Sunday, September 19, 2021
Homeरिपोर्ट1993 मुंबई ब्लास्ट: 26 वर्षों बाद दुबई में पकड़ा गया मोस्ट वॉन्टेड आतंकी अबू...

1993 मुंबई ब्लास्ट: 26 वर्षों बाद दुबई में पकड़ा गया मोस्ट वॉन्टेड आतंकी अबू बकर, प्रत्यर्पण शीघ्र

मार्च 1993 में मुंबई में हुए सिलसिलेवार बम ब्लास्ट में 257 लोग मारे गए थे और 700 से भी ज्यादा लोग घायल हुए थे।

भारतीय जाँच एजेंसियों को 1993 बम ब्लास्ट मामले में बड़ी क़ामयाबी मिली है। घटना के 26 वर्षों बाद मोस्ट वॉन्टेड आतंकी अबू बकर को दुबई में गिरफ़्तार कर लिया गया है। अबू बकर के साथ एक अन्य आतंकी को भी पकड़ा गया है। दूसरे आतंकी का नाम फ़िरोज़ है। दोनों को शीघ्र ही प्रत्यर्पित कर भारत लाया जाएगा। इसके लिए तैयारी शुरू कर दी गई है। ज्ञात हो कि मार्च 1993 में मुंबई में हुए सिलसिलेवार बम ब्लास्ट में 257 लोग मारे गए थे और 700 से भी ज्यादा लोग घायल हुए थे।

पकड़े गए आतंकी का पूरा नाम अबू बकर गफ़ूर शेख है। वह खाड़ी देशों से सोना, कपड़े और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों की स्मगलिंग कर मुंबई और आसपास के लैंडिंग पॉइंट में सप्प्लाई किया करता था। दोनों आतंकी लंबे समय से ‘मोस्ट वॉन्टेड’ की सूची में शामिल थे। 1993 मुंबई धमाके वाले मामले में तैयार की गई 10,000 पन्नों की चार्जशीट में दाऊद इब्राहिम को मुख्य अभियुक्त बनाया गया था। आरोपितों की कुल संख्या 189 है। दाऊद अभी तक भारतीय सुरक्षा एजेंसियों की पकड़ से बाहर है।

अबू बकर के ख़िलाफ़ 1997 में ही रेड कॉर्नर नोटिस जारी कर दिया गया था। पाकिस्तान और संयुक्त अरब अमीरात में रह रहे अबू बकर के बारे में भारतीय एजेंसियों को ख़ुफ़िया इनपुट मिले थे। उसने ईरान की एक महिला से दूसरी शादी कर रखी है। दुबई में व्यापार चलाने वाले अबू बकर से पूछताछ के दौरान मुंबई धमाकों से जुड़े कई अन्य राज खुलने की संभावना है।

1993 में हुए धमाके बॉम्बे स्टॉक एक्चेंज, नरसी नाथ स्ट्रीट, शिव सेना भवन, सेंचुरी बाजार, माहिम, झावेरी बाजार, सी रॉक होटल, प्लाजा सिनेमा, जूहू सेंटूर होटल, सहार हवाई अड्डा और एयरपोर्ट सेंटूर होटल के आसपास हुए थे। आतंकियों ने कुल 12 जगहों को निशाना बनाया था। हमले के अन्य दोषियों में याकूब मेनन और मुस्तफ़ा दौसा शामिल है। याकूब मेनन को जुलाई 2015 में फाँसी दे दी गई थी। मुस्तफ़ा की जून 2017 में मुंबई के जेजे असपताल में मौत हो गई थी।

पकड़े गए आतंकी अबू बकर ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में ट्रेनिंग ली थी। अबू बकर ने मुंबई धमाकों के लिए आरडीएक्स लाने का काम किया था। दाऊद इब्राहिम के दुबई स्थित घर पर धमाकों की साजिश रची गई थी जिसमे अबू बकर भी शामिल हुआ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘इन Motherfu©₹s के साथ क्यों घूम रही हो?’: मुस्लिम महिला को बाइक पर बिठाने पर भीड़ ने हिन्दू युवक को पीटा, वीडियो वायरल

बेंगलुरू में एक मुस्लिम भीड़ ने बाइक पर सवार हिंदू युवक को रोका और धमकाया क्योंकि वो एक मुस्लिम महिला के साथ घूम रहा था।

₹3 लाख करोड़ का निवेश, एक भी दंगा नहीं, 42 लाख को घर: CM योगी ने पेश किया रिपोर्ट कार्ड, सैफई के फ़िल्मी डांस...

सीएम योगी ने कहा कि हमारी सरकार ने चेहरा देखकर नौकरी नहीं दी, योग्यता के आधार पर चयन किया गया। पिछली सरकारों में पूरा खानदान भर्ती में वसूली के लिए निकल पड़ता था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,180FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe