Thursday, October 22, 2020
52 कुल लेख

Nupur J Sharma

Editor, OpIndia.com since October 2017

BARC भी पकड़ चुका है व्यूअरशिप में इंडिया टुडे की गड़बड़ी, ₹5 लाख जुर्माना भी लगाया था: एक्सक्लूसिव डिटेल

खुद को पाक-साफ दिखाने की कोशिश कर रहे इंडिया टुडे का नाम केवल 'टीआरपी स्कैम' की एफआईआर में ही नहीं है, उसे BARC भी दोषी पा चुका है।

दिल्ली दंगों की चार्जशीट में कपिल मिश्रा ‘व्हिसल ब्लोअर’ नहीं: साजिश से ध्यान हटाने के लिए मीडिया ने गढ़ा झूठा नैरेटिव

दंगों पर दिल्ली पुलिस की चार्जशीट में कपिल मिश्रा को 'व्हिसल ब्लोअर' नहीं बताया गया है। जानिए, मीडिया ने कैसे आपसे सच छिपाया।

16 दिसंबर को बस फूँका, 17 को हिंदुओं पर पथराव: दिल्ली दंगों में ताहिर हुसैन के बयान से नए खुलासे

ताहिर हुसैन के बयान से दिल्ली के हिंदू विरोधी दंगों को लेकर कुछ चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। कुछ ऐसे तथ्य सामने आए हैं जिससे अब तक सब अनजान थे।

फैक्ट चेकर गिरोह और वामपंथी पूर्वाग्रह में सना IFCN: जानिए, कैसे चल रहा दक्षिणपंथ को बदनाम करने का धंधा

कंचन कौर इसकी सिरमौर हैं। IFCN का सर्टिफिकेट उनको ही मिलता है, जो कंचन की राजनीतिक पूर्वाग्रह के अनुसार चलते हैं।

‘आज देख लेंगे हिंदुओं को… शाहरुख भाई वो रहा हिंदू, मारो साले को’: राजधानी स्कूल वाले फैजल फारुख पर चार्जशीट

फैजल फारुख। राजधानी स्कूल का मालिक। दिल्ली दंगों के दौरान हिंदुओं को निशाना बनाने के लिए क्या, कब और कैसे किया। सब कुछ है इस चार्जशीट में।

दिल्ली दंगे: मोहन नर्सिंग होम की आड़ में शाहिद की हत्या के लिए वामपंथी मीडिया ने हिंदुओं को ठहराया था दोषी

हिंदुओं द्वारा 'हिंदू विरोधी दंगों' की शुरुआत करने का कोई भी आरोप एक झूठ का पुलिंदा है। खासतौर से वामपंथी मीडिया ने सिर्फ अपना फेक नैरेटिव गढ़ने के लिए उस वक्त मोहन नर्सिंग होम की आड़ में मुस्लिम दंगाइयों को बचाने के लिए हिंदुओं को निशाना बनाया था।

‘कल सब आएँ और साथ में पत्थर, डंडे, रॉड लाएँ’: सफूरा जरगर और उसके साथियों के गुप्त बैठकों की डिटेल

कॉन्स्टेबल रतन लाल की हत्या की चार्जशीट बताती है कि किस तरह सफूरा जरगर जैसों ने दिल्ली दंगों पूरी साजिश रची थी।

माफ़ कर दीजिए, मुझसे गलती हो गई: ताहिर हुसैन ने कबूला- हिन्दुओं को सबक सिखाना चाहता था, घर को बनाया था लॉन्चपैड

ताहिर हुसैन ने जानकारी दी कि उसने मुस्लिम भीड़ को अपनी छत पर खड़े होकर गोलीबारी और पत्थरबाजी करने को कहा क्योंकि उसे लगता था कि उसका घर ऊँचा है तो वो हिंदुओं को आसानी से निशाना बना सकता है। उसने कबूल किया है कि भीड़ पेट्रोल बम लेकर आई थी।

हमसे जुड़ें

272,571FansLike
78,979FollowersFollow
336,000SubscribersSubscribe