Saturday, October 23, 2021

भारत की बात

परमवीर सूबेदार जोगिंदर सिंह: जो बिना हथियार 200 चीनी सैनिकों से लड़े… पापा से प्यार इतना कि बलिदान पर बेटी का भी निधन

15 साल की उम्र में ब्रिटिश इंडियन आर्मी को ज्वॉइन कर लिया था सूबेदार जोगिंदर सिंह ने और सिख रेजीमेंट की पहली बटालियन का हिस्सा बन गए थे।

आजादी के लिए मणिपुर के 22 सेनानियों ने काटी थी कालापानी की सजा, गृहमंत्री अमित शाह ने दिया सम्मान, अंडमान का माउंट हैरियट अब...

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने स्वतंत्रता संग्राम में मणिपुर के उन सेनानियों को याद किया, जिन्होंने अंडमान में काटी थी कालापानी की सज़ा।

भाई तारू सिंह की उखाड़ ली गई थी खोपड़ी, 25000 सिखों का नरसंहार: बाबरी से 57 साल पहले लाहौर में ढहा था ‘ढाँचा’

पाकिस्तान सरकार और वहाँ के कट्टरपंथियों की साजिश है कि इस 'गुरुद्वारा शहीद गंज भाई तारू सिंह जी शहीदी स्थान' को मस्जिद में बदल दिया जाए।

मक्का में देखा सपना 4000 Km दूर पूरा किया: हिन्दू लड़की से निकाह करने वाला अरब का फकीर, जिसके कारण लक्षद्वीप में 98% मुस्लिम

प्राकृतिक सुंदरता का धनी लक्षद्वीप कैसे 98% मुस्लिम हो गया? क्या है शेख उबैदुल्लाह वाला इतिहास? जानिए नए सुधारों के विरोध के पीछे का अतीत।

हिंदू भजन ‘रघुपति राघव राजा राम’ में ‘अल्लाह’ जोड़ने के लिए गाँधी ने उसे कैसे किया था विकृत, जानिए

महात्मा गाँधी ने मुस्लिमों को खुश करने के लिए हिंदू धार्मिक भजन ‘रघुपति राघव राजा राम’ के बोल के साथ छेड़छाड़ की थी।

जानिए ‘राजपूत सम्राट मिहिर भोज’ को लेकर क्या कहता है इतिहास: जाति नहीं, क्षेत्र था गुर्जर?

सम्राट मिहिर भोज के क्षत्रिय होने के पीछे कौन से तथ्य व सबूत हैं, जिसके आधार पर उन्हें 'राजपूत' कहा जा सकता है, 'गुर्जर' नहीं? आइए, देखते हैं।

11वीं से 14वीं शताब्दी की 157 मूर्तियाँ-कलाकृतियाँ, चोर ले गए थे अमेरिका… PM मोदी वापस लेकर लौटे

अमेरिका द्वारा भारत को सौंपी गई कलाकृतियों में सांस्कृतिक पुरावशेष, हिंदू धर्म, बौद्ध धर्म, जैन धर्म से संबंधित मूर्तियाँ शामिल हैं।

मंदिर तोड़े, गाँव के गाँव मुस्लिम बना दिए, राजाओं का भी धर्मांतरण: बंद हो जिहादी सूफियों को ‘संत’ कहना, वामपंथियों ने किया गुणगान

उदाहरण से समझिए कि जिन सूफियों को 'संत' कहा गया, वो 'काफिरों के इस्लामी धर्मांतरण' के लिए आए थे। मंदिर तोड़े। सुल्तानों का काम आसान करते थे।

दूध की एक बूँद के लिए मर चुकी माँ के स्तन को चूस रही थी बच्ची: मोपला नरसंहार की एक कहानी, है अनगिनत

बच्ची दूध की एक बूँद के लिए अपनी मृत माँ के स्तन को चूस रही थी। नीलमपुर मानववेदन तिरुमुलपद के दूसरे राजा ने उसे गोद लिया और कमला नाम रखा।

100 साल पहले से ही हिन्दुओं के खून के प्यासे थे मोपला, इन 50 घटनाओं से समझिए: 1921 के हिन्दू नरसंहार से पहले की...

1921 में मोपला मुस्लिमों द्वारा हिन्दुओं के नरसंहार को बड़ी चालाकी से 'किसान विद्रोह' कह दिया गया। उससे पहले की 50 घटनाओं से समझिए सच्चाई।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
131,080FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe