Thursday, September 23, 2021
Homeराजनीतिभू-माफिया आजम खान के घर अदालती नोटिस का अंबार, भर गई घर की दीवार:...

भू-माफिया आजम खान के घर अदालती नोटिस का अंबार, भर गई घर की दीवार: अब तक 84 से अधिक FIR

भूमाफिया आजम खान पर यतीमखाना मामले में, भैंस चोरी, बकरी चोरी, मदरसा से हज़ारों किताबों की चोरी, बिजली चोरी, गैर इरादतन हत्या, लूटपाट, धोखाधड़ी सहित अन्य गंभीर धाराओं में 84 से अधिक मुकदमें दर्ज हैं। इनमे से कई मामलों में उनकी पत्नी तजीन फातिमा, दोनों बेटे और दिवंगत माँ का नाम भी शामिल है।

सपा नेता भूमाफिया आजम खान के खिलाफ एक के बाद एक इतने FIR हो चुके हैं कि विभिन्न मामलों में नोटिसों के चस्पा होने से उनके घर की दीवार भर गई है। नोटिस बोर्ड पर जगह ही नहीं बची है। आजम खान पर जौहर यूनिवर्सिटी के लिए जमीन अतिक्रमण से लेकर, बकरी चोरी, भैंस चोरी, बिजली और डकैती तक के मामले दर्ज हैं। अब तो आलम यह है कि आजम के घर के गेट के बाहर चस्पा हुए अदालती नोटिसों की तस्वीर सोशल मीडिया पर जमकर शेयर की जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, सोमवार रात भी आजम के घर के बाहर गंज थाने की पुलिस ने उनके साथ ही उनकी पत्नी राज्यसभा सदस्य डॉ. तजीन फातिमा और बेटे विधायक अब्दुल्ला के नाम के नोटिस चस्पा कर दिए।

गौरतलब है कि सांसद बनने के बाद से ही भूमाफिया आजम खान पर करीब 84 से अधिक FIR दर्ज हैं। इसमें जौहर यूनिवर्सिटी की जमीनों घोटालों से संबंधित 30 मुकदमें भी शामिल हैं। पुलिस के मुताबिक घर पर किसी द्वारा नोटिस रिसीव न किए जाने की स्थिति में नोटिस चस्पा किए गए हैं। इनमें से कई नोटिस आजम खान की पत्नी तजीन फातिमा और बेटे अब्दुल्ला आजम के नाम की भी है। सोशल मीडिया में वायरल तस्वीर में आप देख सकते हैं कि उनके घर का पूरा गेट ही अदालती नोटिसों से भर गया है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, गंज थाने के दरोगा रामवीर सिंह ने कहा कि सोमवार रात तीनों के समन और आजम खान के आवास के मुख्य गेट पर चस्पा कर दिए गए थे। क्योंकि इन तीनों में से कोई भी घर पर मौजूद नहीं था। इसलिए गेट पर नोटिस चस्पा कर दिए गए।

आपको बता दें कि भूमाफिया आजम खान पर यतीमखाना मामले में, भैंस चोरी, बकरी चोरी, मदरसा से हज़ारों किताबों की चोरी, बिजली चोरी, गैर इरादतन हत्या, लूटपाट, धोखाधड़ी सहित अन्य गंभीर धाराओं में 84 से अधिक मुकदमें दर्ज हैं। इनमे से कई मामलों में उनकी पत्नी तजीन फातिमा, दोनों बेटे और दिवंगत माँ का नाम भी शामिल है। 

कुछ मीडिया रिपोर्टों के अनुसार कहा जा रहा है कि, देर रात सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद इन नोटिसों को हटा दिया गया और सुरक्षाकर्मी तैनात कर दिए गए। लेकिन अभी तक यह यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि आखिर इन नोटिसों को किसने हटाया।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नंगी तस्वीरें माँगता, ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती’: हिंदूफोबिक कॉमेडियन संजय राजौरा की करतूत महिला ने दुनिया को बताई

पीड़िता ने बताया कि वो इन सब चीजों को नजरअंदाज कर रही थी क्योंकि वह कॉमेडियन को उसके काम के लिए सराहती थी।

गुजरात में ‘लैंड जिहाद’ ऐसे: हिंदू को पाटर्नर बनाओ, अशांत क्षेत्र में डील करो, फिर पाटर्नर को बाहर करो

गुजरात में अशांत क्षेत्र अधिनियम के दायरे में आने वाले इलाकों में संपत्ति की खरीद और निर्माण की अनुमति लेने के लिए कई मामलों में गड़बड़ी सामने आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,920FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe