Monday, June 17, 2024
1 कुल लेख

Sneha

Just a girl next door. Movies, books and a little bit of politics. India first, always.

डर, दबाव और सब ठीक होने की उम्मीद…: आखिर क्यों कोई ‘श्रद्धा’ चाहकर भी नहीं छोड़ पाती किसी ‘आफताब’ को?

श्रद्धा वाकर की ऐसी तस्वीरें सोशल मीडिया पर हैं जिसमें उसके चेहरे पर पिटाई के निशान हैं। ये निशान सवाल करते हैं कि आखिर उसने आफताब को क्यों नहीं छोड़ा होगा?