Wednesday, September 22, 2021
Homeव्हाट दी फ*फेसबुक का 'haha' इस्लाम में हराम: मौलाना अहमदुल्‍लाह ने जारी किया फतवा, वीडियो को...

फेसबुक का ‘haha’ इस्लाम में हराम: मौलाना अहमदुल्‍लाह ने जारी किया फतवा, वीडियो को 20 लाख व्यूज

“...इरादा अगर उपहास करना, ताना मारना या सोशल मीडिया पर टीका टिप्‍पणी करना है तो यह इस्‍लाम में पूरी तरह से हराम है। अगर आप एक मुस्लिम को आहत करेंगे तो वह ऐसी भाषा का इस्‍तेमाल करेगा, जिसके बारे में आपने सोचा नहीं होगा।”

बांग्‍लादेश के एक चर्चित मौलाना ने फेसबुक के ‘हाहा’ इमोजी के खिलाफ फतवा जारी किया है। फेसबुक और यूट्यूब पर 30 लाख से ज्‍यादा फॉलोवर वाले मौलाना अहमदुल्‍लाह ने फेसबुक पर लोगों का मजाक उड़ाने के लिए ‘हाहा’ इमोजी इस्‍तेमाल करने के खिलाफ फतवा जारी किया है। मौलाना अहमदुल्‍लाह अक्‍सर टीवी पर आते हैं और मुस्लिम बहुल बांग्‍लादेश में धार्मिक विषयों पर बहस करते हैं।

पिछले दिनों मौलाना ने तीन मिनट का एक वीडियो पोस्‍ट किया और फेसबुक पर लोगों के उपहास उड़ाने का जिक्र किया। इसके बाद उन्‍होंने फतवा जारी कर दिया। साथ ही यह भी बताया कि यह किस तरह से मुस्लिमों के लिए ‘हराम’ है। अहमदुल्‍ला ने कहा, “आजकल हम फेसबुक के हाहा इमोजी का इस्‍तेमाल लोगों का मजाक उड़ाने के लिए करते हैं।” उनके इस वीडियो को अब तक 20 लाख बार देखा जा चुका है।

‘यह इस्‍लाम में पूरी तरह से हराम’

मौलाना अहमदुल्‍लाह ने कहा, “अगर आप केवल मजाक के लिए हाहा इमोजी का इस्‍तेमाल करते हैं और कंटेंट पोस्‍ट करने वाली की मंशा भी यही है तो यह ठीक है। लेकिन अगर आपकी प्रतिक्रिया का इरादा पोस्‍ट करने वाले का उपहास उड़ाना, ताना मारना या सोशल मीडिया पर टीका टिप्‍पणी करना है तो यह इस्‍लाम में पूरी तरह से हराम है। अल्‍लाह के लिए मैं आपसे अनुरोध करूँगा कि इस काम से बचें। किसी का मजाक उड़ाने के लिए हाहा इमोजी का इस्‍तेमाल नहीं करें। अगर आप एक मुस्लिम को आहत करेंगे तो वह ऐसी भाषा का इस्‍तेमाल करेगा, जिसके बारे में आपने सोचा नहीं होगा।”

मौलाना के इस वीडियो पर उनके हजारों की तादाद में फॉलोवर्स ने प्रतिक्रिया दी है। ज्‍यादातर लोगों ने इस पर सकारात्‍मक टिप्‍पणी की है। वहीं सैकड़ों की तादाद में ऐसे भी हैं, जिन्‍होंने ‘हाहा’ इमोजी बनाकर इस फतवे का मजाक भी उड़ाया। अहमदुल्‍लाह बांग्‍लादेश की नई पीढ़ी के मौलाना हैं, जो इंटरनेट पर काफी सक्रिय हैं। उनके एक-एक वीडियो काफी लोकप्रिय हैं और उन पर लाखों व्‍यूज आते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

महंत नरेंद्र गिरी की संदिग्ध मौत की जाँच के लिए SIT गठित: CM योगी ने कहा – ‘जिस पर संदेह, उस पर सख्ती’

महंत नरेंद्र गिरी की मौत के मामले में गठित SIT में डेप्यूटी एसपी अजीत सिंह चौहान के साथ इंस्पेक्टर महेश को भी रखा गया है।

जिस राजस्थान में सबसे ज्यादा रेप, वहाँ की पुलिस भेज रही गंदे मैसेज-चौकी में भी हो रही दरिंदगी: कॉन्ग्रेस है तो चुप्पी है

NCRB 2020 की रिपोर्ट के मुताबिक राजस्थान में जहाँ 5,310 केस दुष्कर्म के आए तो वहीं उत्तर प्रेदश में ये आँकड़ा 2,769 का है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,645FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe