Wednesday, January 27, 2021
Home विविध विषय मनोरंजन 'इस जैसे इंसान की फिल्म नहीं देखेंगे': प्रकाश राज को कास्ट किए जाने के...

‘इस जैसे इंसान की फिल्म नहीं देखेंगे’: प्रकाश राज को कास्ट किए जाने के बाद ‘KGF2’ का बॉयकॉट करने अपील

हिंदू धर्म के प्रति बेहद घृणित विचारों के लिए भी प्रकाश राज को जाना जाता है। पिछले साल प्रकाश राज ने चाइल्ड पोर्न के साथ 'रामलीला' की तुलना की थी। इस पर काफी बवाल हुआ था। उन्होंने यह भी दावा किया था कि इस तरह के आयोजनों से अल्पसंख्यकों के मन में डर पैदा होता है।

ब्लॉकबस्टर कन्नड़ फिल्म केजीएफ के निर्माताओं ने पिछले हफ्ते घोषणा की थी कि उन्होंने कोरोनोवायरस के कारण रुकी फिल्म के सीक्वल की शूटिंग फिर से शुरू कर दी है।

इस बात की जानकारी ‘केजीएफ चैप्टर 2’ निर्माता विजय किरगंदुर ने ट्विटर के जरिए दी। उन्होंने कहा ‘केजीएफ 2’ की शूटिंग दुबारा से शुरू किया जा रहा है। साथ ही उन्होंने अभिनेता प्रकाश राज का भी स्वागत किया। निर्माताओं के अनुसार प्रकाश राज फिल्म में एक महत्वपूर्ण किरदार निभाने वाले है।

हमेशा विवाद में घिरे रहने वाले अभिनेता प्रकाश राज को आगामी फ़िल्म KGF-2 में कास्ट करने की जानकारी निर्माताओं द्वारा दिए जाने के बाद कर्नाटक सहित कई जगहों पर इस बात का विरोध दर्ज करते हुए लोगों ने काफी हंगामा किया।

फ़िल्म को सपोर्ट करने और इसे ब्लॉकबस्टर बनाने वाले कई सोशल मीडिया यूज़र्स ने प्रकाश राज जैसे विवादास्पद अभिनेता को फ़िल्म में कास्ट करने को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपनी निराशा व्यक्त करते हुए आपत्ति जताई है।

बता दें कि अभिनेता प्रकाश राज वामपंथी विचारधारा गिरोह के जाने-माने शख्शियत है। साथ ही उन्होंने समय-समय पर कन्हैया कुमार, उमर खालिद जैसे वामपंथी तत्वों का खुलकर समर्थन भी किया है। इसको लेकर वे काफी विवाद में रहे हैं।

हिंदू धर्म के प्रति बेहद घृणित विचारों के लिए भी प्रकाश राज को जाना जाता है। पिछले साल प्रकाश राज ने चाइल्ड पोर्न के साथ ‘रामलीला‘ की तुलना की थी। इस पर काफी बवाल हुआ था। उन्होंने यह भी दावा किया था कि इस तरह के आयोजनों से अल्पसंख्यकों के मन में डर पैदा होता है।

सोशल मीडिया यूज़र्स विशेषकर कर्नाटक के रहने वाले (जो प्रकाश राज के तमिल समर्थक विचारों की वजह से उनसे नफ़रत करते है) लोगों ने KGF-2 में प्रकाश राज को कास्ट करने वाले फैसले को जानने के बाद फ़िल्म का बॉयकॉट करने का आह्वान किया है।

प्रकाश राज की उपस्थिति ने प्रशंसकों को निराश कर दिया है। जिस वजह से उन्होंने अब फिल्म नहीं देखने का संकल्प लिया है। एक फैन ने ट्विटर पर यह लिखते हुए फ़िल्म का बहिष्कार किया कि हम इस जैसे इंसान (प्रकाश राज) को फ़िल्म में लेने की वजह से इसे नहीं देखेंगे।

एक अन्य सोशल मीडिया यूजर ने फिल्म के निर्देशक प्रशांत नील से ’कायर’ प्रकाश राज को फिल्म केजीएफ-2 से हटाने का अनुरोध किया और ऐसा नहीं करने पर दुष्परिणाम की चेतावनी भी दी।

सोशल मीडिया यूज़र्स ने न केवल प्रकाश राज को शामिल करने के फैसले के खिलाफ विरोध किया, बल्कि संजय दत्त को लेकर भी कहा कि कैसे फिल्म निर्माताओं ने संजय दत्त को फिल्म में कास्ट किया, जिन्हें हथियार अवैध तरीके से रखने के लिए दोषी ठहराया गया था।

कन्नाडिगा सोशल मीडिया यूजर ने, विभिन्न राज्यों के प्रशंसकों से यह कहते हुए फिल्म का बहिष्कार करने का आग्रह किया कि ऐसी फिल्म देखने लायक नहीं है, जिसमें देश विरोधी अभिनेता शामिल है।

फिल्म के मुख्य अभिनेता यश के प्रशंसक नागेश नाम के एक यूजर ने कहा कि वह अभिनेता के प्रशंसक होने के बावजूद फिल्म का बहिष्कार करेंगे। यूजर ने कहा कि धर्म और राष्ट्र सबसे ऊपर हैं। साथ ही प्रकाश राज को हटाने की माँग की।

इससे पहले ऐसी भी खबरें सामने आई थी कि प्रकाश राज ने फ़िल्म में अनुभवी अभिनेता अनंत नाग का स्थान लिया है। अनंत ने केजीएफ के पहले पार्ट में कथाकार की भूमिका निभाई थी। इसने भी फैन्स के अंदर नाराजगी पैदा कर दी थी। इस विवाद के बढ़ने के बाद डायरेक्टर प्रशान्त नील ने बाद में स्पष्ट किया कि प्रकाश राज ने अनंत नाग की जगह नहीं ली थी। राज को एक अलग कैरेक्टर में होंगे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

 

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लाइव TV में दिख गया सच तो NDTV ने यूट्यूब वीडियो में की एडिटिंग, दंगाइयों के कुकर्म पर रवीश की लीपा-पोती

हर जगह 'किसानों' की थू-थू हो रही, लेकिन NDTV के रवीश कुमार अब भी हिंसक तत्वों के कुकर्मों पर लीपा-पोती करके उसे ढकने की कोशिशों में लगे हैं।

अब पूरे देश में ‘किसान’ करेंगे विरोध प्रदर्शन, हिंसा के लिए माँगी ‘माफी’… लेकिन अगला निशाना संसद को बताया

दिल्ली में हुई हिंसा पर किसान नेता 'गलती' मान रहे लेकिन बेशर्मी से बचाव भी कर रहे और पूरे देश में विरोध प्रदर्शन की बातें कर रहे।

लहराया गया खालिस्तानी झंडा, लगे भारत विरोधी नारे: वॉशिंगटन में किसान समर्थन की आड़ में खालिस्तान की माँग

वॉशिंगटन में खालिस्तानी समर्थकों ने कहा कि वह अब तक 26 जनवरी को काला दिन मना रहे थे, लेकिन इस बार एकजुटता में खड़े हैं।

ट्रैक्टर पलटने के बाद जिंदा था ‘किसान’, प्रदर्शनकारी अस्पताल नहीं ले गए… न पुलिस को ले जाने दिया: ‘Times Now’ का खुलासा

उक्त 'किसान' ट्रैक्टर से स्टंट मारते हुए पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ रहा था, लेकिन अपनी ही ट्रैक्टर पलटने के कारण खुद उसके नीचे आ गया और मौत हो गई।

11.5% की आर्थिक वृद्धि दर, 2021 में भारत के लिए IMF का अनुमान: एकमात्र बड़ा देश, जो बढ़ेगा दहाई अंकों के साथ

IMF ने भारत की अर्थव्यवस्था को 2021-22 में 11.5 प्रतिशत तक उछाल देने का अनुमान लगाया। वर्ल्ड इकॉनमिक आउटलुक रिपोर्ट में...

153 पुलिसकर्मी घायल, 7 FIR दर्ज: किसी का सर फटा तो कोई ICU में, राकेश टिकैत ने पुलिस को ही दिया दोष

दिल्ली पुलिस ने 'किसानों' द्वारा हुई हिंसा के मामलों को लेकर 7 FIR दर्ज की है। दिन भर चले हिंसा के इस खेल में 153 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

दिल्ली में ‘किसानों’ ने किया कश्मीर वाला हाल: तलवार ले पुलिस को खदेड़ा, जगह-जगह तोड़फोड़, पुलिस वैन पर पथराव

दिल्ली में प्रदर्शनकारी पुलिस के वज्र वाहन पर चढ़ गए और वहाँ जम कर तोड़-फोड़ मचाई। 'किसानों' द्वारा तलवारें भी भाँजी गईं।

महिला पुलिस कॉन्स्टेबल को जबरन घेर कर कोने में ले गए ‘अन्नदाता’, किया दुर्व्यवहार: एक अन्य जवान हुआ बेहोश

महिला पुलिस को किसान प्रदर्शनकारी चारों ओर से घेरे हुए थे। कोने में ले जाकर महिला कॉन्स्टेबल के साथ दुर्व्यवहार किया गया।

तेज रफ्तार ट्रैक्टर से मरा ‘किसान’, राजदीप ने कहा- पुलिस की गोली से हुई मौत, फिर ट्वीट किया डिलीट

राजदीप सरदेसाई ने तिरंगे में लिपटी मृतक की लाश की तस्वीर अपने ट्विटर अकाउंट से शेयर करते हुए लिखा कि इसकी मौत पुलिस की गोली से हुई है।

दलित लड़की की हत्या, गुप्तांग पर प्रहार, नग्न लाश… माँ-बाप-भाई ने ही मुआवजा के लिए रची साजिश: UP पुलिस ने खोली पोल

बाराबंकी में दलित युवती की मौत के मामले में पुलिस ने बड़ा खुलासा किया। पुलिस ने बताया कि पिता, माँ और भाई ने ही मिल कर युवती की हत्या कर दी।

हिंदुओं को धमकी देने वाले के अब्बा, मोदी को 420 कहने वाले मौलाना और कॉन्ग्रेस नेता: ‘लोकतंत्र की हत्या’ गैंग के मुँह पर 3...

पद्म पुरस्कारों में 3 नाम ऐसे हैं, जो ध्यान खींच रहे- मौलाना वहीदुद्दीन खान (पद्म विभूषण), तरुण गोगोई (पद्म भूषण) और कल्बे सादिक (पद्म भूषण)।

रस्सी से लाल किला का गेट तोड़ा, जहाँ से देश के PM देते हैं भाषण, वहाँ से लहरा रहे पीला-काला झंडा

किसान लाल किले तक घुस चुके हैं और उन्होंने वहाँ झंडा भी फहरा दिया है। प्रदर्शनकारी किसानों ने लाल किले के फाटक पर रस्सियाँ बाँधकर इसे गिराने की कोशिश भी कीं।
- विज्ञापन -

 

‘गणतंत्र किसी के बाप की जागीर है, ट्रैक्टर रोके तो बकल उतार दिए जाएँगे, बैरिकेड्स तोड़ेंगे’: टिकैत और चढूनी ने खुलेआम दी थी धमकी

"अगर किसी ने रोका तो उसकी बकल उतार दी जाएगी। कौन रोकेगा ट्रैक्टर को? कोई नहीं रोकेगा। खबरदार जो किसी ने भी ट्रैक्टर को रोका।"

लाइव TV में दिख गया सच तो NDTV ने यूट्यूब वीडियो में की एडिटिंग, दंगाइयों के कुकर्म पर रवीश की लीपा-पोती

हर जगह 'किसानों' की थू-थू हो रही, लेकिन NDTV के रवीश कुमार अब भी हिंसक तत्वों के कुकर्मों पर लीपा-पोती करके उसे ढकने की कोशिशों में लगे हैं।

26 जनवरी के दिन ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ और ‘कश्मीर वापस लेंगे’ के नारे: अरशद, इमरान समेत 4 गिरफ्तार

आरोपित देश विरोधी बातें कर रहे थे, पहले उन सबको ऐसा करने से मना किया। लेकिन बात मानने की बजाय युवकों ने मारपीट शुरू कर दी।

अब पूरे देश में ‘किसान’ करेंगे विरोध प्रदर्शन, हिंसा के लिए माँगी ‘माफी’… लेकिन अगला निशाना संसद को बताया

दिल्ली में हुई हिंसा पर किसान नेता 'गलती' मान रहे लेकिन बेशर्मी से बचाव भी कर रहे और पूरे देश में विरोध प्रदर्शन की बातें कर रहे।

अब्दुल ने 14 साल की लड़की से रेप किया, वीडियो भी बनाया… उसका अब्बा धर्म परिवर्तन कर निकाह के लिए बनाया दबाव

अब्दुल रहमान उर्फ गोलू व उसके पिता कलीम को बलिया शहर कोतवाली क्षेत्र के रेलवे स्टेशन के पास गिरफ्तार किया गया। पुलिस के मुताबिक दोनों...

राजस्थान में महादेव मंदिर के 75 वर्षीय सेवादार की हत्या: हाथ-पाँव रस्सी से बँधे, मुँह में ठूँस डाला था कपड़ा

75 वर्षीय वृद्ध सेवादार गिरिराज मेहरा की हत्या कर दी गई। जयपुर के सोडाला इलाके में राकड़ी स्थित मेहरा समाज के राकेश्वर महादेव मंदिर की घटना।

लहराया गया खालिस्तानी झंडा, लगे भारत विरोधी नारे: वॉशिंगटन में किसान समर्थन की आड़ में खालिस्तान की माँग

वॉशिंगटन में खालिस्तानी समर्थकों ने कहा कि वह अब तक 26 जनवरी को काला दिन मना रहे थे, लेकिन इस बार एकजुटता में खड़े हैं।

ट्रैक्टर पलटने के बाद जिंदा था ‘किसान’, प्रदर्शनकारी अस्पताल नहीं ले गए… न पुलिस को ले जाने दिया: ‘Times Now’ का खुलासा

उक्त 'किसान' ट्रैक्टर से स्टंट मारते हुए पुलिस बैरिकेडिंग तोड़ रहा था, लेकिन अपनी ही ट्रैक्टर पलटने के कारण खुद उसके नीचे आ गया और मौत हो गई।

11.5% की आर्थिक वृद्धि दर, 2021 में भारत के लिए IMF का अनुमान: एकमात्र बड़ा देश, जो बढ़ेगा दहाई अंकों के साथ

IMF ने भारत की अर्थव्यवस्था को 2021-22 में 11.5 प्रतिशत तक उछाल देने का अनुमान लगाया। वर्ल्ड इकॉनमिक आउटलुक रिपोर्ट में...

153 पुलिसकर्मी घायल, 7 FIR दर्ज: किसी का सर फटा तो कोई ICU में, राकेश टिकैत ने पुलिस को ही दिया दोष

दिल्ली पुलिस ने 'किसानों' द्वारा हुई हिंसा के मामलों को लेकर 7 FIR दर्ज की है। दिन भर चले हिंसा के इस खेल में 153 पुलिसकर्मी घायल हो गए हैं।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
80,695FollowersFollow
386,000SubscribersSubscribe