Wednesday, July 28, 2021
Homeराजनीति'जब भी आप किसी मिलिट्री डील में 'दलाली' के बारे में सुनें तो कॉन्ग्रेस...

‘जब भी आप किसी मिलिट्री डील में ‘दलाली’ के बारे में सुनें तो कॉन्ग्रेस के बारे में सोचें’: रविशंकर प्रसाद

“राजीव सक्सेना ने ईडी को बताया कि पैसे नेताओं और टॉप अधिकारियों को दिए गए थे। टोटल कीकबैक 70 मिलियन यूरो था। अगर AP का मतलब अहमद पटेल तो FAM का मतलब भी सामने आना चाहिए। क्या FAM का मतलब फैमिली है और सब जानते हैं कि कॉन्ग्रेस पार्टी में परिवार किसका है।”

अगस्ता वेस्टलैंड डील में मुख्य आरोपित राजीव सक्सेना के खुलासे के बाद बीजेपी ने कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पर सीधा हमला बोला है। केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहा कि यूपीए की विरासत खत्म होने का नाम नहीं ले रही है।

उन्होंने कहा, “हमें सत्ता में आए 6 साल हो चुके हैं लेकिन अब तक यूपीए के किए कारनामे बाहर आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि मामले के मुख्य आरोपित राजीव ने प्रवर्तन निदेशालय के सामने खुलासा किया है कि उसने ये पैसे नेताओं और टॉप अधिकारियों को दिए गए थे।”

अगस्ता वेस्टलैंड को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कॉन्ग्रेस पर कई गंभीर आरोप लगाए। मंगलवार (नवंबर 17, 2020) को प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए रविशंकर प्रसाद ने कहा, “बहुत बड़ी पेंट कंपनी जेंसन निकॉल्सन का एक बैनर देशभर में लगा होता था- “जब भी रंगों को देखो तो हमारे बारे में सोचो।” इसको थोड़ा बदल दूँ तो- “जब भी आप किसी मिलिट्री डील में किक बैक के बारे में सुनें तो कॉन्ग्रेस नेताओं के बारे में सोचें।”

उन्होंने आगे कहा, “बिना लूट के कोई सुरक्षा की डील नहीं, बिना किक बैक के कोई सुरक्षा से संबंधित खरीदारी नहीं और इन सब में कहीं न कहीं कुछ कॉन्ग्रेस नेताओं के नाम आते हैं, उनके व उनके परिवार से जुड़े लोग आते हैं। कॉन्ग्रेस पार्टी को इसका जवाब देना पड़ेगा।”

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, “राजीव सक्सेना ने ईडी को बताया कि पैसे नेताओं और टॉप अधिकारियों को दिए गए थे। टोटल कीकबैक 70 मिलियन यूरो था। अगर AP का मतलब अहमद पटेल तो FAM का मतलब भी सामने आना चाहिए। क्या FAM का मतलब फैमिली है और सब जानते हैं कि कॉन्ग्रेस पार्टी में परिवार किसका है।”

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा, “ये गंभीर आरोप कॉन्ग्रेस पार्टी के बड़े नेताओ पर लगे हैं। इस पर कॉन्ग्रेस पार्टी को क्या कहना है या चुप रहना है। डिफेंस डील में कॉन्ग्रेस पार्टी के नेताओ का नाम आना ही है, ऐसे में हमारे देश की सुरक्षा के साथ ऐसे ही ये लोग खिलवाड़ करते रहे। सोनिया जी, राहुल जी बताएँ कि इस पर क्या कहना है।”

केंद्रीय मंत्री ने कहा, “जाँच एजेंसी अपना काम कर रही है, उस मामले में हम दखल नहीं देते हैं।” गुपकार मसले पर रविशंकर प्रसाद ने कहा, “अमित शाह ने बहुत सही ट्वीट किया है, मुफ्ती जी कहती हैं कि जब तक कश्मीर का झंडा नहीं आएगा, हम तिरंगा नहीं लहराएँगे। हमारी सेना आतंक पर भारी पड़ी है, इसलिए ये लोग घबराए हुए हैं।”

उन्होंने कहा, “प्रधानमंत्री की अपील लोकल फ़ॉर वोकल का बहुत बड़ा असर हुआ है और इस त्यौहार के सीजन में चीन को बहुत बड़ा आर्थिक नुकसान हुआ है।” कपिल सिब्बल के बयान पर रविशंकर प्रसाद ने कहा, “कॉन्ग्रेस में नेता अब बोलने लगे है, लेकिन कॉन्ग्रेस में सुनने वाला कौन है।”

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि डिफेंस डील में कॉन्ग्रेस पार्टी के नेताओं का नाम आना ही बताता है कि हमारे देश की सुरक्षा के साथ ऐसे ही ये लोग खिलवाड़ करते रहे हैं। सोनिया गाँधी और राहुल गाँधी बताएँ कि इस पर क्या कहना है। उन्होंने कहा कि जाँच एजेंसी अपना काम कर रही हैं, उस मामले में हम दखल नहीं देते हैं।

उन्होंने कहा, “2010 में 3,600 करोड़ रुपए के अमाउंट से राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के लिए VVIP अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर खरीदने की बात हुई थी। दो साल बाद 2012 में मीडिया रिपोर्ट आ गई थी कि इसमें किक बैक हुआ है।”

गौरतलब है कि अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले (Agusta Westland Deal) के प्रमुख आरोपित और पेशे से चार्टर्ड अकाउंटेंट राजीव सक्सेना ने पूछताछ कमलनाथ के भतीजे रतुल पुरी, बेटे बकुल नाथ, सलमान खुर्शीद और अहमद पटेल का नाम लिया है। जाँच एजेंसियाँ पूरे मामले की जाँच कर रही हैं। जल्द ही इन नेताओं पर शिकंजा कस सकता है। अगस्ता वेस्टलैंड VVIP चॉपर डील केस में तीन हफ्ते पहले ही सक्सेना को अंतरिम जमानत दी गई है। 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इरादे नेक, काम अनेक’: CM योगी ने किया यूपी में चुनावी अभियान का शंखनाद, नड्डा ने सभी BJP सांसदों को बुलाया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सरकार ने 'इरादे नेक, काम अनेक' नाम के साथ 2022 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार अभियान की शुरुआत की।

‘विधानसभा में संपत्ति नष्ट करना बोलने की स्वतंत्रता नहीं’: केरल की वामपंथी सरकार को सुप्रीम कोर्ट की फटकार, ‘हुड़दंगी’ MLA पर चलेगा केस

केरल विधानसभा में 2015 में हुए हंगामे के मामले में एलडीएफ ​विधायकों पर केस चलेगा। सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट का फैसला बरकरार रखा है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,634FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe