Wednesday, July 17, 2024
Homeविविध विषयअन्यजानिए कौन हैं सुधीर मेहता और समीर मेहता जो करेंगे ₹5000 करोड़ दान, पिता...

जानिए कौन हैं सुधीर मेहता और समीर मेहता जो करेंगे ₹5000 करोड़ दान, पिता की जन्म शताब्दी पर किया ऐलान

इस दान को टोरेंट समूह UNM फाउंडेशन को देगा। इसके बाद यह संगठन इस दान का प्रयोग आर्थिक रूप से कमजोर लोगों के स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा, पारिस्थितिकी और कला को बढ़ावा देने के लिए करेंगे।

टोरेंट ग्रुप को चलाने वाले अरबपति भाइयों सुधीर मेहता और समीर मेहता ने समूह के संस्थापक व अपने पिता उत्तमभाई नाथलाल पटेल की जन्म शताब्दी पर रविवार (31 मार्च 2024) को बड़ी घोषणा की। उन्होंने बताया कि उनके समूह ने सामाजिक कार्यों के लिए 5000 करोड़ रुपए दान करने का संकल्प लिया है।

यह योगदान टोरेंट समूह की कंपनियों के वैधानिक सीएसआर योगदान के अतिरिक्त करेंगे। इस दान का मैनेजमेंट UNM फाउंडेशन द्वारा किया जाएगा। वह इस दान का प्रयोग आर्थिक रूप से कमजोर लोगों की स्वास्थ्य देखभाल, शिक्षा के साथ-साथ पारिस्थितिकी और कला को बढ़ावा देने के लिए करेंगे।

बता दें कि फार्मास्युटिकल से लेकर पावर, गैस के क्षेत्र में जाना-माना ये समूह इस दान के साथ ही उस लिस्ट में शामिल हो गया है जिन्होंने सामाजिक परोपकार के लिए इतना बड़ा दान दिया हो। समूह द्वारा जारी की गई विज्ञप्ति में कहा गया है कि वो 1 अप्रैल से पाँच साल तक यूएनएम फाउंडेशन को 5,000 करोड़ रुपए यानी करीब 600 मिलियन डॉलर का दान देना शुरू करेंगे।

गौरतलब है कि टोरेंट के संस्थापक और अरबपति भाइयों के पिता उत्तमभाई नाथलाल पटेल ने साल 1959 में इस समूह की स्थापना की थी। आज के समय में ये एक बहुकराष्ट्रीय समूह है जो कि गुजरात के अहमदबादा में स्थित है। अब इस समूह को उत्तमभाई नाथलाल मेहता के बेटे सुधीर और समीर द्वारा चलाया जाता है।

शनिवार (30 मार्च 2024) को इन दोनों भाइयों ने अपने पिता की जन्म शताब्दी एक समारोह आयोजित करके मनाई। टोरेंट समूह के अध्यक्ष समीर मेहता ने इस मामले में कहा, “यूएनएम फाउंडेशन इस राशि का उपयोग अद्वितीय सामाजिक कार्य करने के लिए प्रयोग में लाएगा। बिन जाति, धर्म, लिंग देखे बिना आर्थिक स्तर से कमजोर लोगों को इसका लाभ दिया जाएगा।”

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

उद्योगपतियों के बाद कॉन्ग्रेस के ‘लोकल कोटा’ पर IT इंडस्ट्री भी भड़की, NASSCOM ने कहा- बिल वापस नहीं हुआ तो जाएँगे कर्नाटक से बाहर:...

IT कंपनी संगठन NASSCOM ने कर्नाटक सरकार से आरक्षण बिल को वापस लेने की माँग की है और कहा कि अगर ऐसा नहीं हुआ तो उन्हें बाहर जाना पड़ सकता है।

फेक एड्रेस पर बनवाया राशन कार्ड, फिर इसी कार्ड का इस्तेमाल कर लिया दिव्यांगता का सर्टिफिकेट: IAS पूजा खेडकर का एक और फ्रॉड आया...

महिला आईएएस के मामले में इतने खुलासे होने के बीच सामने आया है कि उनके परिवार की एक प्रॉपर्टी पर पुणे नगर निगम ने बुलडोजर चलाया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -