Saturday, September 18, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'पैगंबर मोहम्मद पर कमेंट करने वाले गैर मुस्लिम (हिंदुओं) की सूची बनाओ, सबको जेल...

‘पैगंबर मोहम्मद पर कमेंट करने वाले गैर मुस्लिम (हिंदुओं) की सूची बनाओ, सबको जेल में डालो’ – जाकिर नाइक

"क्या उन्होंने इस्लाम या पैगंबर मोहम्मद के लिए अपशब्द कहे हैं या उन पर अनैतिक या अपमानजनक टिप्पणी की है? अगर गैर मुस्लिम (हिंदू) पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी करते हैं तो उन्हें जेल में बंद कर दिया जाए। इसके अलावा..."

अक्सर अपने बयानों के चलते विवादों और उन विवादों से पैदा होने वाली सुर्ख़ियों में बने रहने वाले जाकिर नाइक ने एक बार फिर कुछ ऐसा ही कहा है। इस बार जाकिर नाइक ने खाड़ी के देशों में रहने वाले गैर मुस्लिम (विशेष रूप से हिन्दू) लोगों पर बयान दिया है। बयान में उसका कहना है कि अगर खाड़ी के देशों में रहने वाले गैर मुस्लिम पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी करते हैं तो उन्हें जेल में बंद कर दिया जाए। इसके अलावा उसने वीडियो में यहाँ तक कहा है कि ऐसे लोगों का समुचित दस्तावेज़ (डाटा बेस) तैयार किया जाए, जो सोशल मीडिया पर इस तरह की टिप्पणी करते हैं। 

दरअसल फ्रांस में पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाने पर एक शिक्षक का गला काट कर हत्या के बाद जाकिर नाइक का यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होना शुरू हुआ। वीडियो इस साल के मई महीने में जारी किया गया था, जिसमें जाकिर नाइक ने भारत के हिंदुओं और पूर्वी देशों में रहने वाले हिंदुओं के लिए अनेक नफ़रत भरी बातें कही थीं। जाकिर नाइक ने वीडियो में कहा कि खाड़ी के देशों में रहने वाले एक वकील ने जेनेवा में एक शिकायत दर्ज कराई थी। इस याचिका में वकील ने पूछा कि अगर पैगंबर मोहम्मद पर कोई गैर मुस्लिम टिप्पणी करता है तो उसके लिए क्या करना चाहिए?

इसके बाद जाकिर नाइक ने कहा, “उस वकील के लिए मेरा सुझाव है कि अगली बार अगर वह (हिन्दू) किसी भी खाड़ी के देश में वापसी करते हैं, चाहे वह कुवैत हो, सऊदी अरब हो या इंडोनेशिया हो। इस बात की विशेष रूप से निगरानी की जानी चाहिए कि क्या उन्होंने इस्लाम या पैगंबर मोहम्मद के लिए अपशब्द कहे हैं या उन पर अनैतिक या अपमानजनक टिप्पणी की है। सबसे पहले ऐसे लोगों के विरुद्ध शिकायत दर्ज की जानी चाहिए और इसके बाद उन्हें जेल में बंद कर देना चाहिए। इन लोगों के लिए इससे बेहतर कोई और सज़ा नहीं हो सकती है।” 

वीडियो के अगले हिस्से में जाकिर नाइक ने और भी अप्रत्याशित बातें कही। जाकिर ने कहा

“इस बात की जानकारी सार्वजनिक रूप से देनी चाहिए कि हमारे पास ऐसे लोगों के नाम का दस्तावेज़ है लेकिन उनका नाम गुप्त रखा जाए। जैसे ही वह खाड़ी के देशों में वापस आएँ वैसे ही उनकी गिरफ्तारी हो और उन्हें अदालत के सामने पेश किया जाए। फिर कार्रवाई पूरी करके उचित दंड दिया जाए। मेरा भरोसा करिए, ज़्यादातर लोग भारतीय जनता पार्टी के समर्थक हैं और इस्लाम के विरुद्ध घृणा का माहौल बना रहे हैं, वह डर कर रहेंगे। इससे हम इस्लाम और पैगंबर मोहम्मद पर होने वाली टिप्पणियों पर रोक लगाने में सक्षम होंगे। जैसे ही 5-10 लोगों पर इस तरह की कार्रवाई होगी, वैसे ही टिप्पणियाँ बंद हो जाएँगी क्योंकि ज़्यादातर गैर मुस्लिम खाड़ी के देशों में यात्रा करते हैं।”         

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘फर्जी प्रेम विवाह, 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का यौन शोषण व उत्पीड़न’: केरल के चर्च ने कहा – ‘योजना बना कर हो रहा...

केरल के थमारसेरी सूबा के कैटेसिस विभाग ने आरोप लगाया है कि 100 से अधिक ईसाई लड़कियों का फर्जी प्रेम विवाह के नाम पर यौन शोषण किया गया।

डॉ जुमाना ने किया 9 बच्चियों का खतना, सभी 7 साल की: चीखती-रोती बच्चियों का हाथ पकड़ लेते थे डॉ फखरुद्दीन व बीवी फरीदा

अमेरिका में मुस्लिम डॉक्टर ने 9 नाबालिग बच्चियों का खतना किया। सभी की उम्र 7 साल थी। 30 से अधिक देशों में है गैरकानूनी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,947FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe