Thursday, July 29, 2021
Homeराजनीतिश्री 420 रोज टीवी पर दिखते हैं, दिल्ली के लिए करते कुछ नहीं: केजरीवाल...

श्री 420 रोज टीवी पर दिखते हैं, दिल्ली के लिए करते कुछ नहीं: केजरीवाल पर सुब्रमण्यम स्वामी

केजरीवाल नियमित रूप से मीडिया को यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि दिल्ली में सक्रिय मामलों की संख्या में 'सुधार' हुआ है। उन्होंने दावा किया कि अधिकतम सक्रिय मामलों के मामले में दिल्ली दूसरे स्थान से 8वें स्थान पर आ गया है।

दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को निशाने पर लिया है। स्वामी ने रविवार (जुलाई 26, 2020) को दिल्ली में केजरीवाल की अगुवाई वाली AAP सरकार पर तीखा हमला करते हुए मुख्यमंत्री को ‘श्री 420’ बताया।

सुब्रमण्यम स्वामी ट्वीट करते हुए लिखा, “मैं इस बात से प्रभावित हूँ कि देश में कुल कोरोना वायरस के मामलों में गुजरात की हिस्सेदारी मात्र 1.6% है, जबकि दिल्ली में 9% हैं। श्री 420 रोजाना केवल टीवी पर दिखाई देते हैं, लेकिन दिल्ली के लिए कुछ भी नहीं करते हैं।” 

सुब्रमण्यम स्वामी का इशारा अरविंद केजरीवाल की ओर था। दिल्ली में अभी तक 1.29 लाख से ज्यादा लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि हुई है। राष्ट्रीय राजधानी में संक्रमण से अभी तक 3,806 लोगों की मौत हुई है।

बता दें कि केजरीवाल नियमित रूप से मीडिया को यह कहते हुए नजर आ रहे हैं कि दिल्ली में सक्रिय मामलों की संख्या में ‘सुधार’ हुआ है। उन्होंने दावा किया कि अधिकतम सक्रिय मामलों के मामले में दिल्ली दूसरे स्थान से 8वें स्थान पर आ गया है।

सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट किया, “सक्रिय मामलों की संख्या के मामले में दिल्ली 8वें स्थान पर पहुँच गया है। स्थिति कुछ दिनों पहले तक खराब थी। हम दूसरे स्थान पर थे। सावधानी बरतें और सुरक्षित रहें।”

उन्होंने यह भी कहा कि कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में कम मामले नजर आए। शनिवार को, दिल्ली में 1,500 के करीब नए मामले सामने आए, जिनमें 3,806 लोगों की मौत के साथ कुल संक्रमण बढ़कर 1.29 लाख हो गया। इसकी तुलना में, गुजरात में 1,081 नए COVID-19 मामलों की सूचना है, जिसमें 2,305 लोगों की मृत्यु के साथ कोरोना संक्रमण की कुल संख्या 54,712 थी।

इससे पहले दिल्ली कॉन्ग्रेस ने भी केजरीवाल से आरटी-पीसीआर परीक्षण कराने का आग्रह किया था। दिल्ली कॉन्ग्रेस अध्यक्ष अनिल कुमार ने कहा था, “दिल्ली में कोरोना मामलों की सही संख्या निर्धारित करने के लिए सभी रैपिड एंटीजन-नेगेटिव परीक्षा परिणामों का परीक्षण गोल्ड स्टैंडर्ड आरटी-पीसीआर पर किया जाना चाहिए।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पूरे देश में खेला होबे’: सभी विपक्षियों से मिलकर ममता बनर्जी का ऐलान, 2024 को बताया- ‘मोदी बनाम पूरे देश का चुनाव’

टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी ने विपक्ष एकजुटता पर बात करते हुए कहा, "हम 'सच्चे दिन' देखना चाहते हैं, 'अच्छे दिन' काफी देख लिए।"

कराहते केरल में बकरीद के बाद विकराल कोरोना लेकिन लिबरलों की लिस्ट में न ईद हुई सुपर स्प्रेडर, न फेल हुआ P विजयन मॉडल!

काँवड़ यात्रा के लिए जल लेने वालों की गिरफ्तारी न्यायालय के आदेश के प्रति उत्तराखंड सरकार के जिम्मेदारी पूर्ण आचरण को दर्शाती है। प्रश्न यह है कि हम ऐसे जिम्मेदारी पूर्ण आचरण की अपेक्षा केरल सरकार से किस सदी में कर सकते हैं?

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,696FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe