Tuesday, August 3, 2021
Homeराजनीति30 तक CBI की हिरासत में ही रहेंगे चिदंबरम, कल ED मामले की सुनवाई

30 तक CBI की हिरासत में ही रहेंगे चिदंबरम, कल ED मामले की सुनवाई

सीबीआई कोर्ट को मेहता ने बताया कि आईएनएक्स मीडिया से जुड़े इस केस में ईडी की जाँच से भी कुछ नए सवाल उभरे हैं, जिनका जवाब ज़रूरी है। इस मामले में किसी बड़ी साज़िश की ओर इशारा करते हुए मेहता ने कहा कि सीबीआई ने 7 देशों को पत्र लिख कर अहम जानकारियाँ माँगी है।

सीबीआई की विशेष अदालत ने पूर्व केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम की कस्टडी 4 दिनों के लिए बढ़ा दी है। वे 30 अगस्त तक कस्टडी में रहेंगे। सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने अदालत से चिदंबरम की कस्टडी 5 दिन बढ़ाने की माँग की थी। मेहता ने अदालत को बताया कि पूछताछ अभी अधूरी है और इसीलिए उनका कुछ और दिन कस्टडी में रहना ज़रूरी है। दूसरी ओर, सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय ईडी के धन शोधन मामले में चिदंबरम की गिरफ्तारी से संरक्षण की अवधि मंगलवार तक के लिए बढ़ा दी। कल फिर से इस मामले की सुनवाई होगी।

सीबीआई कोर्ट को मेहता ने बताया कि आईएनएक्स मीडिया से जुड़े इस केस में ईडी की जाँच से भी कुछ नए सवाल उभरे हैं, जिनका जवाब ज़रूरी है। इस मामले में किसी बड़ी साज़िश की ओर इशारा करते हुए मेहता ने कहा कि सीबीआई ने 7 देशों को पत्र लिख कर अहम जानकारियाँ माँगी है। हालाँकि, चिदंबरम के वकील कपिल सिब्बल ने दावा किया कि पूछताछ बकवास के सिवा कुछ और नहीं है।

सिब्बल ने इस बात पर नाराज़गी जताई कि सीबीआई कोई डॉक्यूमेंट नहीं दिखा रही है और बिना सबूत पूछताछ कर रही है। मेहता ने सिब्बल के आरोपों का जवाब देते हुए कहा कि पूछताछ के दौरान चिदंबरम डॉक्युमेंट्स को पढ़ने में ही एक घंटा लगा देते हैं। चिदंबरम पर आईएनएक्स मीडिया से रिश्वत लेकर उसे एफआईपीबी अप्रूवल देने का आरोप है।

पी चिदंबरम को बुधवार (अगस्त 21, 2019) को उनके जोरबाग़ स्थित आवास से गिरफ़्तार किया गया था। चिदंबरम द्वारा घर का दरवाजा बंद कर लेने के कारण सीबीआई को दीवार फाँद कर उन्हें गिरफ़्तार करने जाना पड़ा था। उसके बाद उन्हें अदालत द्वारा कस्टडी में भेज दिया गया था। अब सीबीआई उन्हें इस मामले के अन्य आरोपितों के साथ बिठा कर पूछताछ करेगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लालू के बड़े बेटे की ‘घोस्ट स्टोरी’: ताड़ के पेड़ पर चढ़े भूत ने तेज प्रताप को डराया, ‘महादेव’ सुन कहा – आपका भाषण...

बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव ने कहा है कि उन्हें न सिर्फ आजकल सपने में भूत दिख जा रहे हैं, बल्कि ये भूत उनका भाषण सुनने के लिए भी आ जाते हैं।

‘घटिया थे शुरुआती बैच’: कोवैक्सीन पर भ्रामक जानकारी फैला NDTV पत्रकार श्रीनिवासन ने डिलीट मारा ट्वीट, माँगी माफी

श्रीनिवासन का ट्वीट ट्विटर प्लेटफॉर्म पर काफी देर रहा, लेकिन सोशल मीडिया साइट ने इस पर भ्रामक का टैग नहीं लगाया और न ही कोई कार्रवाई की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,740FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe