Sunday, September 19, 2021
Homeराजनीतिनए Exit Poll में भाजपा को पूर्ण बहुमत, दोपहर 3 बजे के बाद पलट...

नए Exit Poll में भाजपा को पूर्ण बहुमत, दोपहर 3 बजे के बाद पलट गया था गेम

फेज-1 में दोपहर 3 बजे तक के आँकड़े हैं, जिनके अनुसार केजरीवाल की पार्टी 15-20% ज्यादा वोटों के साथ भाजपा से आगे होगी। अधिकतर एग्जिट पोल्स में इसके बाद का हिस्सा छोड़ दिया गया। इस एग्जिट पोल के आँकड़ों पर नज़र डालें तो दूसरे फेज में भाजपा ने AAP पर 30-40% वोटों की लीड बना ली।

हाल ही में दिल्ली में हुए विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी की जीत की भविष्यवाणी लगभग सभी एग्जिट पोल्स द्वारा की जा रही है। अधिकतर एग्जिट पोल कह रहे हैं कि केजरीवाल की पार्टी प्रचंड जीत के साथ सत्ता में लौटेगी। लेकिन, इसी बीच एक ऐसा एग्जिट पोल भी आया है जिसमें भाजपा को बहुमत मिलता दिख रहा है। चिंतामणि-5 डॉट्स के एग्जिट पोल के अनुसार, दिल्ली में भाजपा आगे जा सकती है और आम आदमी पार्टी उससे पीछे हो सकती है। इस एग्जिट पोल में भाजपा को 27-39 सीटें दी गई हैं, वहीं AAP को 31-43 सीटें मिलने की सम्भावना जताई गई है।

ये आँकड़े ‘एलेक्शंस डॉट इन’ पर प्रकाशित हुए। जहाँ तक कॉन्ग्रेस पार्टी की बात है, बाकी एग्जिट पोल्स की तरह इसमें भी उसका पत्ता गोल होता हुआ नज़र आ रहा है और पार्टी का खाता खोलना भी मुश्किल लग रहा है। उसे 0-2 सीटें दी गई है। रिसर्च की मानें तो अंतिम 2 घंटों में वोटिंग प्रतिशत में जो बड़ी बढ़ोतरी हुई है, उससे भाजपा को भारी फायदा होने जा रहा है। ग्राउंड रिपोर्ट के हवाले से दावा किया गया है कि आम आदमी पार्टी और कॉन्ग्रेस को मिलने वाले वोटों में कमी आएगी।

इस एग्जिट पोल में उस हिस्से को कवर किया गया है, जो बाकी एग्जिट पोल्स ने छोड़ दिया। यानी 3 बजे के बाद हुए वोटिंग का डेटा। पोलिंग को 2 भाग में बाँटा गया है। फेज-1 में दोपहर 3 बजे तक के आँकड़े हैं, जिनके अनुसार केजरीवाल की पार्टी 15-20% ज्यादा वोटों के साथ भाजपा से आगे होगी। अधिकतर एग्जिट पोल्स में इसके बाद का हिस्सा छोड़ दिया गया। इस एग्जिट पोल के आँकड़ों पर नज़र डालें तो दूसरे फेज में भाजपा ने AAP पर 30-40% वोटों की लीड बना ली।

ये एकमात्र ऐसा एग्जिट पोल है, जिसमें भाजपा को पूर्ण बहुमत मिलने की सम्भावना जताई गई है। बता दें कि लोकसभा चुनाव के बाद चिंतामणि ने भाजपा को 297 सीटें मिलने की सम्भावना जताई थी। भाजपा इन आँकड़ों से आगे निकल कर 303 सीटें जीत गई लेकिन दोनों नंबरों के बीच ज्यादा अंतर नहीं था। ऐसे में काफ़ी लोगों को चिंतामणि के एग्जिट पोल पर भरोसा जताया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सिख नरसंहार के बाद छोड़ दी थी कॉन्ग्रेस, ‘अकाली दल’ में भी रहे: भारत-पाक युद्ध की खबर सुन दोबारा सेना में गए थे ‘कैप्टेन’

11 मार्च, 2017 को जन्मदिन के दिन ही कैप्टेन अमरिंदर सिंह को पंजाब में बहुमत प्राप्त हुआ और राज्य में कॉन्ग्रेस के लिए सत्ता का सूखा ख़त्म हुआ।

अडानी समूह के हुए ‘The Quint’ के प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर, गौतम अडानी के भतीजे के अंतर्गत करेंगे काम

वामपंथी मीडिया पोर्टल 'The Quint' में बतौर प्रेजिडेंट और एडिटोरियल डायरेक्टर कार्यरत रहे संजय पुगलिया अब अडानी समूह का हिस्सा बन गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,110FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe