370 हटाकर भाजपा सरकार ने मुसलमानों के खिलाफ किया जंग का ऐलान: ज़ाकिर नाइक

उसने लिबरल-गैंग के 'कश्मीरी लड़कों को हिरासत में लेकर गायब किया जा रहा है', 'उन्हें यातनाएँ दी जा रहीं हैं' के झूठ को भी दोहराया। नाइक का प्रोपेगंडा इस हद तक पहुँच गया कि उसने कश्मीर की स्थिति की तुलना फिलिस्तीन से कर दी।

भड़काऊ इस्लामी प्रचारक ज़ाकिर नाइक ने एक बार फिर भारत के खिलाफ ज़हर उगला है। इस बार उसके निशाने पर कश्मीर से अनुच्छेद 370 का हटाया जाना है। इसे नाइक ने “भाजपा सरकार का मुसलमानों के खिलाफ जंग का ऐलान” करार दिया है

कश्मीर मुस्लिम-बहुल था, इसीलिए किया

नाइक का दावा है कि भाजपा सरकार ने 370 हटाने का काम मुसलमानों को मज़हबी तौर पर निशाना बनाते हुए किया है। उसके मुताबिक यह भारत की सबसे बड़ी मुस्लिम आबादी के खिलाफ ‘act of war’ है, जिसे केवल इसलिए किया गया, क्योंकि कश्मीर के बहुसंख्यक मुस्लिम थे। उसने लिबरल-गैंग के ‘कश्मीरी लड़कों को हिरासत में लेकर गायब किया जा रहा है’, ‘उन्हें यातनाएँ दी जा रहीं हैं’ के झूठ को भी दोहराया। नाइक का प्रोपेगंडा इस हद तक पहुँच गया कि उसने कश्मीर की स्थिति की तुलना फिलिस्तीन से कर दी।

मलेशिया-कूटनीति से बौखलाया है

ज़ाकिर नाइक भारत में जिहाद के लिए मुसलमान युवाओं को उकसाने, आतंक के लिए मनी-लॉन्ड्रिंग जैसे कई संगीन मामलों में वांछित है। ढाका की एक बेकरी में 2016 में हुए जिहादी हमले से भी उसके तार जुड़ते हुए पाए गए थे। इसी सिलसिले में भारत मलेशिया पर, जहाँ नाइक फ़िलहाल छिपा बैठा है, उसे भारत प्रत्यर्पित करने के लिए कूटनीतिक दबाव बना रहा है। इसीलिए नाइक बौखला गया है। उसके मलेशिया में इस्लाम का प्रचार करने पर पहले ही पाबंदी लगाई जा चुकी है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

बीएचयू, वीर सावरकर
वीर सावरकर की फोटो को दीवार से उखाड़ कर पहली बेंच पर पटक दिया गया था। फोटो पर स्याही लगी हुई थी। इसके बाद छात्र आक्रोशित हो उठे और धरने पर बैठ गए। छात्रों के आक्रोश को देख कर एचओडी वहाँ पर पहुँचे। उन्होंने तीन सदस्यीय कमिटी गठित कर जाँच का आश्वासन दिया।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

114,578फैंसलाइक करें
23,209फॉलोवर्सफॉलो करें
121,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: