Monday, May 20, 2024

विषय

Success Story

नाना कर्नल, मेजर पिता ने देश के लिए दिया बलिदान, अब 23 की उम्र में भारतीय सेना में सेवा देने को तैयार है इनायत...

इनायत की माँ शिवानी ने बताया कि उस वक्त वह 27 साल की थीं और शादी को सिर्फ चार साल ही हुए थे, तभी उनके पति नवनीत वत्स जम्मू कश्मीर में बलिदान हो गए।

केरल का बीड़ी मजदूर, अमेरिका में जज बना: पत्नी के आने से बदली सुरेंद्रन के पटेल की किस्मत, हाउसकीपिंग से लेकर किराने की दुकान...

सुरेंद्रन ने टीचर्स से कहा था कि यदि परीक्षा में उनके अच्छे नंबर नहीं आए तो वह पढ़ाई छोड़ देंगे। हालाँकि, जब रिजल्ट आया तो वह टॉपर बने। आज वह टेक्सास के 240वें जज हैं।

डॉ. वर्गीज कुरियन: भारत में ‘ह्वाइट मनी’ की धारा बहाने वाला नायक, जिसने दिया ‘द टेस्ट ऑफ इंडिया’

26 नवंबर 1921 को कालीकट में पैदा हुए डॉ. वर्गीज कुरियन ने गुजरात के आनंद को कर्मभूमि बनाई। AMUL को दुनिया भर में एक ब्रांड… और भारत को डेयरी उत्पादन का नंबर #1 देश बनाया।

47 साल की माँ, 28 की बेटी… साथ जाती थीं कोचिंग, एक ही साथ मिली नौकरी

एन शांतिलक्ष्मी और उनकी बेटी आर तेनमोजी ने राज्य सेवा आयोग ग्रुप-4 की परीक्षा पास करके सरकारी नौकरी हासिल की है। शांतिलक्ष्मी की नियुक्ति स्वास्थ्य विभाग में हुई है जबकि तेनमोजी की नियुक्ति धर्मस्व विभाग में।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें