Thursday, April 25, 2024

हास्य-व्यंग्य-कटाक्ष

संसद में स्प्रे करने वाले लौंडे का लाठी से नहीं हुआ ‘स्वागत’ इसलिए छटपटा रहे हैं RJD के ‘लठैत’: कुटाई पर लिबरल प्रलाप ‘दुख’...

जिनकी ट्रेनिंग ही लाठी वाले चरवाहा विद्यालय में हुई हो वे संसद में कूदने वाले लौंडे को झोंटा पकड़कर खींचने, मुक्का मारने, जूतियाने... को तो 'स्वागत' नहीं ही मानेंगे।

जिसकी जितनी संख्या भारी, उसकी उतनी भागीदारी: अब राबड़ी नहीं, रामरतिया का बेटा होगा राजद का नेता

राबड़ी देवी का पटना वाला घर। जातीय जनगणना के नंबर्स को लेकर मच गया बवाल। न बिहार पुलिस से हुआ काबू। न सैप से। जानिए फिर कैसे सुलझा विवाद।

रात ‘कुली’ एक ख्वाब में आया, आँख खुली तो बिल्ला पहन ‘बोझा’ उठाते पाया: बस 30 नंबर से चूक गए राहुल गाँधी; क्योंकि चच्चा...

'जननायक' राहुल गाँधी आज कुली अवतार में थे। बिल्ला नंबर 756 भी पहना। पहिए वाली जिस ट्रॉली को हम खींच ले जाते हैं उसे बोझा बनाकर सिर पर लाद भी लिया।

टिकैत नहीं, मैग्नेट के कारण गंगा में नहीं बहे मेडल: बजरंग-विनेश-साक्षी ने बताई ‘इनसाइड स्टोरी’, कहा- FIR के लिए सुप्रीम कोर्ट जाएँगे

बजरंग पुनिया, साक्षी मल्लिक और विनेश फोगाट ने एक साथ पहली बार इंटरव्यू दिया है। बताया है कि क्यों हरिद्वार में मुहुर्त बीत गया। गंगा में मेडल नहीं बहा।

खाली थिएटरों से ₹1000 करोड़ की कमाई के लिए ‘पठान’ को ऑस्कर, कालजयी डायलॉग ‘शिवा-शिवा’ के लिए ‘ब्रह्मास्त्र’ को भी अवॉर्ड: अंतिम समय में...

रोशनी, प्रकाश और लाइट का अंतर समझाने के लिए 'ब्रह्मास्त्र' को और खाली थिएटरों से हजारो करोड़ की कमाई करने के लिए 'पठान' को ऑस्कर अवॉर्ड।

पांडवों ने पाकिस्तान नहीं बनने दिया, धारा-370 नहीं लगाई, वर्शिप एक्ट लेकर नहीं आए: राहुल गाँधी की ‘महाभारत से भारत जोड़ो यात्रा’, दाढ़ी बढ़ने...

काश देश समय रहते जागरूक होता तो यात्रा कन्याकुमारी से लाहौर तक होती, कैलाश मानसरोवर तक होती, लेकिन तब हम अहिंसा की पूजा में व्यस्त थे।

लौं$! की औरत है: ‘सासंद’ अनंत सिंह ने ‘हरामी महुआ’ मामले में लिखी गालियों की नई परिभाषा

हरामी शब्द सुनते ही अनंत सिंह की तंद्रा टूटी। वो वीर रस में डूब संसद को संबोधित करने लगे। कई नई गालियाँ डिक्शनरी को मिलीं।

राहुल बाबा के पास मत फटकना डर, कहीं गर्मी में भी न पहनने लगें स्वेटर

राहुल बाबा को शायद पता नहीं है कि 52 की उम्र में ठंड से खिलवाड़ कितना भारी पड़ सकता है। बाथरूम जाते-जाते थक जाएँगे, पर पेट ठीक न होगा।

रिसर्च के लिए लैब भेजा जाएगा राहुल गाँधी का अमोघ वस्त्र, ‘हाथ’ की जगह सुपर ह्यूमन का ‘टीशर्ट’ होगा कॉन्ग्रेस का चुनाव चिह्न!

'अल्बर्ट पिंटो को गुस्सा क्यों आता है' है टाइप से 'राहुल गाँधी को ठंड क्यों नहीं लगती' वाला प्रश्न इस समय उफान पर है। या यूँ कहें कि कॉन्ग्रेसियों ने इसे जबरन एक जरूरी प्रश्न बना दिया है।

मैंने राहुल गाँधी के लिए ट्वीट किया, आधी रात घर पहुँच गई IB: मैंने इसे आपको बताने का फैसला किया है, क्योंकि मेरा चुप...

पहले मैंने सोचा था ये किसी को नहीं बताऊँगा। फिर रवीश कुमार की याद आई। वे अक्सर कहते हैं साहस की मंदी है। मैं इस मंदी को खत्म करना चाहता हूँ।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe