Thursday, September 23, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीययुवती ने ठुकराया प्रेम प्रस्ताव तो मोहम्मद आलम ने फिकवाया तेजाब, पीड़िता ने कहा-...

युवती ने ठुकराया प्रेम प्रस्ताव तो मोहम्मद आलम ने फिकवाया तेजाब, पीड़िता ने कहा- मैं उसे भाई समझती थी, दोनों आरोपित गिरफ्तार

आलम से जब पूछताछ हुई तो उसने बताया कि उसने पबित्रा पर तेजाब इसलिए फिंकवाया क्योंकि उसने उसका प्रेम नहीं स्वीकारा था और उसे नकार दिया था। इसलिए उसने मुन्ना से कहकर ये करवाया। इसी बीच पीड़िता ने अपने दिए बयान में पुलिस को कहा, “मुझे नहीं पता था आलम मुझसे प्रेम करता है। मेरे लिए तो वो भाई जैसा था।”

नेपाल में एक भारतीय को काठमांडू के सीतापला में 22 वर्षीय लड़की पर तेजाब फेंकने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। मुन्ना मोहम्मद ने अपने नियोक्ता मोहम्मद आलम के इशारे पर महिला पर हमला किया था। जो नेपाल का नागरिक है। पीड़ित महिला का काठमांडू के कीर्तिपुर अस्पताल में इलाज चल रहा है। जहाँ उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है।

आलम से जब पूछताछ हुई तो उसने बताया कि उसने पबित्रा पर तेजाब इसलिए फिंकवाया क्योंकि उसने उसका प्रेम नहीं स्वीकारा था और उसे नकार दिया था। इसलिए उसने मुन्ना से कहकर ये करवाया। इसी बीच पीड़िता ने अपने दिए बयान में पुलिस को कहा, “मुझे नहीं पता था आलम मुझसे प्रेम करता है। मेरे लिए तो वो भाई जैसा था।”

वहीं पूछताछ के दौरान मुन्ना मोहम्मद ने पुलिस से गिड़गिड़ाते हुए कहा कि उसे उस समय पता नहीं था कि बोतल में एसिड है। उसने कहा,

“बॉस ने मुझे महिला पर इसे फेंकने के लिए कहा था। यह एक शराब की बोतल थी, इसलिए मुझे लगा कि इसमें शराब है। लेकिन, बोतल को पकड़ने के बाद मुझे अपनी कलाई पर गरमाहट महसूस हुई, तब मुझे पता चला कि यह एसिड था। “बॉस ने फिर मुझे अपनी मोटरसाइकिल पर बैठाया और अपने वर्कशॉप में ले गए। उन्होंने मुझे इस काम के लिए एक पैसा नहीं दिया।”

दोनों आरोपित ने कथित तौर पर अपना अपराध कबूल कर लिया है। मामले की आगे की जाँच अभी चल रही है। फिलहाल दोनों आरोपित काठमांडू मेट्रोपॉलिटन पुलिस सर्कल की हिरासत में हैं।

गौरतलब है कि पीड़ित लड़की का चेहरा तेजाब पड़ने पर बुरी तरह झुलस गया है। पीड़िता की पहचान पबित्रा करकी के रूप में हुई है। पुलिस ने तेजाब फेंकने वाले भारतीय युवक मुन्ना मोहम्मद को घटना के दो घंटे में ही गिरफ्तार कर लिया था।

पुलिस ने बताया था कि मुन्ना ने पबित्रा पर कल रात करीब 8:45 बजे उस वक्त हमला किया था। जब वो अपने घर से बाहर निकली थी। गिरफ्तारी के वक्त मुन्ना का हाथ भी बुरी तरह से झुलसा हुआ था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

गुजरात के दुष्प्रचार में तल्लीन कॉन्ग्रेस क्या केरल पर पूछती है कोई सवाल, क्यों अंग विशेष में छिपा कर आता है सोना?

मुंद्रा पोर्ट पर ड्रग्स की बरामदगी को लेकर कॉन्ग्रेस पार्टी ने जो दुष्प्रचार किया, वह लगभग ढाई दशक से गुजरात के विरुद्ध चल रहे दुष्प्रचार का सबसे नया संस्करण है।

‘मुंबई डायरीज 26/11’: Amazon Prime पर इस्लामिक आतंकवाद को क्लीन चिट देने, हिन्दुओं को बुरा दिखाने का एक और प्रयास

26/11 हमले को Amazon Prime की वेब सीरीज में मु​सलमानों का महिमामंडन किया गया है। इसमें बताया गया है कि इस्लाम बुरा नहीं है। यह शांति और सहिष्णुता का धर्म है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,816FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe