Sunday, September 26, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमरान खान को नहीं है प्रोटोकॉल और नियम की तमीज़, सऊदी ने रद की...

इमरान खान को नहीं है प्रोटोकॉल और नियम की तमीज़, सऊदी ने रद की कैबिनेट मीटिंग

पाकिस्तानी पत्रकार नायला इनायत ने पाकिस्तानी सेना की कथित 'पीएम सेलेक्शन कमेटी' को सलाह दी कि आगे से वे जिसे भी पीएम चुनें, उसे कम-से-कम प्रोटोकॉल के नियम सिखा दें।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की एक ‘बेहूदा’ हरकत की वजह से उनके देश को अंतरराष्ट्रीय शर्मिंदगी और कूटनीतिक झटके का सामना करना पड़ रहा है। सऊदी के राजा किंग सलमान से अपनी बात अधूरी छोड़ इमरान आगे चल दिए। बताया जा रहा है कि इसके बाद किंग सलमान और उनकी कैबिनेट के साथ इमरान की बैठक रद्द कर दी गई।

अपनी बात कहकर चल पड़े इमरान, देखते रह गए अनुवादक और किंग सलमान

सोशल मीडिया पर चल रहे वीडियो के अनुसार इमरान खान सऊदी के दरबार में पहुँचे और किंग सलमान से उन्होंने कुछ बोला। अभी किंग सलमान का जवाब देना तो दूर, उनके शाही अनुवादक ने इमरान की बात का अनुवाद भी नहीं किया था कि पाकिस्तानी पीएम ने सर हिलाकर उन दोनों को इशारा किया और चल पड़े। किंग सलमान और उनके अनुवादक देखते रह गए।

इस पर पाकिस्तानी पत्रकार नायला इनायत ने पाकिस्तानी सेना की कथित ‘पीएम सेलेक्शन कमेटी’ को सलाह दी कि आगे से वे जिसे भी पीएम चुनें, उसे कम-से-कम प्रोटोकॉल के नियम सिखा दें। यह आम धारणा है पाकिस्तानी पीएम इमरान खान के बारे में कि उनका जनता ने निर्वाचन नहीं बल्कि सेना ने ‘चुनाव’ किया था, पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को सत्ता से दूर रखने के लिए।

सोशल मीडिया पर पाकिस्तानी ही ले रहे मजे

इमरान खान की इस हरकत पर पाकिस्तानी ही उनके सबसे ज्यादा मजे ले रहे हैं।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

राकेश टिकैत ने कृषि कानून वापस नहीं लेने पर चुनावी राज्यों में मोर्चा खोलने की केंद्र को दी धमकी, 27 सितंबर को भारत बंद...

कॉन्ग्रेस, आम आदमी पार्टी और आंध्र प्रदेश सरकार ने 27 सितंबर को बुलाए गए ‘भारत बंद’ का पूर्ण समर्थन किया है। वाम दलों और तेलुगू देशम पार्टी ने पहले ही समर्थन देने की घोषणा की है।

अंग्रेजों ने कैसे भारतीय महिलाओं को बनाया ‘सेक्स स्लेव’: 12-15 महिलाएँ 1000 ब्रिटिश सैनिकों की पूरी रेजिमेंट को देती थीं सेवाएँ

ब्रिटिश शासन में सैनिकों के लिए भारतीय महिलाओं को सेक्स स्लैव बनाया गया था। 12-15 महिलाएँ 1,000 सैनिकों को देती थीं सेवाएँ।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
124,542FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe