात भी ट्विटर पर कही थी।

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

उनके आरोपों के जवाब में सिब्बल ने दावा किया था कि यह सब ट्वीट करने के पहले ही बरखा दत्त को चैनल से बर्खास्त किया जा चुका है। इसके पीछे उन्होंने कारण अनुशासनहीनता बताया था। इसके अलावा उन्होंने दत्त को एक भी पैसा देने से साफ़ इनकार कर दिया था।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

जेएनयू छात्र विरोध प्रदर्शन
गरीबों के बच्चों की बात करने वाले ये भी बताएँ कि वहाँ दो बार MA, फिर एम फिल, फिर PhD के नाम पर बेकार के शोध करने वालों ने क्या दूसरे बच्चों का रास्ता नहीं रोक रखा है? हॉस्टल को ससुराल समझने वाले बताएँ कि JNU CD कांड के बाद भी एक-दूसरे के हॉस्टल में लड़के-लड़कियों को क्यों जाना है?

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

112,491फैंसलाइक करें
22,363फॉलोवर्सफॉलो करें
117,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: