Friday, July 30, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयकहीं जीभ कटी लाश, तो कहीं अधजला शव... मुस्लिम कट्टरपंथियों के खौफ में ऐसा...

कहीं जीभ कटी लाश, तो कहीं अधजला शव… मुस्लिम कट्टरपंथियों के खौफ में ऐसा है पाकिस्तान के हिंदुओं का हाल

14 जुलाई को पाकिस्तान के सिंध के मिटियारी हाला में मोहन बागरी नामक हिंदू युवक का शव नदी से बरामद हुआ। सामाजिक कार्यकर्ता व वकील राहत ऑस्टिन ने इसपर वीडियो साझा की। उन्होंने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि मोहन को इस तरह से मारा गया है कि उनकी जीभ भी काट ली गई। अब परिवार......

पाकिस्तान में हिंदुओं पर अत्याचार की कहानियों का कोई अंत होता नहीं दिख रहा। पिछले दिनों कृष्ण मंदिर के नाम पर वहाँ कट्टरपंथियों की वास्तविक मानसिकता खुलेआम इंटरनेट पर देखने को मिली और अब कुछ घटनाएँ ऐसी सामने आई हैं जिन्हें सुनकर रूह काँप जाए।

दरअसल, 14 जुलाई को पाकिस्तान के सिंध के मिटियारी हाला में मोहन बागरी नामक हिंदू युवक का शव नदी से बरामद हुआ। सामाजिक कार्यकर्ता व वकील राहत ऑस्टिन ने इसपर वीडियो साझा की। 

उन्होंने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि मोहन को इस तरह से मारा गया है कि उनकी जीभ भी काट ली गई। अब परिवार पहले ही भूख के कारण तड़प रहा था। मगर अब उन्हें मोहन के दाह संस्कार की भी चिंता है। वीडियो में हम देख सकते हैं कि एक आदमी शव का कपड़ा उठाता है और वहाँ खड़ी भीड़ उसकी हालत देखकर तितर-बितर हो जाती है। व्यक्ति को शव पर कपड़ा दोबारा ढकना पड़ता है।

ऐसे ही 14 जुलाई को सिंध से एक और बर्बरता का मामला सामने आया। जानकारी के मुताबिक, उमरकोट के कुनरी में एक सुनील कुमार नाम के लड़के का शव रुई के बागान में बहुत बुरी अवस्था में पाया गया। शव की हालत ऐसी थी जैसे उसे बुरी तरह जलाकर मारा गया हो।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

तालिबान की मददगार पाकिस्तानी फौज, ढेर कर अफगान सेना ने दुनिया को दिखाए सबूत: भारत के बनाए बाँध को भी बचाया

अफगानिस्तान की सेना ने तालिबान को कई मोर्चों पर पीछे धकेल दिया है। उनकी मदद करने वाले पाकिस्तानी फौज से जुड़े कई लड़ाकों को भी मार गिराया है।

स्वतंत्र है भारतीय मीडिया, सूत्रों से बनी खबरें मानहानि नहीं: शिल्पा शेट्टी की याचिका पर बॉम्बे हाईकोर्ट

कोर्ट ने कहा कि उनका निर्देश मीडिया रिपोर्ट्स को ढकोसला नहीं बताता। भारतीय मीडिया स्वतंत्र है और सूत्रों पर बनी खबरें मानहानि नहीं है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,014FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe