Monday, September 20, 2021
Homeराजनीति'धुर-विरोधी' अजीत जोगी ने इंटरव्यू में पीएम नरेंद्र मोदी का किया जमकर गुणगान

‘धुर-विरोधी’ अजीत जोगी ने इंटरव्यू में पीएम नरेंद्र मोदी का किया जमकर गुणगान

2019 के लोकसभा चुनाव में अजीत जोगी की पार्टी राज्य की 11 सीटों में से किसी पर भी अपना कैंडिडेट नहीं उतारेगी। उनकी पार्टी की ओर से कहा गया है कि सभी सीटों पर वह बसपा का समर्थन करेगी।

कॉन्ग्रेस के पूर्व नेता और छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने एक इंटरव्यू में पीएम नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ की। इस दौरान उन्होंने तीन मुद्दों पर बात की। सबसे पहले उन्होंने मोदी सरकार द्वारा लाए गए स्वच्छ भारत अभियान की प्रशंसा की। अजीत जोगी ने कहा कि स्वच्छ भारत अभियान से छत्तीसगढ़ के लोग काफी खुश हैं। खासकर महिलाओं और गरीब परिवारों में खुशी का माहौल है।

इसके बाद उन्होंने प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में बात करते हुए कहा कि इससे लोगों के जीवन स्तर में सुधार आया है। अजीत जोगी ने कहा कि उनके पास इंदिरा आवास जैसी योजनाएँ थीं, लेकिन वो जो सुविधाएँ दे रहे थे, वह पर्याप्त नहीं था, मोदी जो दे रहे हैं, वह सम्मानजनक है। इसके साथ ही उन्होंने पीएम मोदी की नेतृत्व क्षमता की तारीफ करते हुए कहा, “तीसरा मुद्दा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर नेता के रूप में उभरने का है। वह ऐसे प्रधानमंत्री नहीं हैं, जिनको देश के बाहर कोई जानता ही ना हो।”

गौरतलब है कि अजीत जोगी अभी तक कॉन्ग्रेस के साथ-साथ बीजेपी के भी धुर विरोधी के रूप में खुद को पेश करते आए हैं। 2018 के विधानसभा चुनाव में उनके बारे में कहा जा रहा था कि वो चुनाव के बाद बीजेपी के साथ आ जाएँगे। इस बात पर अजीत जोगी ने कहा था, “चाहे मुझे सूली पर चढ़ा दिया जाए, लेकिन बीजेपी को ना तो समर्थन दूँगा और ना ही समर्थन लूँगा।” इस बात को उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल पर पिन करके रखा हुआ है। बसपा के साथ विधानसभा चुनाव में उतरे अजीत जोगी दावा कर रहे थे कि वह सरकार बनाएँगे लेकिन उनकी पार्टी को सिर्फ पांच सीटों पर जीत मिली थी।

2019 के लोकसभा चुनाव में अजीत जोगी की पार्टी ‘जनता कॉन्ग्रेस छत्तीसगढ़ जे’ राज्य की 11 सीटों में से किसी पर भी अपना कैंडिडेट नहीं उतारेगी। उनकी पार्टी की ओर से कहा गया है कि सभी सीटों पर वह बसपा का समर्थन करेगी। ये फैसला इसलिए भी लिया गया है, क्योंकि पिछले कुछ दिनों में उनकी पार्टी के कई बड़े नेताओं ने उनका साथ छोड़कर दूसरी पार्टियों का दामन थाम लिया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों का सबसे बड़ा दुश्मन’, शिव के भक्त: ‘आदिवराह’ के सामने अरबों ने भी टेक दिए थे घुटने, 50 साल तक किया राज

क्या आप भारत में 'इस्लाम के सबसे बड़े दुश्मन' के बारे में जानते हैं? मुद्दा ये नहीं कि वो गुर्जर थे या राजपूत, सम्राट मिहिर भोज एक हिन्दू थे, जिन्होंने मुस्लिम आक्रांताओं को फटकने भी न दिया।

बाबुल सुप्रियो ने बताया- दीदी ने गाने की दी इजाजत, लेकिन ट्विटर पर बिगड़ा सुर: डेढ़ महीने में जो कमाया उससे ज्यादा एक दिन...

ममता बनर्जी को पीएम मेटेरियल बताने वाले बाबुल सुप्रियो ने ट्विटर पर पिछले डेढ़ महीने में जितने फॉलोअर जोड़े थे उससे कहीं ज्यादा एक दिन में गँवा दिए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,405FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe