Saturday, July 31, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयरेप के बाद लड़कियों-औरतों को गुलाम बनाने का फतवा दिया था 'मोटे आतंकी' ने,...

रेप के बाद लड़कियों-औरतों को गुलाम बनाने का फतवा दिया था ‘मोटे आतंकी’ ने, ट्रक में लादकर ले जाना पड़ा जेल

मुफ्ती को ISIS गिरोह के टॉप नेताओं में से एक माना जाता है। बताया जा रहा कि कई हत्या, बलात्कार और अपहरण के पीछे मुफ्ती का हाथ था।

हाल ही में इराक के मोसुल में एक छापे के दौरान रेप और धर्म के नाम पर सफाया (कत्लेआम) करने का समर्थन करने वाले एक बेहद मोटे आईएसआईएस कट्टरपंथी मुफ्ती को गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तार करने के बाद पुलिस उसे एक फ्लैटबेड ट्रक पर लाद कर ले गई, क्योंकि वह पुलिस की गाड़ी में फिट नहीं हो रहा था।

बताया जा रहा है कि इसका वजन 130 किलोग्राम था। इसे ट्रक में बिठाकर ले जाने की तस्वीरें भी वायरल हो रही हैं। मुफ्ती अबू अब्दुल बारी, जिसे शिफा अल-नीमा के नाम से भी जाना जाता है, को मोसुल शहर में नौवें रेजिमेंट की एक स्वाट पुलिस टीम द्वारा गुरुवार (जनवरी 16, 2019) को गिरफ्तार किया गया था।

इराकी पुलिस का कहना है कि मुफ्ती को ISIS गिरोह के टॉप नेताओं में से एक माना जाता है। बताया जा रहा कि कई हत्या, बलात्कार और अपहरण के पीछे मुफ्ती का हाथ था। इसके साथ ही मुफ्ती ने मोसुल के धार्मिक विरासत स्थलों को भी नष्ट करने का आदेश दिया था।

इराकी पुलिस ने अपने एक बयान में कहा कि मुफ्ती अबू अब्दुल बारी फतवे जारी करने के लिए जिम्मेदार था, जिसके कारण विद्वानों और मौलवियों की हत्या हुई। जानकारी के मुताबिक मुफ्ती ने अपने अनुयायियों को हत्या करने, रेप करने, गुलाम बनाने जैसे सभी गंदे कामों को अंजाम देने के लिए फतवा दिया था। मुफ्ती पर 2014 में मोसुल में पैगंबर यूनुस के मकबरे को नष्ट करने का आदेश देने का भी आरोप है।

मैकर गिफोर्ड, जो सीरिया में ISIS के खिलाफ लड़ रहे हैं और फिलहाल ‘मानवाधिकार कार्यकर्ता और आईएसआईएस विरोधी प्रचारक’ हैं, ने मुफ्ती की गिरफ्तारी पर खुशी जाहिर करते हुए ट्वीट किया है। उन्होंने अपने ट्वीट में इसे पुरुष, महिलाओं और बच्चों की मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया और लिखा कि इस जानवर ने बलात्कार किया और हत्या कर दी। ब्रिटिश कार्यकर्ता और काउंटर-चरमपंथी थिंक-टैंक के संस्थापक मौजिद नवाज ने भी इस गिरफ्तारी का स्वागत किया।

वो ISIS आतंकी जिसने की थी इंदिरा गाँधी से लव मैरिज, जिहाद के लिए दिया तलाक… क्योंकि वो हिंदू थी

डाक्यूमेंट्स जला दो पर सरकार को मत दिखाओ, रोज़ 10 मुस्लिमों को बताओ: हिंसक प्रदर्शन में ‘ISIS का हाथ’

900 ISIS आतंकियों ने अफ़ग़ानिस्तान में किया सरेंडर, 10 महिलाएँ-बच्चे केरल से: रिपोर्ट

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द प्रिंट’ ने डाला वामपंथी सरकार की नाकामी पर पर्दा: यूपी-बिहार की तुलना में केरल-महाराष्ट्र को साबित किया कोविड प्रबंधन का ‘सुपर हीरो’

जॉन का दावा है कि केरल और महाराष्ट्र पर इसलिए सवाल उठाए जाते हैं, क्योंकि वे कोविड-19 मामलों का बेहतर तरीके से पता लगा रहे हैं।

शिवाजी से सीखा, 60 साल तक मुगलों को हराते रहे: यमुना से नर्मदा, चंबल से टोंस तक औरंगज़ेब से आज़ादी दिलाने वाले बुंदेले की...

उनके बारे में कहते हैं, "यमुना से नर्मदा तक और चम्बल नदी से टोंस तक महाराजा छत्रसाल का राज्य है। उनसे लड़ने का हौसला अब किसी में नहीं बचा।"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,242FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe