Monday, September 20, 2021
Homeराजनीति98 से आगे निकली दिल्ली की जनता, Exit Poll में AAP आगे, कॉन्ग्रेस...

98 से आगे निकली दिल्ली की जनता, Exit Poll में AAP आगे, कॉन्ग्रेस के फिर से 0 पर सिमटने के आसार

एग्जिट पोल के अनुमानों के मुताबिक आम आदमी पार्टी (AAP) दिल्ली की सत्ता में वापसी करती दिख रही है। बीजेपी का प्रदर्शन 2015 के मुकाबले सुधरा है, लेकिन वह बहुमत के करीब पहुॅंचती नहीं दिख रही। वहीं, कॉन्ग्रेस के एक बार फिर से खाता नहीं खुलने के आसार हैं।

दिल्ली की 70 सदस्यीय विधानसभा चुनाव के लिए 8 फरवरी को वोट डाले गए। सुबह से ही मतदान की गति धीमी रही। करीब 58 फीसदी लोगों ने मताधिकार का प्रयोग किया। य​ह 1998 के विधानसभा चुनावों के 48.99 फीसदी से तो अधिक हैं, लेकिन 2015 के विधानसभा चुनावों में पड़े 67.13 फीसदी वोट से काफी कम हैं। दिल्ली में अब तक हुए विधानसभा चुनावों में सबसे कम वोट 1998 में और सबसे ज्यादा 2015 में पड़े थे।

वहीं, एग्जिट पोल के अनुमानों के मुताबिक आम आदमी पार्टी (AAP) दिल्ली की सत्ता में वापसी करती दिख रही है। बीजेपी का प्रदर्शन 2015 के मुकाबले सुधरा है, लेकिन वह बहुमत के करीब पहुॅंचती नहीं दिख रही। वहीं, कॉन्ग्रेस के एक बार फिर से खाता नहीं खुलने के आसार हैं।

टाइम्स नाउ के एग्जिट पोल के मुताबिक आप को 44 और बीजेपी को 26 सीटें मिल सकती है। न्यूजएक्स-पोलस्टार्ट ने आप को 56 और बीजेपी को 14 सीटें मिलने का अनुमान लगाया है। इंडिया न्यूज नेशन के मुताबिक आप को 55, बीजेपी को 14 और कॉन्ग्रेस को एक सीट मिल सकती है। रिपब्लिक और जन की बात के एग्जिट पोल के मुताबिक, आपा को 48-61, बीजेपी को 9-21 और कॉन्ग्रेस को 0-1 सीटें मिलने का अनुमान है।

एबीपी न्यूज-सी वोटर के एग्जिट पोल के मुताबिक, आप को 56, बीजेपी को 12 और कॉन्ग्रेस को 2 सीटें मिलने का अनुमान है। सुदर्शन न्यूज के एग्जिट पोल के मुताबिक, आप को 42, बीजेपी को 26 और कॉन्ग्रेस को दो सीटें मिल सकती है। एनडीटीवी के पोल ऑफ एग्जिट पोल्स के मुताबिक, आप को 52, बीजेपी को 17 और कॉन्ग्रेस को एक सीट मिलने का अनुमान है। टीवी9-सिसरो’ के एग्जिट पोल के अनुसार आप को 54, बीजेपी 15 और कॉन्ग्रेस को को एक सीट मिलने के आसार हैं। मतगणना 11 फरवरी को होगी।

बहुमत का आँकड़ा 36 है। 2015 के चुनाव में आप को 67 और बीजेपी को 3 सीटें मिली थी। कॉन्ग्रेस खाता खोलने में नाकाम रही थी। अधिकांश एग्जिट पोल में आम आदमी पार्टी को 45 से अधिक सीटें मिलती दिखाई दे रही हैं। वैसे कम मतदान ने बड़े वोटर टर्नआउट की बात कर रहे पोलिटिकल पंडितों के लिए चुनावी हार-जीत का गुना-भाग करना कठिन कर दिया है। रविन्द केजरीवाल और मनोज तिवारी के बीच हनुमान जी को लेकर हुई नोकझोंक भी चर्चा का विषय रही। अब सभी मीडिया संस्थानों के एग्जिट पोल्स के रुझान आने शुरू हो गए हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों का सबसे बड़ा दुश्मन’, शिव के भक्त: ‘आदिवराह’ के सामने अरबों ने भी टेक दिए थे घुटने, 50 साल तक किया राज

क्या आप भारत में 'इस्लाम के सबसे बड़े दुश्मन' के बारे में जानते हैं? मुद्दा ये नहीं कि वो गुर्जर थे या राजपूत, सम्राट मिहिर भोज एक हिन्दू थे, जिन्होंने मुस्लिम आक्रांताओं को फटकने भी न दिया।

बाबुल सुप्रियो ने बताया- दीदी ने गाने की दी इजाजत, लेकिन ट्विटर पर बिगड़ा सुर: डेढ़ महीने में जो कमाया उससे ज्यादा एक दिन...

ममता बनर्जी को पीएम मेटेरियल बताने वाले बाबुल सुप्रियो ने ट्विटर पर पिछले डेढ़ महीने में जितने फॉलोअर जोड़े थे उससे कहीं ज्यादा एक दिन में गँवा दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,405FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe